Submit your post

Follow Us

महाराष्ट्र: शरद पवार ने देवेंद्र फडणवीस के सामने बड़ी चुनौती रख दी है

महाराष्ट्र में राजनीतिक उठा पठक का नतीजा ये रहा कि राज्य को सीएम मिल चुका है. देवेंद्र फडणवीस दूसरी बार राज्य के सीएम बने हैं. एनसीपी के अजित पवार ने बीजेपी को समर्थन दिया. इसका सबसे बड़ा झटका खुद एनसीपी को लगा. सरकार बनाने की उम्मीद लिए पार्टी के नेता देर रात सोए, सुबह उठते तब तक पार्टी टूट चुकी थी. ये सब कैसे हुआ, कितने विधायक अजित पवार के साथ गए, किसी को पता भी न चला.

नई सरकार बनने के बाद एनसीपी और शिवसेना ने ज्वाइंट पीसी करके सारी बातें मीडिया के सामने रखी. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में उद्धव ठाकरे और शरद पवार के साथ कई एनसीपी विधायक भी मौजूद रहे. इस पीसी की बड़ी बातें हम आपको सिलसिलेवार तरीके से बता रहे हैं.

एनसीपी चीफ शरद पवार ने कहा-

* महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भाजपा के पास आंकड़े नहीं हैं, इसलिए वह सरकार नहीं बचा पाएगी. नंबर्स हमारे पास हैं हम शिवसेना-कांग्रेस के साथ सरकार बनाएंगे.

* पार्टी से दगाबाजी करने के लिए अजित पवार को विधायक दल के नेता पद से हटा दिया गया, शाम 4 बजे एनसीपी के विधायक दल का नया नेता चुना जाएगा.

* शायद अजित पवार ने यह काम जांच एजेंसियों के डर से किया है. लेकिन मेरे स्रोत के अनुसार, राजभवन में 10-11 विधायक थे और उनमें से तीन मेरे साथ बैठे हैं.

* अजित पवार के पास विधायकों के साइन वाली कॉपी थी, उन्होंने वही कॉपी देकर बीजेपी के साथ सरकार बना ली. हम इस मामले में राज्यपाल से चर्चा करेंगे.

* जो भी विधायक बीजेपी के साथ गए हैं उन्हें पता होना चाहिए कि दलबदल कानून से उनकी विधायकी जा सकती है. कोई भी एनसीपी नेता या कार्यकर्ता बीजेपी सरकार के पक्ष में नहीं है.

इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे ने कहा-

पहले ईवीएम का खेल चल रहा था और अब यह नया खेल है. इसके बाद मुझे नहीं लगता कि चुनावों की भी जरूरत है.

बीजेपी वाले शिवसेना के विधायकों को भी तोड़ने की कोशिश कर रहे, उन्हें करने दो, महाराष्ट्र सो नहीं रहा है.

इस साझा पीसी में एनसीपी के वे दो विधायक भी मौजूद थे जिन्हें शपथ ग्रहण में ले जाया गया था. विधायक संदीप क्षीरसागर और सुनील भुसारा ने कहा-

हमें अनजाने में शपथ समारोह में ले जाया गया था, हमें कुछ पता नहीं था. हम वापस आ गए हैं और हमारा समर्थन शरद पवार के साथ है.

एनसीपी के विधायक राजेंद्र सिंघाने ने कहा,

अजित पवार ने मुझे कुछ चर्चा करने के लिए बुलाया था और वहां से मुझे दूसरे विधायकों के साथ राजभवन ले गए. इससे पहले कि मुझे कुछ समझ में आता शपथ ग्रहण पूरा हो चुका था. शपथ ग्रहण के बाद में अजित पवार साहब के पास गया और उनसे कहा कि मैं शरद पवार और एनसीपी के साथ हूं.

प्रेस कॉन्फ्रेंस के आखिर में शरद पवार ने कहा कि शाम में होने वाले विधायक दल की बैठक में नया नेता चुन लिया जाएगा.


Video: BJP सांसद और मालेगांव बम धमाकों की आरोपी प्रज्ञा ठाकुर को रक्षा मामलों की संसदीय कमेटी में चुना गया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

20 अप्रैल से कौन-कौन से लोग अपना काम-धंधा शुरू कर सकते हैं?

और खाने-पीने के सामान को लेकर सरकार ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच ज़रूरी सामान भेजना है? बस एक कॉल पर हो जाएगा काम

रेलवे अधिकारियों ने शुरू की है 'सेतु' सर्विस.

सड़क पर मजदूरों संग खाना खाने वाले अर्थशास्त्री ने सरकार को कमाल का फॉर्मूला सुझाया है

कोरोना और लॉकडाउन ने मजदूर को कहीं का नहीं छोड़ा.

सरकार की नई गाइडलाइंस, जानिए किन इलाकों में, किन लोगों को लॉकडाउन से छूट

कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन पहले ही बढ़ाया जा चुका है.

टेस्टिंग किट की बात पर राहुल गांधी ने भारत की तुलना किन देशों से की?

कहा, 'हम पूरे खेल में कहीं नहीं हैं.'

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

और अभी तक भारत में नहीं शुरू हो पाई मास टेस्टिंग.

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा पीएम ने क्या-क्या कहा?

15 अप्रैल को लॉकडाउन-2 की जो गाइडलाइंस आनी हैं, उनमें क्या-क्या हो सकता है

पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ चुका है.

सुप्रीम कोर्ट ने बता दिया है कि किन लोगों का कोरोना वायरस टेस्ट फ्री में होगा

प्राइवेट लैब भी नहीं ले सकेंगे इनसे पैसा.

PM CARES Fund पर लगातार उठ रहे सवाल, अब हिसाब-किताब की होगी जांच

वकील ने PM Cares फंड को रद्द करने की मांग की है.