Submit your post

Follow Us

मेडिकल सामान घोटाले के बीच हिमाचल प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष ने पद से इस्तीफा दिया

हिमाचल प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष राजीव बिंदल ने 27 मई को पद से इस्तीफा दे दिया. बिंदल इसी साल जनवरी में अध्यक्ष बने थे. उनका इस्तीफा ऐसे समय में आया है, जब राज्य में मेडिकल सामान खरीद घोटाले का मामला चल रहा है. इस मामले में राज्य के स्वास्थ्य निदेशक डॉ. एके गुप्ता को गिरफ्तार किया जा चुका है. बिंदल ने नैतिक आधार पर इस्तीफा देने की बात कही है.

मामला क्या है

राज्य में पिछले दिनों एक ऑडियो टेप सामने आया था. इसमें एक स्वास्थ्य अधिकारी कथित तौर पर रेणुका के एक मेडिकल सामान के सप्लायर से पांच लाख रुपये की रिश्वत मांग रहा था. क्लिप सामने आने के बाद 20 मई को सतर्कता और एंटी करप्शन ब्यूरो ने स्वास्थ्य निदेशक डॉ. एके गुप्ता को गिरफ्तार किया. साथ ही डॉ. गुप्ता के बैंक खाते सील कर दिए गए थे.

इस मामले में कांग्रेस ने एक बीजेपी नेता के भी शामिल होने के आरोप लगाए थे. विपक्ष का आरोप है कि डॉ. गुप्ता जिस व्यक्ति से बात कर रहे थे, वह बीजेपी के एक नेता का करीबी है. विपक्ष सरकार से उस बीजेपी नेता के नाम के खुलासे की मांग कर रहा है. इसी कड़ी में अब हिमाचल बीजेपी अध्यक्ष ने इस्तीफा दिया.

इस्तीफे में बिंदल ने क्या कहा

उन्होंने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को इस्तीफा भेजा है. इसमें 55 साल के बिंदल ने कहा,

मैं पार्टी की राज्य इकाई का अध्यक्ष हूं. हम सब कथित भ्रष्टाचार के मामले में बिना दबाव के निष्पक्ष और पारदर्शी जांच चाहते हैं. नैतिक मूल्यों के आधार पर मैं अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं.

उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार ने मामले में तेजी से काम किया है और एक अधिकारी को गिरफ्तार किया गया है. एंटी करप्शन ब्यूरो को जांच सौंपी गई है. उन्होंने कहा कि बीजेपी का इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है, पार्टी बेदाग है. इस मामले में बीजेपी को घसीटना गलत है. साथ ही यह कोरोना वायरस के समय में राज्य सरकार के कामों का अपमान भी है.

कौन हैं राजीव बिंदल

राजीव बिंदल पांच बार विधायक रहे हैं. साथ ही राज्य के स्वास्थ्य मंत्री भी रह चुके हैं. उन्हें 18 जनवरी को हिमाचल बीजेपी का मुखिया बनाया गया था. उन्हें इस पद के लिए सबका समर्थन मिला था. इससे पहले वे हिमाचल प्रदेश विधानसभा के स्पीकर थे. बिंदल से पहले सतपाल सिंह सत्ती आठ साल तक हिमाचल बीजेपी के अध्यक्ष रहे थे.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: जिस महिला की बालकनी से बीजेपी नेता कूदे थे, उसका वीडियो व्हाट्सएप घूम रहा है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

देश भर से सामने आ रही ये घटनाएं हिला देंगी.

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

वैक्सीन के रेट्स को लेकर देशभर में कन्फ्यूजन की स्थिति क्यों है?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

जानिए न्यूयॉर्क टाइम्स ने भारत के हालात पर क्या लिखा है.

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

यूपी जैसे बड़े राज्य में केवल 1 प्लांट ही लगा.

कोरोना की दूसरी लहर के बीच किन-किन देशों ने भारत को मदद की पेशकश की है?

कोरोना की दूसरी लहर के बीच किन-किन देशों ने भारत को मदद की पेशकश की है?

पाकिस्तान के एक संगठन की ओर से भी मदद की बात कही गई है.

अब सुप्रीम कोर्ट ने कहा- हम राष्ट्रीय आपातकाल जैसी स्थिति में हैं, क्या केंद्र के पास कोई नेशनल प्लान है?

अब सुप्रीम कोर्ट ने कहा- हम राष्ट्रीय आपातकाल जैसी स्थिति में हैं, क्या केंद्र के पास कोई नेशनल प्लान है?

ऑक्सीजन सप्लाई से जुड़ी एक याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर रहा था.

'सबसे कारगर' कोरोना वैक्सीन बनाने वाली कंपनी फाइजर ने भारत के सामने क्या शर्त रख दी है?

'सबसे कारगर' कोरोना वैक्सीन बनाने वाली कंपनी फाइजर ने भारत के सामने क्या शर्त रख दी है?

भारत सरकार की ओर से इस पर अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

दिल्ली हाई कोर्ट ने ऑक्सीजन की किल्लत पर केंद्र सरकार को बुरी तरह लताड़ दिया है

दिल्ली हाई कोर्ट ने ऑक्सीजन की किल्लत पर केंद्र सरकार को बुरी तरह लताड़ दिया है

बुधवार रात 8 बजे हुई सुनवाई में कोर्ट ने केंद्र को जमकर खरी-खोटी सुनाई.

कोरोना संकट के बीच देश के ये 3 शीर्ष मेडिकल एक्सपर्ट आपके लिए बहुत काम की बातें बता गए हैं

कोरोना संकट के बीच देश के ये 3 शीर्ष मेडिकल एक्सपर्ट आपके लिए बहुत काम की बातें बता गए हैं

कोरोना की रोकथाम से जुड़े हर जरूरी सवाल का जवाब दिया है.

कोविड प्रोटोकॉल्स की धज्जियां उड़ाते UP पंचायत चुनाव पर हाईकोर्ट की ये टिप्पणियां ज़रूर जानिए

कोविड प्रोटोकॉल्स की धज्जियां उड़ाते UP पंचायत चुनाव पर हाईकोर्ट की ये टिप्पणियां ज़रूर जानिए

सरकारी कर्मचारियों की चुनावी ड्यूटी पर भी नाराज़गी ज़ाहिर की.