Submit your post

Follow Us

महाराष्ट्र: शरद पवार ने देवेंद्र फडणवीस के सामने बड़ी चुनौती रख दी है

5
शेयर्स

महाराष्ट्र में राजनीतिक उठा पठक का नतीजा ये रहा कि राज्य को सीएम मिल चुका है. देवेंद्र फडणवीस दूसरी बार राज्य के सीएम बने हैं. एनसीपी के अजित पवार ने बीजेपी को समर्थन दिया. इसका सबसे बड़ा झटका खुद एनसीपी को लगा. सरकार बनाने की उम्मीद लिए पार्टी के नेता देर रात सोए, सुबह उठते तब तक पार्टी टूट चुकी थी. ये सब कैसे हुआ, कितने विधायक अजित पवार के साथ गए, किसी को पता भी न चला.

नई सरकार बनने के बाद एनसीपी और शिवसेना ने ज्वाइंट पीसी करके सारी बातें मीडिया के सामने रखी. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में उद्धव ठाकरे और शरद पवार के साथ कई एनसीपी विधायक भी मौजूद रहे. इस पीसी की बड़ी बातें हम आपको सिलसिलेवार तरीके से बता रहे हैं.

एनसीपी चीफ शरद पवार ने कहा-

* महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भाजपा के पास आंकड़े नहीं हैं, इसलिए वह सरकार नहीं बचा पाएगी. नंबर्स हमारे पास हैं हम शिवसेना-कांग्रेस के साथ सरकार बनाएंगे.

* पार्टी से दगाबाजी करने के लिए अजित पवार को विधायक दल के नेता पद से हटा दिया गया, शाम 4 बजे एनसीपी के विधायक दल का नया नेता चुना जाएगा.

* शायद अजित पवार ने यह काम जांच एजेंसियों के डर से किया है. लेकिन मेरे स्रोत के अनुसार, राजभवन में 10-11 विधायक थे और उनमें से तीन मेरे साथ बैठे हैं.

* अजित पवार के पास विधायकों के साइन वाली कॉपी थी, उन्होंने वही कॉपी देकर बीजेपी के साथ सरकार बना ली. हम इस मामले में राज्यपाल से चर्चा करेंगे.

* जो भी विधायक बीजेपी के साथ गए हैं उन्हें पता होना चाहिए कि दलबदल कानून से उनकी विधायकी जा सकती है. कोई भी एनसीपी नेता या कार्यकर्ता बीजेपी सरकार के पक्ष में नहीं है.

इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे ने कहा-

पहले ईवीएम का खेल चल रहा था और अब यह नया खेल है. इसके बाद मुझे नहीं लगता कि चुनावों की भी जरूरत है.

बीजेपी वाले शिवसेना के विधायकों को भी तोड़ने की कोशिश कर रहे, उन्हें करने दो, महाराष्ट्र सो नहीं रहा है.

इस साझा पीसी में एनसीपी के वे दो विधायक भी मौजूद थे जिन्हें शपथ ग्रहण में ले जाया गया था. विधायक संदीप क्षीरसागर और सुनील भुसारा ने कहा-

हमें अनजाने में शपथ समारोह में ले जाया गया था, हमें कुछ पता नहीं था. हम वापस आ गए हैं और हमारा समर्थन शरद पवार के साथ है.

एनसीपी के विधायक राजेंद्र सिंघाने ने कहा,

अजित पवार ने मुझे कुछ चर्चा करने के लिए बुलाया था और वहां से मुझे दूसरे विधायकों के साथ राजभवन ले गए. इससे पहले कि मुझे कुछ समझ में आता शपथ ग्रहण पूरा हो चुका था. शपथ ग्रहण के बाद में अजित पवार साहब के पास गया और उनसे कहा कि मैं शरद पवार और एनसीपी के साथ हूं.

प्रेस कॉन्फ्रेंस के आखिर में शरद पवार ने कहा कि शाम में होने वाले विधायक दल की बैठक में नया नेता चुन लिया जाएगा.


Video: BJP सांसद और मालेगांव बम धमाकों की आरोपी प्रज्ञा ठाकुर को रक्षा मामलों की संसदीय कमेटी में चुना गया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.

निर्भया के दोषियों की फांसी की नई तारीख आ गई

पहले 22 जनवरी दी जानी थी फांसी.

दूसरे वनडे से ऋषभ पंत बाहर हुए, तो संजू सैमसन को टीम में जगह क्यों नहीं दी गई?

सैमसन को BCCI ने कॉन्ट्रैक्ट भी नहीं दिया है.

T20 मैच में 14वें नंबर की टीम ने वेस्टइंडीज़ को घर में घुसकर पटक दिया

मैच में बने 412 रन, फिर भी वेस्टइंडीज़ 4 रन से हार गया.