Submit your post

Follow Us

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने वेंटिलेटर पर बड़ा फैसला किया

वेंटिलेटर को लेकर सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. इसके तहत स्वदेशी वेंटिलेटर के निर्यात यानी दूसरे देशों को बेचने पर लगी रोक हटा दी गई है. यह फैसला 1 अगस्त को केंद्रीय मंत्रियों के समूह ने लिया. इस बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रस्ताव भेजा था. भारत में कोरोना मरीजों में फैटेलिटी रेट कम होने के चलते  यह फैसला लिया गया है. फैटेलिटी रेट का मतलब है बीमारी की गंभीरता की दर. भारत में गंभीर मरीजों की दर 2.15 प्रतिशत है. यानी 100 में केवल 2.15 मरीज ही ज्यादा गंभीर होते हैं.

देश में तेजी से बढ़ रहे हैं केस

हालांकि एक फैक्ट यह भी है कि भारत में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना के 50 हजार से ज्यादा मामले आए हैं. पिछले एक सप्ताह से तो लगातार 50 हजार केस हर दिन आ रहे हैं. भारत में अभी तक कोरोना के 17 लाख से ज्यादा मामले आ चुके हैं. अभी देश में 5 लाख से ज्यादा कोरोना के एक्टिव केस है.

देश में केवल 0.22 फीसदी कोरोना मरीज ही वेंटिलेटर पर

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बैन हटाने के बारे में कहा कि भारत में बहुत कम मरीज वेंटिलेटर पर हैं. 31 जुलाई को पूरे देश में टोटल सक्रिय मरीजों में से केवल 0.22 प्रतिशत मरीज ही वेंटिलेटर पर थे. वेंटिलेटर से बैन हटाने के बारे में डायरेक्टर जनरल ऑफ फॉरेन ट्रेड को जानकारी दे दी गई है. जिससे कि स्वदेशी निर्मित वेंटिलेटर को एक्सपोर्ट किया जा सके. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा,

अब वेंटिलेटर के एक्सपोर्ट को अनुमति दे दी गई, ऐसे में उम्मीद की जाती है कि घरेलू वेंटिलेटर्स को दूसरे देशों के मार्केट में जगह मिलेगी. देश में वेंटिलेटर के निर्माण में काफी वृद्धि देखने को मिली है. जनवरी 2020 की तुलना में अभी 20 से ज्यादा वेंटिलेटर निर्माता कंपनियां हैं.

मार्च के महीने मेंं लगा था बैन

बता दें कि मार्च में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते घरेलू वेंटिलेटर के एक्सपोर्ट को बैन किया गया था. यह फैसला इसलिए लिया गया था ताकि देश में पर्याप्त संख्या में वेंटिलेटर रहें. साथ ही साल की शुरुआत में कोरोना के चलते सरकार ने 60 हजार वेंटिलेटर का ऑर्डर दिया था. यह ऑर्डर कोरोना के गंभीर मामलों की आशंका के चलते दिया गया था. इसके बाद जुलाई की शुरुआत में वेंटिलेटर निर्माताओं ने सरकार से बैन हटाने की मांग की थी. उनका कहना था कि अब सरकार से वेंटिलेटर नहीं लिए जा रहे. ऐसे में उन्हें एक्सपोर्ट की की अनुमति दी जाए.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: अनलॉक-3 गाइडलाइंस: सरकार ने जिम, बार और रात में आने-जाने पर ये फैसला किया है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

यूपी की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की कोरोना से मौत

लखनऊ PGI में ली अंतिम सांस.

ईरान ने समुद्री डाकुओं को रिहा किया और 11 भारतीय नाविकों को तस्कर बताकर जेल में डाल दिया!

ढाई महीने हो गए, कहीं कोई खोज ख़बर नहीं.

सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ FIR दर्ज़ करवाई

सुशांत ने 14 जून को सुसाइड कर लिया था.

अयोध्या में 5 अगस्त के भूमि पूजन को लेकर क्या-क्या तैयारियां चल रही हैं

रामलला की पोशाक से लेकर अयोध्या में रंग-रोगन तक की सारी बातें.

कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को हड़काया, दिल्ली दंगे में पिंजरा तोड़ पर ऐसी बयानबाज़ी क्यों?

पुलिस ने क्या जवाब दिया, वो भी देखिए.

जिस मेट्रो स्टेशन के नीचे दंगे हुए, 5 महीने बाद भी दिल्ली पुलिस ने वहां से CCTV फ़ुटेज नहीं निकाली!

कोर्ट ने कहा, 'पुलिस में अजीब-सी सुस्ती है वीडियो फ़ुटेज को लेकर'

मास्क बांटने के बहाने बच्चे को किडनैप किया, चार करोड़ मांगे, पुलिस ने 24 घंटे में पकड़ लिया

यूपी के गोंडा का मामला, पांच आरोपी भी गिरफ्तार.

चुनाव आयोग ने बीजेपी IT सेल से जुड़ी कंपनी से चुनावी कामधाम करवाया!

ये कम्पनी पूर्व महाराष्ट्र सरकार और दूसरे सरकारी विभागों का भी काम देख रही थी.

इंडिया में कोरोना की वैक्सीन का दाम पता चल गया है, लेकिन पैसे आपको नहीं देने होंगे!

क्या कहा बनाने वाले आदर पूनावाला ने?

बाइक चला रहे CJI बोबड़े पर ट्वीट करने पर twitter और वकील प्रशांत भूषण पर अवमानना का केस हो गया!

सुनवाई में ट्वीट डिलीट करने की बात पर कोर्ट ने क्या कहा?