Submit your post

Follow Us

डब्बू अंकल के साथ जॉन अब्राहम के नए गाने में वही हो गया, जो रानू मंडल के साथ हिमेश ने किया

कुछ दिन पहले ‘मसक्कली’ गाने का नया रीमिक्स वर्ज़न आया था. गाने को इतना नापसंद किया गया कि टी-सीरीज़ को यूट्यूब से ‘लाइक’ और ‘डिस्लाइक’ छुपाने पड़ गए. ओरिजिनल गाने के सिंगर मोहित चौहान और म्यूज़िक डायरेक्टर ए.आर.रहमान ने भी इस पर अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की थी. अब एक और पुराने पॉपुलर गाने का रीमिक्स आया है. और इसमें नज़र आ रहे हैं डब्बू अंकल.

गाना वही, लेकिन सोच नई

गाना है ‘गल्ला गोरियां ते गोरियां’. साल 2000 में ‘स्टीरियो नेशन’ बैंड की एल्बम आई – ‘ओ लैला’. इसके गानों ने बहुत धूम मचाई. जैसे कि ‘ओ लैला ओ लैला’, ‘प्यार हो गया’, ‘नाचेंगे सारी रात’ या ‘गल्ला गोरियां ते गोरियां’, जिसका अब नया वर्ज़न आया है. अच्छी बात यह है कि टी-सीरीज़ ने इसके लिए ओरिजिनल गाने के सिंगर-कंपोज़र ताज को भी साथ रखा. इसलिए म्यूज़िक की दुनिया इस बार ‘मसक्कली 2.0’ जैसे हादसे से बच गई. गाना बहुत ख़ास नहीं है, लेकिन एक बार देखने-सुनने में कोई हर्ज़ नहीं है:

डांसिंग अंकल इज़ बैक विद-आउट अ बैंग

गाने में नज़र आ रहे हैं मृणाल ठाकुर और जॉन अब्राहम. इस जोड़ी को 2019 की फिल्म ‘बाटला हाउस’ में भी देखा गया था. इनके साथ दिख रहे हैं डब्बू अंकल, जिन्हें डांसिंग अंकल भी कहा जाता है. उनका असली नाम है संजीव श्रीवास्तव.

भोपाल यूनिवर्सिटी में प्रोफ़ेसर हैं. डांस का शौक उन्हें हमेशा से था. 2018 में एक शादी के फंक्शन में डांस कर रहे थे. किसी ने वीडियो बना ली, और इंटरनेट पर डाल दी. देखते ही देखते वीडियो इतनी वायरल हो गई, कि देशभर में भौकाल मच गया. गोविंदा, सलमान, रवीना जैसे फ़िल्मी सितारों से लेकर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उनके डांस की तारीफ कर डाली.

अब गाने में मृणाल के साथ डांस करते हुए दिख रहे हैं. लेकिन उनके लटके-झटकों के लिए गाने में फुटेज नहीं दी गई है. बस उतना ही चांस मिला है, जितना कि रानू मंडल को हिमेश रेशमिया के गाने में मिला था. यानि कुछ ख़ास नहीं. इसलिए इस गाने को डब्बू अंकल के लिए देखेंगे, तो निराश होंगे. उनका स्टाइल  देखने के लिए तो यही बेहतर होगा कि आपका उनका यह पुराना वायरल वीडियो देख लें:

गाने के नए वर्ज़न को भी ताज ने ही गाया है. उनका बाखूबी साथ निभाया है ध्वनि भानुशलि ने. यह नया वर्ज़न सुनकर आपको पुराने ओरिजिनल गाने की याद हो आना लाजमी है. इसलिए ये रहा पुराना गाना. हेडफोन लगाइए, और यादों में खो जाइए.

आपको बता दें कि ताज का असली नाम है तरसेम सिंह. वे भारतीय मूल के ब्रिटिश गायक और कंपोज़र हैं. ना केवल इंडिया में बल्कि यू.के. में भी टॉप आर्टिस्ट रहे हैं.


वीडियो देखें: रिमिक्स गानों के ट्रेंड से दुखी गीतकार समीर और जावेद अख़्तर कोर्ट क्यों जाना चाहते हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ड्रग्स केस: कॉमेडियन भारती सिंह को तीन घंटे की पूछताछ के बाद NCB ने गिरफ्तार किया

ड्रग्स केस: कॉमेडियन भारती सिंह को तीन घंटे की पूछताछ के बाद NCB ने गिरफ्तार किया

मुंबई स्थित घर से एजेंसी ने गांजा बरामद किया था.

मुकेश भाई की रिलायंस के दिए 19 किलो सोने से सजा कामख्या मंदिर देख लो

मुकेश भाई की रिलायंस के दिए 19 किलो सोने से सजा कामख्या मंदिर देख लो

गुवाहाटी के इस मंदिर की गिनती देश के सबसे पुराने शक्त पीठों में होती है.

नाम से नफरत थी, शिवसेना के नेता ने दे डाला 'कराची स्वीट्स' को अल्टिमेटम

नाम से नफरत थी, शिवसेना के नेता ने दे डाला 'कराची स्वीट्स' को अल्टिमेटम

दुकानदार ने साइन बोर्ड पर छिपा दिया 'कराची' शब्द

एक और प्राइवेट बैंक का बंटाधार? RBI को लगानी पड़ी पैसे निकालने की लिमिट

एक और प्राइवेट बैंक का बंटाधार? RBI को लगानी पड़ी पैसे निकालने की लिमिट

PMC और यस बैंक की तरह ही अब इस बैंक पर भी लगा मोरेटोरियम.

तबलीगी जमात पर सरकार के किस जवाब से सुप्रीम कोर्ट खफा हो गया

तबलीगी जमात पर सरकार के किस जवाब से सुप्रीम कोर्ट खफा हो गया

तुषार मेहता से सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा?

नीतीश की कैबिनेट में किसे कौन सा मंत्रालय मिला, लिस्ट आ गई है

नीतीश की कैबिनेट में किसे कौन सा मंत्रालय मिला, लिस्ट आ गई है

उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी को कौन से अतिरिक्त मंत्रालय मिले?

बच्चे की चाह में छह साल की बच्ची का कलेजा निकालकर खा गए

बच्चे की चाह में छह साल की बच्ची का कलेजा निकालकर खा गए

तंत्र-मंत्र के चक्कर में बच्ची की हत्या कर उसका शरीर गांव के बाहर फेंक दिया.

गुजरात : धोखाधड़ी का केस होने के बाद BJP नेता ने की आत्महत्या की कोशिश

गुजरात : धोखाधड़ी का केस होने के बाद BJP नेता ने की आत्महत्या की कोशिश

सूरत के बीजेपी जिला उपाध्यक्ष पीवीएस शर्मा का मामला.

हाथरस कांड की कवरेज में अरेस्ट हुए पत्रकार की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा?

हाथरस कांड की कवरेज में अरेस्ट हुए पत्रकार की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा?

आर्टिकल 32 क्या है, जिसके मामलों को हतोत्साहित करने की बात कोर्ट ने कही.

गुजरात : सूरत BJP के उप जिलाध्यक्ष के यहां इनकम टैक्स का छापा, फ़्रॉड और धोखाधड़ी का केस दर्ज

गुजरात : सूरत BJP के उप जिलाध्यक्ष के यहां इनकम टैक्स का छापा, फ़्रॉड और धोखाधड़ी का केस दर्ज

अधिकारियों के खिलाफ़ ट्वीट, आयकर विभाग का छापा और मुक़दमा.