Submit your post

Follow Us

खुद की जान देकर पिता ने तीन बच्चों को बचा लिया

446
शेयर्स

मध्य प्रदेश में बारिश और बाढ़ ने लोगों की मुसीबत बढ़ा दी है. भोपाल के कई निचले इलाके पानी में डूब गए हैं. 2016 के बाद पहली बार कोलार डैम के गेट खोलने पड़े हैं. बाढ़ और बारिश की वजह से एक हादसा भी सामने आया है. अपने बच्चों को बचाने में एक पिता ने अपनी जान गंवा दी. एक पिता अपने तीन बच्चों और पत्नी के साथ पिकनिक मनाने गए थे. परिवार घर लौटा, लेकिन पिता नहीं लौटे. डूबने से उनकी मौत हो गई.

रिज़वान खान. 35 साल के थे. पेशे से बस ड्राइवर थे. 10 सितंबर को वह अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ कोलार डैम के पास बोरदा गांव में पिकनिक मनाने गए थे. यहां एक पिकनिक स्पॉट है. नाम है बाबा झिरी. रिज़वान अपने तीनों बच्चों के साथ यहां पानी में खेल रहे थे. मस्ती कर रहे थे. तेज बारिश की वजह से शाम करीब 4 बजे जलस्तर तेजी से बढ़ने लगा. वह अपने दो बच्चों को लेकर किनारे की ओर भागे. दोनों बच्चों को सुरक्षित जगह पहुंचाने के बाद तीसरे बेटे को बचाने के लिए वापस आए. तब तक पानी का बहाव और तेज हो गया था. पानी कमर तक आ गया था. लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी. नुकीले पत्थरों पर चलते हुए बेटे को किनारे तक पहुंचा दिया. लेकिन उनका पैर फिसला और वह पानी के तेज बहाव में बह गए. पत्नी अपने पति को अपनी आंखों के सामने मौत के मुंह में समाते देख रही थी. लेकिन कुछ नहीं कर पाई.

पुलिस को जानकारी दी गई. हादसे के बाद गांववाले भी जमा हो गए. लेकिन पानी का बहाव इतना तेज था कि पानी में उतरने की किसी की हिम्मत नहीं हुई. पुलिस और नगर निगम की टीम ने मिलकर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया. शाम करीब 7 बजे रिज़वान का शव चट्टान में फंसा मिला. शव को पोस्टमार्टम के लिए हमीदिया अस्पताल भेजा गया. पुलिस ने इस मामले में हादसे की वजह से मौत का केस दर्ज किया है.

सीएसपी भूपिंदर सिंह ने बताया, पानी में फंसे अपने बच्चों को रिजवान ने किनारे पहुंचाया. लेकिन इससे पहले कि वह सुरक्षित जगह पर पहुंच पाते, अचानक तेज बहाव आया. रिजवान का दाहिना पैर एक चट्टान के नीचे फंस गया. उन्होंने मदद मांगी. इससे पहले कि उन तक मदद पहुंचती पानी का तेज बहाव आया. पत्थर सहित रिजवान को बहाकर ले गया.


ओ तेरी! तमिलनाडु में आसमान से गिरी ये अजीबोगरीब चीज़ क्या थी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दिग्विजय सिंह बोले, 'मंदिर में भगवा कपड़े पहने हुए लोग रेप कर रहे हैं'

सीएम कमलनाथ की मौजूदगी में साधुओं से मिले.

बीच सुनवाई चीफ जस्टिस बोले- जरूरत पड़ी तो खुद श्रीनगर जाऊंगा

आर्टिकल 370, जम्मू-कश्मीर के हालात पर सुनवाई चल रही थी.

चंद्रयान की लैंडिंग की रात मोदी बेचैनी में क्या-क्या कर रहे थे? पता चल गया

एक-एक मिनट का हिसाब दे दिया है.

आंध्र प्रदेश : 61 सवारियों को लेकर नाव गोदावरी नदी में डूब गयी

क्या था नाव के डूबने का कारण?

छात्राओं के कपड़ों में हाथ डालने और यौन शोषण के आरोपी प्रोफ़ेसर को BHU ने बुला लिया, अब बवाल हो गया

BHU ने कहा, प्रोफेसर के खिलाफ इससे ज्यादा कुछ नहीं कर सकती है यूनिवर्सिटी.

इसरो चेयरमैन को गले लगाकर मोदी क्या फुसफुसाए? पता चल गया

क्या चंद्रयान - 3 मिशन भी आने वाला है?

नासा ने बताया कि इसरो के चंद्रयान से कनेक्शन कहां फंसा हुआ है?

चंद्रयान को बस ये एक काम करना है.

इसरो के चंद्रयान को लेकर नासा ने ये बड़ी खबर दे दी है

चंद्रयान से सम्पर्क कैसे होगा?

राजस्थान में गैंगस्टर को साथियों ने जैसे छुड़ाया, वैसा तो बस साउथ की फिल्मों में होता है

पुलिस को नहीं पता था कि किसे पकड़ा है. जब गैंग ने हमला किया, तब कुछ पुलिसवाले सो रहे थे. कुछ नहा रहे थे.

नयी सरकार में निवेशकों के 12.5 लाख करोड़ रुपए डूब गए

ये नुकसान किस खाते में जाएगा?