Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन 4: दफ़्तरों के लिए क्या गाइडलाइंस हैं?

लॉकडाउन-4 देशभर में 18 मई से शुरू हो चुका है. 31 मई तक चलेगा. इस लॉकडाउन में तमाम छूट दी गई हैं, जिनमें दफ़्तरों को शुरू करने की इजाज़त भी शामिल है. लेकिन इसके लिए कुछ गाइडलाइंस फॉलो करनी हैं. जानते हैं कि दफ़्तरों पर कौन-कौन से नियम पालन कराने की ज़िम्मेदारी रहेगी –

# सभी कर्मचारियों के बीच हर वक्त कम से कम एक मीटर की दूरी रहे. सभी हर वक्त फेस कवर या मास्क लगाए रहें.

# रेग्युलर इंटरवल में हैंड वॉश करने या सैनेटाइज़ करने की पूरी व्यवस्था हो.

# सभी कर्मचारी ख़ुद भी अपनी सेहत पर नज़र रखें और ऑफ़िस की भी इस पर नज़र हो. किसी की भी तबीयत गड़बड़ दिखने पर फौरन ज़रूरी कदम उठाए जाएं

# अगर किसी कर्मचारी के ऑफ़िस आने से पहले ही पता चल जाए कि उसकी तबीयत ठीक नहीं है, तो उसे ऑफ़िस बुलाया भी न जाए.

# अगर कोई कर्मचारी कंटेनमेंट ज़ोन में रह रहा है, तो उसे वर्क फ्रॉम होम दिया जाए.

ऑफ़िस में ही कोई पॉज़िटिव मिल जाए तो?

# सबसे पहले ऑफ़िस की ज़िम्मेदारी है कि उस व्यक्ति को एक आइसोलेटेड रूम में बैठाया जाए. लोकल हेल्थ अथॉरिटी को जानकारी दी जाए. मदद आने तक व्यक्ति आइसोलेशन में ही रहे.

# इसके बाद हेल्थ अथॉरिटी के निर्देश के मुताबिक अगर बिल्डिंग सैनेटाइज़ होनी हो, तो उसमें सहयोग करें. इसके लिए ऑफ़िस कुछ दिन बंद भी करना पड़ सकता है.

# उस व्यक्ति के संपर्क में आए ऑफ़िस के अन्य लोगों की लिस्ट मांगे जाने पर उपलब्ध कराएं.

इसके अलावा ऑफ़िस को ये भी देखना होगा कि सभी कर्मचारियों के फोन में आरोग्य सेतु ऐप हो. उसमें जानकारियां अपडेट हों.

ऑफ़िस में काम करने, आने-जाने से जुड़ी बाकी गाइडलाइंस यहां जान सकते हैं.


लॉकडाउन में अब आपकी सैलरी कटेगी, सरकार ने कंपनियों को खुली छूट भी दे दी है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कैंसर से जूझ रहे चैंपियन बॉक्सर डिंको सिंह पर आई एक और मुसीबत

डिंको के फैंस के लिए बेहद निराशाजनक ख़बर.

#DhoniRetires वाले अपने ट्वीट पर अब क्या बोलीं साक्षी सिंह धोनी?

धोनी की रिटायरमेंट की अफवाहों पर गुस्सा थीं साक्षी.

पाकिस्तान उच्चायोग में काम कर रहे थे ISI के जासूस, उनके पास से कई सीक्रेट डॉक्यूमेंट मिले हैं

नकली आधार कार्ड भी मिले हैं.

लो जी, अब फिल्मों की शूटिंग भी शुरू होने जा रही है

महाराष्ट्र सरकार ने इजाज़त तो दी है लेकिन ढेर सारे नियम भी बनाए हैं.

संगीतकार वाजिद खान के आखिरी सफ़र की तस्वीरें

उन्हें उसी कब्रिस्तान में दफनाया गया, जहां इरफ़ान को.

उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री को कोरोना संक्रमण, परिजन और स्टाफ भी पॉजिटिव पाए गए

कुछ रोज़ पहले ही कैबिनेट मीटिंग में भी गए थे.

वो वक्त जब अभिषेक बच्चन, अरशद वारसी के ड्राइवर थे, स्टूडियो का फर्श साफ करते थे

दो साल तक अभिषेक ने ऐसे-ऐसे काम किए, कि आप सोच भी नहीं सकते.

बेंच क्या बदली, गुजरात सरकार की क्लास लगाने वाला हाईकोर्ट तारीफों के पुल बांधने लगा

'अगर सरकार काम नहीं करती तो हम सब मर गए होते.'

अब देश-दुनिया की सैर कराने वाली इस कंपनी से बुरी खबर आई है

कोरोना वायरस ने सबकी हालत पस्त कर दी है.

वाइट हाउस के आगे हुआ प्रदर्शन इतना ख़तरनाक हो गया कि ट्रंप को बंकर में छुपना पड़ गया

जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद से अमेरिका में उग्र प्रदर्शन जारी है.