Submit your post

Follow Us

KKR के मालिक SRK ने गंभीर को ऐसा क्या दिया, जो दादा को मांगने पर भी नहीं मिला था?

सौरव गांगुली. इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और मौजूदा BCCI प्रेसिडेंट. गांगुली ने IPL में भी दो टीमों के लिए खेला है. अपने IPL करियर की शुरुआत कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ करने वाले दादा बाद में पुणे वॉरियर्स के लिए भी खेले थे. KKR के साथ पहले सीजन में दादा टीम के कैप्टन भी थे. अब एक इंटरव्यू में दादा ने अपनी कप्तानी के दिनों को याद किया है.

गौतम गंभीर के एक हालिया इंटरव्यू का ज़िक्र करते हुए दादा ने कहा कि शाहरुख ने उनकी बात नहीं मानी थी. दरअसल गंभीर ने हाल ही में कहा था कि शाहरुख खान ने उनसे वादा किया था कि KKR की कप्तानी में उनको फ्री हैंड मिलेगा. दादा के मुताबिक उन्होंने भी शाहरुख से यही मांग की थी लेकिन उनकी मांग को नकार दिया गया था.

एक यूट्यूब चैनल के साथ इंटरव्यू के दौरान दादा ने कहा,

‘मैं एक इंटरव्यू देख रहा था जहां गौतम गंभीर ने कहा कि चौथे साल में शाहरुख ने उनसे कहा था- यह तुम्हारी टीम है, मैं हस्तक्षेप नहीं करूंगा.’ मैंने शाहरुख से ठीक यही बात पहले साल कही थी. सब मुझपर छोड़ दो, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. IPL की बेस्ट टीम्स वही हैं जिन्हें प्लेयर्स के भरोसे छोड़ दिया गया. चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को देखिए, उसे MS धोनी चलाते हैं. मुंबई में भी कोई रोहित शर्मा के पास जाकर ये नहीं कहता कि इन प्लेयर्स को सेलेक्ट करो.’

# बुकानन से समस्या

गांगुली की कप्तानी में KKR ने पहले सीजन छठे नंबर पर फिनिश किया था. बाद में दादा ने 2010 सीजन में भी टीम की कप्तानी की थी. बीच में साल 2009 में उन्हें कप्तानी से हटाया भी गया था. इस बारे में दादा ने कहा,

‘समस्या सोच में थी. कोच (जॉन बुकानन) को यकीन था कि हमें चार कप्तानों की जरूरत थी. इसलिए यह बस एक अलग तरह का ओपनियन था. उन्होंने सोचा- मुझे चार कप्तान रखने चाहिए, फिर मैं इसे अपनी तरह से चला पाउंगा.’

बुकानन को 2009 सीजन के बाद हटा दिया गया था और दादा को कप्तानी फिर से मिल गई थी. हालांकि 2010 सीजन के बाद टीम ने उन्हें रिटेन नहीं किया और गंभीर को कप्तानी सौंप दी गई. दादा ने बुकानन से अपने रिश्तों के बारे में कहा,

‘बुकानन के साथ समस्या पहले सीजन के आखिरी दिनों में शुरू हुई. समस्या मैं नहीं था, समस्या एक कप्तान रखने वाला सिस्टम था. हमारे पास ब्रेंडन मैकलम, मिस्टर X और फिर एक बोलिंग कैप्टन था. और मुझे पता भी नहीं कि और किस बात का कैप्टन था.’

दादा से पहले आकाश चोपड़ा ने भी गांगुली और बुकानन के रिश्तों पर कमेंट किया था. शुरुआती दिनों में KKR से जुड़े रहे चोपड़ा ने हाल ही में कहा था कि बुकानन गांगुली को कप्तान की पोस्ट से हटाना चाहते थे क्योंकि उन दोनों के स्वभाव में अंतर था.


सौरव गांगुली के वो पांच फैसले, जिन्होंने इंडियन क्रिकेट को हमेशा के लिए बदल डाला

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया

एक दिन पहले ही उज्जैन के महाकाल से पकड़ा गया था विकास दुबे.

कानपुर कांड : आरोपी की गिरफ़्तारी में सच कौन बोल रहा? यूपी पुलिस या आरोपी के घरवाले?

वीडियो में क्या कहा कानपुर कांड के आरोपी ने?

विकास दुबे को बचाने के लिए अपने ही साथियों को धोखा देने वाले दो पुलिसवाले धर लिए गए हैं

घटना में आठ पुलिसवाले शहीद हुए थे.

PM Cares के पैसों से बने वेंटिलेटर पर सवाल उठे तो बनाने वाले ने राहुल गांधी को घेर लिया

कहा कि राहुल गांधी के सामने डेमो दिखा सकता हूं.

क्या गलवान में पीछे हटकर चीन 1962 वाली चाल दोहरा रहा है?

58 साल पहले भी ऐसा ही हुआ था. पहले चीन गलवान में पीछे हटा और कुछ दिन बाद भारत पर हमला कर दिया.

सरकार ने वो आदेश दिया है कि कंपनियां मास्क और सैनिटाइज़र के दाम में मनचाहा बदलाव कर सकती हैं

राज्यों ने शिकायत नहीं की, तो सरकार ने आदेश निकाल दिया

बुरी खबर! 'मेरे जीवनसाथी', 'काला सोना' जैसी फ़िल्में बनाने वाले प्रड्यूसर हरीश शाह नहीं रहे

कैंसर से जारी जंग आखिरकार हार गए.

दिल्ली की जेल में सजा काट रहे सिख दंगे के दोषी नेता की कोरोना से मौत हो गई

विधायक रह चुके इस नेता की कोरोना रिपोर्ट 26 जून को पॉज़िटिव आई थी.

श्रीलंका का ये क्रिकेटर हत्या के आरोप में गिरफ्तार

44 टेस्ट, 76 वनडे और 26 टी20 खेल चुका है.

लेह में दिए अपने भाषण में पीएम मोदी ने चीन का नाम लिए बिना क्या-क्या कहा?

जवानों पर, बॉर्डर के विकास पर, दुनिया की सोच पर बहुत कुछ बोला है.