Submit your post

Follow Us

भारत-बांग्लादेश पिंक बॉल टेस्ट के वो पांच मौके जब बल्लेबाज़ों की जान पर बन आई

5
शेयर्स

ईडेन गार्डन्स में पहले डे-नाइट टेस्ट में इशांत शर्मा और विराट कोहली ने शानदार खेल दिखाया है. बांग्लादेश की टीम पूरे मैच में संघर्ष करती नज़र आई, लेकिन ये संघर्ष सिर्फ खेल का ही नहीं बल्कि पिंक गेंद का भी है. क्योंकि इस टेस्ट को बांग्लादेशी बल्लेबाजों के गेंद खाने के लिए याद किया जाएगा.

ईडेन की 22 गज़ की पिच पर वैसे तो पहले भी कई मैच खेले गए हैं, इस पिच पर घास रहती है ये भी दिखा है. लेकिन इस टेस्ट की दोनों पारियों में जिस तरह से इशांत, शमी और उमेश ने घातक गेंदबाज़ी की. उससे बांग्लादेशी खिलाड़ी सिर्फ बचते ही दिखे. मैच के पहले दोनों दिन कुल मिलाकर भारतीय गेंदबाज़ों ने बांग्लादेश के 11 में से पांच बल्लेबाज़ों को घायल कर दिया. जिनमें से लिटन दास को तो मैच से बाहर ही होना पड़ गया. लिटन के अलावा नईम हसन, मोहम्मद मिथुन, इमरुल कायस और मुश्फिकुर रहीम भी तेज रफ्तार गुलाबी गेंद का शिकार बने.

शमी ने लिटन को किया मैच से बाहर:

पहली पारी में शमी ने बांग्लादेशी बल्लेबाजों की नाक में दम कर दिया. उन्होंने 20वें ओवर में लिटन दास के हेलमेट पर तेज़ रफ्तार गेंद दे मारी. जिसके बाद अगले ही ओवर में लिटन पवेलियन लौट गए. वो इस कदर चोटिल हुए कि उन्हें मैच से ही बाहर होना पड़ा. उनकी जगह मेहदी हसन को कनक्यूज़न सब्सटीट्यूट बल्लेबाज़ बुलाया गया.

टीनएजर नईम को लगी गेंद: 

जबकि पहली पारी में ही चाय के बाद शमी ने 18 साल के बल्लेबाज़ नईम को भी नहीं बक्शा. उन्होंने पारी के 23वें ओवर में नईम को एक तूफानी बाउंसर मारी. ये गेंद कहां पड़ी और कहां जा लगी, नईम इसे बिल्कुल भी नहीं समझे. वो भी मैदान पर असहज हो गए. जिसके बाद कप्तान कोहली ने भारतीय फिज़ियो को मैदान पर बुलाया.  लेकिन वो ज्यादा देर नहीं टिक सके.

Virat Naeem Nitin
भारतीय कप्तान विराट कोहली, फिज़ियो नितिन पटेल और बांग्लादेशी बल्लेबाज़ नईम हसन का कोलाज. फोटो: BCCI Twitter

पहली पारी तो छोड़िए. इसके बाद दूसरी पारी में भी बांग्लादेशी बल्लेबाज़ों का हाल ऐसा ही रहा. जहां पहली पारी में मोहम्मद शमी बांग्लादेशियों की परेशानी थे. वहीं दूसरी पारी में इशांत शर्मा और उमेश यादव ने बांग्लादेशियों का खेलना मुश्किल कर दिया.

इशांत का शिकार बने मिथुन: 

दूसरी पारी की शुरुआत ही भारतीय गेंदबाज़ों ने आग उगलती गेंदबाज़ी से की. पारी के 5वें ओवर में इशांत ने एक तेज़ रफ्तार बाउंसर फेंकी. इस बार ये गेंद मोहम्मद मिथुन के हेलमेट पर लगी. गेंद मिथुन के कान के पास वाले हिस्से पर लगी. मिथुन इसके बाद तुरंत पिच से हट गए और अपना हेलमेट उतार दिया. इसके बाद बांग्लादेशी फिज़ियो मैदान पर आए और मिथुन को संभाला. मिथुन को एक नया हेलमेट दिया गया और उन्होंने फिर से खेलना शुरू किया. लेकिन अगले ओवर में ही वो आउट हो गए.

इमरुल की पसलियों में लगी गेंद:

अभी एक ओवर पहले ही इशांत ने मिथुन को गेंद मारी थी, वहीं छठे ओवर में उमेश यादव आ गए. उन्होंने इमरुल कायस को एक तेज़ गेंद सीधे पसलियों में मार दी. इमरुल ने इसके बाद खुद को संभाला. इमरुल इस गेंद को डिफेंड करना चाहते थे. लेकिन वो ठीक से नहीं खेल सके.

मुश्फिकुर का स्वागत भी हेलमेट पर बाउंसर से हुआ:

लेकिन अभी तो दूसरी पारी की शुरुआत थी. पारी के 15वें ओवर में मैदान पर आए नए बल्लेबाज़ मुश्फिकुर रहीम का इस बार गेंद से सामना था. उमेश यादव ने फिर से गेंद पकड़ी और मुश्फिकुर को फेंकी. इस बार 138 कि.मी. प्रतिघंटे की रफ्तार से खतरनाक बाउंसर आई और मुश्फिकुर के हेलमेट पर जा लगी. इसके बाद मुश्फिकुर संभले और अपना हेलमेट उतारा. एक बार फिर से मैच के बीच मैदान पर फिज़ियो दौड़ते हुए आ गए.

हालांकि इसके बाद मुश्फिकुर रहीम ने अपनी टीम की तरफ से मैच की सबसे अच्छी पारी भी खेली.


18 साल के खिलाड़ी को लगा शमी का बाउंसर, विराट कोहली ने ऐसे की मदद

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.

निर्भया के दोषियों की फांसी की नई तारीख आ गई

पहले 22 जनवरी दी जानी थी फांसी.

दूसरे वनडे से ऋषभ पंत बाहर हुए, तो संजू सैमसन को टीम में जगह क्यों नहीं दी गई?

सैमसन को BCCI ने कॉन्ट्रैक्ट भी नहीं दिया है.

T20 मैच में 14वें नंबर की टीम ने वेस्टइंडीज़ को घर में घुसकर पटक दिया

मैच में बने 412 रन, फिर भी वेस्टइंडीज़ 4 रन से हार गया.