Submit your post

Follow Us

कोर्ट के अंदर गैंगवॉर, ताबड़तोड़ फ़ायरिंग में अपराधी जितेंद्र गोगी की मौत

दो नामचीन बदमाश. दोनों अच्छे दोस्त. 2013 में दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्र संघ चुनाव को लेकर दोनों में लड़ाई हो जाती है. लड़ाई इतनी बढ़ी कि एक-दूसरे के गैंग के लोगों को मार गिराने तक बात पहुंच जाती है. दोनों गिरफ़्तार हो जाते हैं. फिर भी लड़ाई जारी रहती है. इनमें से एक अदालत में केस की सुनवाई के लिए जाता है, वहां उस पर गोलियां चलती हैं. शूटआउट होता है. बदमाश की गोली लगने से मौत हो जाती है. उसको मारने आए दो शूटर भी पुलिस की गोली का शिकार हो जाते हैं. ये सब आपको किसी फ़िल्म की स्क्रिप्ट सा लग रहा होगा. मगर ये किसी फ़िल्म की कहानी नहीं असलियत है. शुक्रवार 24 सितंबर दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में तीन लोगों की मौत हो गई. दिल्ली के मोस्ट वांटेड की सूची में रह चुके गैंगस्टर जितेंद्र गोगी (Jitendra Gogi) अदालत गया था, मामले की सुनवाई के लिए. उसको मारने के लिए आए शूटर वकील के वेश में थे. गोगी की हत्या करने का आरोप उसके पुराने दोस्त और नामचीन गैंगस्टर सुनील मान उर्फ़ टिल्लू ताजपुरिया पर है. ताजपुरिया फ़िलहाल तिहाड़ जेल में बंद है. दोनों गैंगस्टर पर हत्या, हत्या की साज़िश, हत्या की कोशिश, लूट और वसूली जैसे दर्जनों आपराधिक मामले दर्ज़ हैं.

15 पुलिस वाले गोगी के साथ मौजूद थे

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल द्वारा जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक करीब 8 पुलिसवाले सिविल ड्रेस में कोर्ट में गोगी के साथ मौजूद थे. जवान हथियारों से लैस थे. इसके अलावा दिल्ली पुलिस की तीन बटालियन के 7 जवान हथियारों के साथ मौजूद थे. 15 पुलिसवालों की मौजूदगी के बावजूद वकील के वेश में दो बदमाश कोर्ट रूम में आए और गोगी पर ताबड़तोड़ फ़ायरिंग कर दी. पुलिस द्वारा आज तक को दी गई जानकारी के मुताबिक़, गोगी को 8 गोलियां लगी. जवाब में पुलिस ने भी शूटर्स पर फ़ायरिंग की, जिससे दोनों की मौक़े पर ही मौत हो गई.

मामले की क्रोनोलॉजी

इंडिया टुडे के मुताबिक़ दोपहर के क़रीब 12:30 बजे, दोनों शूटर जिनकी वकील के वेश में कोर्ट आए. इन्होंने गेट नम्बर 4 से एंट्री की, क्योंकि इस गेट से वकीलों की तलाशी नहीं होती है. पुलिस के मुताबिक़ शूटरों की पहचान हो चुकी है, इनका नाम राहुल त्यागी और जगदीप है. पुलिस का दावा है है कि ये पहले भी ये कोर्ट की रेकी कर चुके थे. पुलिस ये भी दावा कर रही है कि ये दोनों टिल्लू गैंग के लिए काम करते थे. राहुल त्यागी पर 50 हज़ार का इनाम भी था.

Rahul Tyagi
राहुल त्यागी

आज तक के मुताबिक़ इन शूटरों को ये जानकारी थी कि स्पेशल सेल के जवान भी गोगी के साथ होंगे. इससे पहले भी कोर्ट में कई बार बड़े गैंगस्टर पर हमले हो चुके हैं. इस वजह से स्पेशल सेल की टीम बड़े बदमाशों के साथ रहती है. दोनों शूटर्स सीढ़ियों के रास्ते कोर्ट नंबर 207 में पहले से बैठे हुए थे. पुलिस की टीम जैसे ही गोगी को लेकर आई इन लोगों ने हमला बोल दिया. पुलिस के अनुसार दोनों के पास सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल थी. फ़ायरिंग के वक़्त जज गगनदीप सिंह कोर्ट रूम में मौजूद थे. फ़ायरिंग की घटना दोपहर 1:30 की बताई जा रही है, इसके कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हैं.

पुलिस ने भी फ़ौरन जवाब में फ़ायरिंग की, जिसमें दोनों शूटर्स की मौत हो गई. अस्पताल ने तीनों लोगों की मौत की पुष्टि कर दी है. पुलिस ने दावा किया है कि सेल को इस बात का अंदेशा था पेशी के दौरान राइवल गैंग हमला कर सकती है. इस वजह से काफ़ी भरी फ़ोर्स साथ रखी गई थी. लेकिन कोई ठोस जानकारी नहीं थी. इस हाई प्रोफ़ाइल केस जांच अब ज्वाइंट सीपी नॉर्दन रेंज एसएस यादव करेंगे. इसके अलावा स्पेशल सेल की टीम भी इनके साथ इंवेस्टिग्वेशन करेगी.

पुलिस कस्टडी से 3 बार भागा था जितेंद्र गोगी

दिल्ली हरियाणा बॉर्डर पर बसे अलीपुर गांव का रहने वाला है जितेंद्र गोगी. इसकी उम्र 30 साल बताई जा रही है. तिहाड़ जेल से दुबई के कारोबारी से 5 करोड़ की रंगदारी मांगने के मामले में इसका नाम खूब चर्चा में था. आज तक के मुताबिक़ जेल से रंगदारी, फिरौती के लिए अगवा करने और सुपारी लेकर मर्डर करने का काम ऑपरेट करता था गोगी.

3 बार पुलिस कस्टडी से फरार हो चुका था. उसे 2020 में स्पेशल सेल ने हरियाणा के गुरुग्राम से गिरफ्तार किया था. गोगी ने अपराधों के जरिए अकूत संपत्ति कमाई थी. उसके नेटवर्क में 50 से ज्यादा लोग थे. आज तक के मुताबिक़ दिल्ली का कुख्यात गैंगस्टर नीतू दाबोदिया 2013 में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था. खुद को दिल्ली का डॉन मानने वाले नीरज बवानिया भी भी गिरफ़्तार हो गया था. जिसके बाद गोगी और टिल्लू के बीच दिल्ली पर राज करने को लेकर जंग शुरू हो गई.

जैसे कि आपने पहले पढ़ा, टिल्लू और गोगी पहले अच्छे दोस्त थे. लेकिन, 2013 में स्वामी श्रद्धानंद कॉलेज के छात्र संघ चुनावों के दौरान जितेंद्र गोगी के गैंग में संदीप और रविंदर नाम के दो लोगों को मार दिया था. ये दोनों टिल्लू के ख़ास लोग थे. यहां से दोनों के झगड़े की शुरुआत हुई जो आगे चलकर बड़े खूनी संघर्ष में बदल गई. अब तक इस गैंगवॉर में 50 से भी ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. करीब 8 सालों से दिल्ली के बॉर्डर इलाक़े जैसे कि रोहिणी, नॉर्थ वेस्ट, और आउटर नॉर्थ ज़िले में दोनों का गैंगवॉर जारी है.

गोगी पर दिल्ली से 4 लाख और हरियाणा में 2 लाख का इनाम घोषित था. हरियाणा की जानी मानी सिंगर-डांसर हर्षिता मर्डर केस में गोगी आरोपी था. इसके अलावा दिल्ली के आम आदमी पार्टी के नेता वीरेंद्र मान को गोगी गैंग के लोगों ने ही 26 गोलियां मारी थीं.

Tillu Tajpuria
टिल्लू ताजपुरिया. फ़ोटो-आजतक

टिल्लू ताजपुरिया भी है हिस्ट्रीशीटर

सुनील मान उर्फ़ टिल्लू ताजपुरिया दिल्ली के ताजपुर गांव का रहने वाला है. इस पर भी हत्या, लूट, फिरौती, जैसे दर्जनों मामले दर्ज़ है. 2017 में इसकी गिरफ़्तारी हुई थी. तब से ही ये तिहाड़ जेल में बंद है. लेकिन जानकार की माने तो ये अपना गैंग तिहाड़ के अंदर से ही ऑपरेट कर रहा है. साल 2018 में टिल्लू गैंग में गोगी के ख़ास आदमी मोनू मान उर्फ़ नेपाली को रोहिणी कोर्ट के बाहर मार गिराया था.


वीडियो-तिहाड़ जेल में गैंगस्टर अंकित गुर्जर के साथी कैदी अरुण नागर ने वीडियो बना क्या कहा है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

UPSC टॉपर शुभम की कहानी, पढ़ाई के लिए 6 साल की उम्र में घर छोड़ा, 12वीं में देखा था IAS बनने का सपना

UPSC टॉपर शुभम की कहानी, पढ़ाई के लिए 6 साल की उम्र में घर छोड़ा, 12वीं में देखा था IAS बनने का सपना

तीसरे प्रयास में UPSC टॉप कर गए.

रुतुराज के इस रिकॉर्ड के आगे रोहित, धोनी भी पीछे छूट गए?

रुतुराज के इस रिकॉर्ड के आगे रोहित, धोनी भी पीछे छूट गए?

सिर्फ गंभीर सबसे आगे हैं.

मैच के बीच किस CSK खिलाड़ी से हुई धोनी की जमकर बहस?

मैच के बीच किस CSK खिलाड़ी से हुई धोनी की जमकर बहस?

धोनी ने ये भी कहा, वो मेरे भाई जैसा है.

हारते ही विराट कोहली ने खुलकर सारी कमियां गिनवा दीं

हारते ही विराट कोहली ने खुलकर सारी कमियां गिनवा दीं

विराट की बात नहीं सुनी तो और भी नुकसान होगा.

जिसकी टीम का नाम ना वनडे ना टेस्ट में, विराट ने उसे डेब्यू करवा दिया

जिसकी टीम का नाम ना वनडे ना टेस्ट में, विराट ने उसे डेब्यू करवा दिया

IPL के पहले मैच में ही टिम ने रिकॉर्ड बना डाला.

विराट ने ऐसी पारी खेली, रोहित शर्मा से आगे निकल गए

विराट ने ऐसी पारी खेली, रोहित शर्मा से आगे निकल गए

RCB ने विराट और पडिक्कल के बाद क्या किया?

आखिरी गेंद पर कैच, टीम इंडिया का जश्न फिर कैसे हार गया भारत?

आखिरी गेंद पर कैच, टीम इंडिया का जश्न फिर कैसे हार गया भारत?

शानदार शुरुआत के बाद भी आखिरी गेंद पर कैसे हारी टीम इंडिया.

साइकिल पर सवार होंगे BSP के बागी लालजी वर्मा और रामअचल राजभर!

साइकिल पर सवार होंगे BSP के बागी लालजी वर्मा और रामअचल राजभर!

अखिलेश यादव से की मुलाकात.

जम्मू में व्यापारियों ने रिलायंस के खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

जम्मू में व्यापारियों ने रिलायंस के खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

जिस बात का हवाला देकर व्यापारियों ने बंद बुलाया, रिलायंस ने उसे सिरे से खारिज कर दिया है.

'शक्तिमान' की मौत के मामले में कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी बरी, कोर्ट ने कहा- सबूत नहीं मिले

'शक्तिमान' की मौत के मामले में कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी बरी, कोर्ट ने कहा- सबूत नहीं मिले

उत्तराखंड में पांच साल पहले इस मामले में गणेश जोशी जेल भी गए थे.