Submit your post

Follow Us

गूगल के सर्च रिज़ल्ट में ऐसा क्या दिख गया कि उसे माफी मांगनी पड़ गई?

कहते हैं गूगल पर हर सवाल का जवाब मिलता है. ऐसा ही हुआ, जब लोगों ने गूगल पर “ugliest language in India” सर्च किया. लेकिन जो जवाब आया, वो देखकर लोग भड़क गए, ख़ासकर कन्नड़भाषी. क्योंकि गूगल इसका जवाब दिखा रहा था– कन्नड़.

कर्नाटक सरकार ने आनन-फानन में गूगल को लीगल नोटिस भेजने की बात कह डाली. विवाद बढ़ता देख गूगल ने तुरंत भूल सुधार टाइप बयान जारी किया. मामले को ख़त्म करने की कोशिश की. लेकिन तब तक ट्विटर पर #kannada और #KannadaQueenOfAllLanguage जैसे हैशटैग्स चलने लगे थे.

कन्नड़ का इतिहास याद दिलाया 

सोशल मीडिया पर लोगों ने गूगल को कन्नड़ भाषा का समृद्ध इतिहास तक याद दिला डाला. इसमें सबसे आगे रहे कर्नाटक सरकार के मंत्री और भाजपा नेता अरविंद लिंबावली. उन्होंने ट्वीट किया –

“कन्नड़ भाषा का अपना इतिहास रहा है. ये करीब ढाई हज़ार साल पुरानी भाषा है. इन तमाम शताब्दियों में ये कन्नड़िगा (यानी कन्नड़भाषी) के लिए गौरव रही है. अगर अब गूगल इसे सबसे भद्दी भाषा बता रहा है तो ये कन्नड़िगा का अपमान है. गूगल फौरन कन्नड़िगा से, कन्नड़ से माफी मांगे. एक खूबसूरत भाषा की छवि ख़राब करने के लिए गूगल के ख़िलाफ लीगल कार्रवाई की जाएगी.”

सेंट्रल बेंगलुरू से भाजपा सांसद पीसी मोहन ने कहा कि कन्नड़ की गिनती दुनिया की सबसे पुरानी भाषाओं में होती है. इसके एक से बढ़कर एक जानकार हुए हैं. ऐसे में इस भाषा का अपमान करने पर गूगल को माफी मांगनी चाहिए.

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने भी गूगल पर सवाल उठाए. कहा कि वह समझ नहीं पा रहे कि इतना बड़ा सर्च इंजन इतना ग़ैर-ज़िम्मेदाराना कैसे हो सकता है.

गूगल ने माफी मांगते हुए क्या कहा?

विवाद बढ़ने पर गूगल ने एक बयान जारी किया. कन्नड़ भाषा में ही ट्वीट किया, इसमें लिखा था-

“गूगल सर्च रिज़ल्ट हमेशा परफेक्ट नहीं होते. कई बार सर्च रिज़ल्ट पर इस बात का असर पड़ता है कि उसके बारे में इंटरनेट पर मौजूद कंटेंट में क्या बातें लिखी हैं, किस तरह से उसे डिस्क्राइब किया गया है. लेकिन हमें जब भी किसी गड़बड़ी के बारे में पता चलता है तो हम फौरन एक्शन लेते हैं. हम अपनी एल्गोरिदम बेहतर करने के लिए लगातार काम कर रहे हैं.”

गूगल ने अपने बयान में आगे कहा कि सामान्य तौर पर ये सर्च रिज़ल्ट गूगल के विचारों को प्रदर्शित नहीं करते. किसी भी गलतफहमी के लिए, किसी की भावनाओं को आहत करने के लिए हम माफी मांगते हैं.


वीडियो: इन्कॉग्नीटो मोड में यूजर का डेटा जुटाने के आरोप में गूगल पर केस हो गया!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

नए नियम के बाद विवादों में कमी आएगी?

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

अख़बार का दावा, सरकारी जांच में हुआ ख़ुलासा

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

जानिए क्या है पूरा मामला?

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सेना के इतिहास से जुड़ी जानकारियां सार्वजनिक करने की पॉलिसी को मंजूरी

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब के अलावा बाकी चुनाव भी साथ लड़ने की घोषणा.

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

मुकुल रॉय को बराबर में बिठाकर ममता बनर्जी किन गद्दारों पर भड़कीं?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

पहले TV डिबेट में बोला, फिर फेसबुक पर पोस्ट लिखा.

कोरोना वैक्सीन लेने के बाद शरीर से सिक्के-चम्मच चिपकने के दावों में कितना सच?

कोरोना वैक्सीन लेने के बाद शरीर से सिक्के-चम्मच चिपकने के दावों में कितना सच?

क्या शरीर में वाकई चुंबकीय शक्ति पैदा हो जाती है?

पावर बैंक ऐप, जिसने 15 दिन में पैसे डबल करने का झांसा दे 4 महीने में 250 करोड़ उड़ा लिए

पावर बैंक ऐप, जिसने 15 दिन में पैसे डबल करने का झांसा दे 4 महीने में 250 करोड़ उड़ा लिए

पैसा शेल कंपनियों में लगाते, फिर क्रिप्टोकरंसी बनाकर विदेश भेज देते थे.

भूटान के बाद अब नेपाल ने पतंजलि की कोरोनिल दवा बांटने पर रोक क्यों लगा दी?

भूटान के बाद अब नेपाल ने पतंजलि की कोरोनिल दवा बांटने पर रोक क्यों लगा दी?

नेपाल के अधिकारियों ने IMA के उस लेटर का भी हवाला दिया है, जिसमें कोरोनिल को लेकर रामदेव को चुनौती दी गई थी.