Submit your post

Follow Us

क्लाइमेट चेंज को पहली बार बीमारी के रूप में रिपोर्ट किया गया, डॉक्टर ने वजह भी बताई

क्लाइमेट चेंज यानी जलवायु परिवर्तन के कारण लोग बीमार पड़ रहे हैं, ये बात सबको पता है. हालांकि शायद ही कभी इसे बीमारी के रूप में डायग्नोस किया गया हो. आमतौर पर यही कहा जाता रहा है कि क्लाइमेट चेंज की वजह से लोग कई तरह की बीमारियों का शिकार हो रहे हैं. लेकिन पहली बार ऐसा हुआ है कि क्लाइमेट चेंज को ही बीमारी के रूप में रिपोर्ट किया गया है. खबरों के मुताबिक कनाडा की एक मरीज की सांस की तकलीफ के डायग्नोसिस में ‘क्लाइमेट चेंज’ का नाम लिया गया है. कहा जा रहा है कि संभवतः ये अपनी तरह का पहला केस है, जिसमें मरीज के बीमार होने के पीछे की बीमारी क्लाइमेंट चेंज को बताया गया है.

मामला क्या है?

कनाडा का ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत. यहां के एक डॉक्टर काइल मेरिट के पास कुछ महीने पहले एक 70 वर्षीय महिला आई. बुजुर्ग महिला ने डॉ. काइल को बताया कि उसे गर्मियों में सांस लेने में दिक्कत हो रही थी और उन्हें लू भी लग गई थी. इस वजह से उन्हें तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया गया. इलाज के दौरान डॉ. काइल ने पाया कि महिला के बीमार होने की असल वजह अस्थमा या सांस से जुड़ी कोई दूसरी बीमारी नहीं, बल्कि जलवायु परिवर्तन है. महिला की डायग्नोसिस डिटेल रिपोर्ट में उन्होंने बकायदा महिला की बीमारी के लिए क्लाइमेट शब्द का इस्तेमाल किया है.

डॉ. मेरिट ने अपनी रिपोर्ट में लिखा कि बुजुर्ग महिला डायबिटीज और दिल की बीमारी से भी पीड़ित है. हालांकि उन्होंने महिला का नाम सार्वजनिक नहीं किया है. लेकिन उन्होंने ट्रीटमेंट रिपोर्ट में क्लाइमेट चेंज को बीमारी क्यों कहा, इस बारे में डॉ. मेरिट ने आग्रह करते हुए कहा है,

अगर हम केवल लक्षणों का इलाज करते रहेंगे और बीमारी की तह तक नहीं जाएंगे तो हालात और बिगड़ेंगे.

डॉ. काइल ने बताया कि इस मरीज की बीमारी का पता उन्हें जून में लगा था. उस वक्त कनाडा में लू चल रही थी. हालात इतने खराब थे कि अकेले ब्रिटिश कोलंबिया में कई लोगों की मौत हो गई थी. मौसम से जुड़ी रिपोर्टों में पाया गया कि हवा की गुणवत्ता काफी खराब हो गई थी.

इस बारे में डॉ. काइल ने कहा,

मुझे नहीं लगता कि लोगों ने पर्यावरण को हो रहे नुकसान या इसमें तेजी से आ रही गिरावट को लेकर गंभीरता दिखाई है. मैंने इस मरीज का इलाज किया है, इसलिए मैं कह सकता हूं कि क्लाइमेट चेंज के क्या असर हो सकते हैं.

इस मामले के सामने आने के बाद ब्रिटिश कोलंबिया के डॉक्टरों और नर्सों ने प्लेनेटरी हेल्थ नाम का संगठन बनाया है. फिलहाल इसमें 40 हेल्थ केयर प्रोफेशनल्स है. ये ग्रुप दिन-ब-दिन खराब होते पर्यावरण से जुड़े हेल्थ इशूज के बारे में लोगों को जागरूक करने का काम करता है.

बता दें कि पिछले दिनों ग्लास्गो में हुए COP-26 क्लाइमेट समिट में भी ग्लोबल टेंप्रेचर और एक्सट्रीम हीट वेव्स का मामला उठा था. इस समिट में अलग- अलग देशों के नेताओं ने इस बात पर चर्चा की थी कि क्लाइमेट चेंज की इस समस्या से छुटकारा कैसे मिले.

(ये स्टोरी हमारे यहां इंटर्नशिप कर रहीं आरुषि ने लिखी है.)


नेटफ्लिक्स पर रिलीज़ हुई वेब सीरीज़ ‘मेड’ की कहानी में क्या खास है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.