Submit your post

Follow Us

भारत में चीन के 59 मोबाइल ऐप बैन, टिकटॉक, यूसी, वीचैट भी लपेटे में

केंद्र सरकार ने 29 जून को चीन के कुल 59 मोबाइल ऐप को देश में बैन कर दिया. सरकार का कहना है कि इन ऐप से देश की सुरक्षा और निजता को ख़तरा है. जिन ऐप पर बैन लगा है, उनमें टिकटॉक, शेयर इट, हैलो, UC ब्राउजर, लाइकी, वीचैट भी शामिल हैं.

मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड आईटी की तरफ से जारी बयान में लिखा गया है –

“सरकार उन 59 मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगा रही है, जो भारत की संप्रभुता, अखंडता, देश की सुरक्षा, राज्यों की सुरक्षा और नागरिक व्यवस्था के लिए पूर्वाग्रहपूर्ण हैं.”

Untitled Design (2)
सरकार का आदेश और बैन किए गए ऐप की लिस्ट.

किस शक्ति का इस्तेमाल करके बैन किया?

मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड आईटी ने इंफॉर्मेशन टेक्नॉलजी एक्ट के सेक्शन 69-ए और आईटी रूल्स-2009 के प्रावधानों का इस्तेमाल करते हुए इन ऐप को बैन करने का फैसला किया है. साथ ही अचानक उभर रहे ख़तरों को देखते हुए भी ये फैसला लिया गया है.

सरकार ने अपने बयान में लिखा –

“भारत के डिजिटल क्षेत्र में शक्ति बनकर उभरने के साथ-साथ डेटा की सिक्योरिटी की ज़िम्मेदारी भी बढ़ी है. पिछले कुछ वक्त में ये शिकायतें आई हैं कि एंड्रॉयड और आईओएस पर मौजूद तमाम ऐप यूजर्स का डेटा चुराकर देश के बाहर भेज रहे हैं. इस डेटा का इस्तेमाल देश की सुरक्षा के ख़िलाफ होने का ख़तरा रहता है.”

बयान में ये भी ज़िक्र किया गया है कि लगातार लोगों की तरफ से भी देश की सुरक्षा को नुकसान पहुंचाने वाले ऐप पर बैन लगाने की बात हो रही थी. इसके बाद ही ये फैसला किया गया है. ये भी लिखा कि संसद के अंदर और बाहर लगातार ये बात उठ चुकी है.

भारत और चीन के बीच पिछले कुछ समय से हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं. ख़ासकर LAC पर. गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद देश में चीनी सामानों के बहिष्कार की मांग तेज हुई है. अब इसी के बीच सरकार का ये आदेश आया है.


कोलकाता में ‘चीनी एजेंट जोमैटो भारत छोड़ो’ के नारे लगाकर कर्मचारियों ने नौकरी छोड़ दी!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

लॉकडाउन के बाद बिना खेले ही ऋषभ पंत के लिए टीम से अच्छी खबर आ गई!

धोनी पर भी टीम से बयान आया है.

वो सात बड़ी फ़िल्में, जो अब थिएटर में नहीं अपने घर बैठकर देख पाएंगे आप

खबर पक्की है. और ज़्यादा इंतज़ार भी नहीं करना पड़ेगा.

राहुल द्रविड़ के बड़े फैसले से 2007 का T20 वर्ल्डकप जीती थी धोनी की टीम!

राहुल की सोच को सचिन और सौरव ने भी मान लिया था.

जंगली जानवरों के लिए देसी बम रखा था, घास चरते हुए गाय ने चबा लिया

इसी महीने केरल में हथिनी वाला मामला भी सुर्खियों में रहा था.

बंदरों को भगाने के लिए गांववालों ने एक बंदर के गले में रस्सी बांधकर उसे पेड़ से लटका दिया

सोशल मीडिया पर अब वीडियो वायरल हो रहा है.

'काय पो चे' और 'पीके' के लिए सुशांत ने जो ऑडिशन दिया था, उसका वीडियो सामने आ गया

'वो लड़का, जो किसी ऑडिशन में फेल नहीं हुआ'.

LGBTQ कम्युनिटी का मज़ाक उड़ाते कैरी मिनाटी जैसे यूट्यूबर्स को कौन सा सबक देने की बात उठी है?

कई यूट्यूबर्स 'छक्का', 'मीठा', 'गुड़', 'हिजड़ा' जैसे शब्द धड़ल्ले से इस्तेमाल कर रहे हैं.

'मुझे सांस नहीं आ रही डैडी, उन्होंने ऑक्सीजन हटा ली', कहकर वीडियो भेजा, एक घंटे बाद मौत हो गई

हैदराबाद में एक कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति का वीडियो वायरल है.

भुवनेश्वर ने बताया, 'विश्वकप सेमीफाइनल में धोनी नहीं, इस वजह से हारी थी टीम इंडिया!'

साथ ही 2017 चैम्पियन्स ट्रॉफी में हार का कारण भी बता दिया.

लॉकडाउन में क्या आम, क्या खास; सबको 'बढ़े हुए बिजली बिल' का करंट लग रहा है!

सेलेब्स समेत कई लोगों ने 'समझ से परे' बिजली बिल की शिकायत की है.