Submit your post

Follow Us

IIPM से जुड़ाव को लेकर फंस गए हैं शाहरुख खान

इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ प्लानिंग ऐंड मैनेजमेंट. शॉर्ट में, IIPM. शाहरुख खान का इस विवादित संस्थान से क्या और कैसा रिश्ता है? इस सवाल का जवाब मांगा है कलकत्ता हाई कोर्ट ने. शाहरुख इस संस्थान के लिए कई विज्ञापन कर चुके हैं. IIPM के कामकाज पर 2015 में ही रोक लग गई थी. संस्थान पर भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी, सैकड़ों छात्रों को गुमराह करने जैसे गंभीर आरोप हैं. अब अदालत ने शाहरुख से एक हलफ़नामा दायर कर ये स्पष्ट करने को कहा है कि वो IIPM के साथ किस तरह जुड़े थे. मतलब उनका इस संस्थान से कैसा लिंक था, ये साफ करें.

IIPM के दो छात्रों ने कोर्ट में एक याचिका डाली थी. इस याचिका में दावा किया गया है कि शाहरुख खान को विज्ञापनों में IIPM को प्रमोट करते हुए देखकर ही उन्होंने इस संस्थान में दाखिला लिया था. छात्रों के वकील दीपांजन दत्त ने अदालत के आगे दावा किया कि शाहरुख खान IIPM के ब्रैंड ऐंबसेडर थे. उन्होंने कोर्ट से मांग की है कि बतौर IIPM के ब्रैंड ऐंबसेडर शाहरुख खान की भूमिकी की जांच हो. और जांच का जिम्मा CBI को दिया जाए.

दीपांजन दत्त ने कोर्ट में कहा-

मेरे मुवक्किल ने अपने बेटे का दाखिला इस संस्थान में करवाया. उन्होंने शाहरुख खान जैसे भरोसेमंद ब्रैंड को IIPM का विज्ञापन करते देखकर ये फैसला लिया. ये सिलेब्रिटी छात्रों को गुमराह करने वाले इस तरह के विज्ञापन नहीं कर सकते. इस तरह के विज्ञापनों को बाज़ार से हटा लिया जाना चाहिए. याचिकाकर्ताओं ने IIPM के बिज़नस की जांच करवाए जाने की भी मांग की है. उन्होंने दावा किया है कि IIPM के विदेशों में भी कैंपस हैं.

पटीशन में ये भी कहा गया है कि UGC ने जब ये स्पष्ट किया कि IIPM उनसे अफिलिएटेड नहीं है और दिल्ली हाई कोर्ट ने संस्थान को फर्ज़ी करार दिया, उसके बाद कुछ छात्रों ने IIPM के नाम 2018 में एक केस भी दर्ज कराया था. मगर राज्य की पुलिस ने अभी तक IIPM के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं की. बल्कि उन्होंने जांच पर क्लोज़र रिपोर्ट जमा कर दी. इसी वजह से उन्हें (पटीशनर्स को) हाई कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाना पड़ा.

इसी पटिशन की सुनवाई करते हुए जस्टिस देबांग्शु बासक ने शाहरुख खान से जवाब मांगा. उन्होंने शाहरुख, उनकी रेड चिलीज़ ऐंटरटेनमेंट और IIPM के प्रमोटर अरिंदम चौधरी से अलग-अलग हलफ़नामा जमा करने को कहा है. पश्चिम बंगाल सरकार से भी इस बारे में जवाब मांगा गया है. अदालत ने ममता बनर्जी सरकार से ये बताने को कहा है कि IIPM पर लगे आरोपों की जांच क्यों न राज्य की पुलिस से लेकर CBI को सौंप दी जानी चाहिए. अदालत ने दुर्गा पूजा की छुट्टियों के बाद दो सप्ताह के भीतर सभी लोगों से हलफ़नामा जमा करने को कहा है.

शाहरुख के बचाव में उनके वकील ने याचिकाकर्ता के दावों को ख़ारिज किया. इनका कहना है कि शाहरुख ने IIPM के लिए बस कुछ विज्ञापन किए हैं. शाहरुख के वकील ने भले ये दावा किया हो अदालत में, मगर शाहरुख ने बस कुछ विज्ञापन नहीं किए थे IIPM के लिए. वो कई बार इसके स्टेज शो में भी नज़र आए. अरिंदम चौधरी के साथ IIPM के कार्यक्रमों में कई बार शिरकत की. उनका चेहरा IIPM के लिए बड़ा सेलिंग पॉइंट था. IIPM को लेकर जब आरोप सामने आए, तब से ही शाहरुख खान का भी इस मामले में नाम लिया जाता है.


मोदी की रूस यात्रा के दौरान ईस्टर्न इकॉनमिक फोरम में हुई घोषणाओं से क्या फायदा?

ऑटो सेक्टर क्राइसिस, महंगा सोना, शेयर मार्केट, मुद्रा लोन के आंकड़े सरकार के लिए ठीक संकेत नहीं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.