Submit your post

Follow Us

इस तरह से 132 साल के इंतज़ार के बाद जीता है इंग्लैंड!

1888 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक सीरीज़ हुई थी. अजी तब ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच ही सीरीज़ होती थी. उस सीरीज़ में इंग्लैंड की टीम 1-0 से पिछड़ गई थी. लेकिन उसके बाद बाकी दोनों मैच जीतकर इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को वापस घर भेजा.

ये इकलौती ऐसी सीरीज़ थी, जिसमें अपने घर में पहला पंच खाने के बाद इंग्लैंड ने दूसरी टीम को धोबी-पछाड़ मारा था. लेकिन अब यानी 132 सालों बाद पहली बार इंग्लैंड ने घर में 1-0 से पिछड़ने के बाद कोई सीरीज़ जीत ली है.

स्टुअर्ट ब्रॉड के 10 विकेट और वेस्टइंडीज़ के खराब से भी खराब खेल की मदद से इंग्लैंड तीन मैचों की सीरीज़ के आखिरी टेस्ट को 269 रनों से जीत लिया है. कोरोना वायरस लॉकडाउन के बाद ‘रेज़ दी बैट’ नाम से खेली गई सीरीज़ पर इंग्लैंड ने 2-1 से कब्ज़ा जमा लिया है. चलिए अब आपको फटाक से बता देते हैं कि कैसे इंग्लैंड जीता और कैसे वेस्टइंडीज़ ने खुद अपने पैर पर कुल्हाड़ी मार ली.

तीसरे टेस्ट में क्या हुआ:

मैनचेस्टर में 24 तारीख से सीरीज़ का आखिरी मैच शुरू हुआ. वेस्टइंडीज़ के कप्तान जेसन होल्डर ने टॉस जीता. लेकिन फिर से वो ही किया. टॉस जीतकर पहले बोलिंग. अब बताइये जिस मैदान पर आप पिछला ही टेस्ट पहले बोलिंग करते हुए हारे हों. वहां पर फिर से ऐसा फैसला.

खैर, इंग्लैंड पहले बैटिंग के लिए आ गई. ओली पोप (91 रन), जोस बटलर (67 रन), रोरी बर्न्स (57) और आखिर में स्टुअर्ट ब्रॉड की 62 रनों की पारी से इंग्लैंड ने 369 रन बना दिए.

UAE में IPL 2020 को लेकर BCCI और भारत सरकार में कहां बात फंसी है?

वेस्टइंडीज़ की पहली पारी:

वेस्टइंडीज़ की टीम पहली पारी में खेलने उतरी. लेकिन उनका हाल इतना बेहाल रहा कि कोई भी बल्लेबाज़ 50 रन बना नहीं बना सका. पूरी की पूरी टीम 197 रनों पर ढेर हो गई. और ये सब हुआ किसकी वजह से. उन स्टुअर्ट ब्रॉड की वजह से जिन्हें बेमतलब ही पहले टेस्ट से बाहर बिठा दिया था.

ब्रॉड ने वेस्टइंडीज़ की पहली पारी में छह विकेट लिए और अपनी टीम को 172 रनों की लीड दिला दी. अंदाज़ा लगाइये. जिस विकेट पर ब्रॉड, एंडरसन, आर्चर और वोक्स की चौकड़ी हो. वहां 172 रन की लीड. भाईसाहब फिर तो कोई द्रविड़-लक्ष्मण जैसा चमत्कार ही आपको जिता सकता है.

इंग्लैंड की दूसरी पारी:

अब देखिए जिस विकेट पर वेस्टइंडीज़ के बल्लेबाज़ मिलकर भी 197 रन ही बना पाए. वहां पर दूसरी पारी में इंग्लैंड के सिर्फ तीन बल्लेबाज़ों ने 216 रन खड़े कर दिए. दूसरी पारी में रोरी बर्न्स (90), डॉम सिबली (56) और कप्तान जो रूट (68) तीनों ने फिफ्टी मारी और मैच के तीसरे दिन ही वेस्टइंडीज़ को 399 रनों का टार्गेट दे दिया.

इंग्लैंड को मैनचेस्टर के मौसम का हाल अच्छे से पता था. उन्हें पता था कि भले ही वेस्टइंडीज़ के खिलाड़ी काम खराब ना करें. लेकिन मैनचेस्टर का मौसम उनका खेल बिगाड़ सकता है. इसीलिए उन्होंने शुरुआत से ही कमाल किया और हर मौके को भुनाया.

वेस्टइंडीज़ को मिला 399 का टार्गेट:

399 के जवाब में तीसरे दिन ही सिर्फ 10 रन पर वेस्टइंडीज़ के दो बैट्समेन पवेलियन भी लौट गए. अब दो दिन के खेल में इंग्लैंड को सिर्फ आठ विकेट चाहिए थे. मैच का चौथा आया और बिना एक भी गेंद खेले चला भी गया. चौथा दिन वेस्टइंडीज़ के लिए एक वरदान बनकर आया. पूरे दिन मैनचेस्टर में जमकर बारिश हुई. लेकिन अभी पांचवा दिन बाकी था.

पांचवें दिन भी बारिश थी. लेकिन बारिश से ज़्यादा खतरा तो खुद वेस्टइंडीज़ को अपने बल्लेबाज़ों से था. भाईसाहब ऐसे-ऐसे विकेट दिए हैं कि मानो मैच खत्म करने की जल्दी इंग्लैंड से ज़्यादा उन्हें ही थी.

पूरी टीम आखिरी पारी में सिर्फ 37.1 ओवर खेलकर 129 के टोटल पर ऑल-आउट हो गई. वनडे में भी कोई टीम इतना जल्दी नहीं लौटती है. क्रिस वोक्स ने मैच के आखिरी दिन पांच विकेट लिए.

Stuart Broad (2)
स्टुअर्ट ब्रॉड. फोटो: Ap

आखिरी दिन एक और खास चीज़ हुई. स्टुअर्ट ब्रॉड के 500 टेस्ट विकेट. बंदे ने पहले मैच में ना खिलाने का पूरा बदला वेस्टइंडीज़ से लिया. दूसरे टेस्ट में छह विकेट लेकर मन नहीं भरा. तो आखिरी टेस्ट में दोनों पारियों में कुल 10 विकेट ले लिए. इतना ही नहीं इस मैच में तो 62 रनों की सुपरफास्ट हाफ-सेंचुरी भी ठोक दी और बता दिया कि अभी उनका टाइम पूरा नहीं हुआ है.

साल 2019 में जो वेस्टइंडीज़ की टीम विज़डन सीरीज की ट्रॉफी छीनकर ले गई थी. इंग्लैंड ने उसे वापस हासिल कर लिया है. इंग्लैंड ने ये सीरीज़ जीती. लेकिन वेस्टइंडीज़ की टीम को मानना पड़ेगा. कोरोना काल के मुश्किल वक्त में भी पूरी टीम ने इंग्लैंड दौरे के लिए हामी भरी और एक बार फिर से मैदान पर क्रिकेट को लौटाया.

वेस्टइंडीज़ के इस हिम्मत वालें फैसले के लिए दुनियाभर के क्रिकेट फैंस सोशल मीडिया पर विंडीज़ टीम की तारीफ कर रहे हैं.

वहीं इंग्लैंड ने इस सीरीज़ को जीतकर अगली सीरीज़ से पहले ही हमारे पड़ोसी, चचा पाकिस्तान को भी सख़्त संदेश दे दिया है कि भाईसाहब लॉकडाउन के चक्कर में ये मत समझ लेना कि हम खेल खेलना भूल गए हैं. क्रिकेट के पप्पा अब भी हम ही हैं.

हमारी खास पेशकश क्रिकेट की बमचक में इंग्लैंड-वेस्टइंडीज़ सीरीज़ तो यहीं खत्म हो गई है. लेकिन असली वाला क्रिकेट तो अभी शुरू हुआ है. फिर चाहे आने वाले दिनों में पाकिस्तान-इंग्लैंड सीरीज़ हो, सीपीएल हो या फिर जिसका आप सभी बेसब्री से इंतज़ार कर रहे हैं. यानि अपना आईपीएल.

इन सभी सीरीज़ और मैचों की हर खबर और अपडेट को आपको दी लल्लनटॉप पर लगातार मिलती रहेगी.


UAE में IPL 2020 शुरू होने से पहले फ्रेंचाईज़ के सामने एक साथ आई पांच आफतें: 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ FIR दर्ज़ करवाई

सुशांत ने 14 जून को सुसाइड कर लिया था.

अयोध्या में 5 अगस्त के भूमि पूजन को लेकर क्या-क्या तैयारियां चल रही हैं

रामलला की पोशाक से लेकर अयोध्या में रंग-रोगन तक की सारी बातें.

कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को हड़काया, दिल्ली दंगे में पिंजरा तोड़ पर ऐसी बयानबाज़ी क्यों?

पुलिस ने क्या जवाब दिया, वो भी देखिए.

जिस मेट्रो स्टेशन के नीचे दंगे हुए, 5 महीने बाद भी दिल्ली पुलिस ने वहां से CCTV फ़ुटेज नहीं निकाली!

कोर्ट ने कहा, 'पुलिस में अजीब-सी सुस्ती है वीडियो फ़ुटेज को लेकर'

मास्क बांटने के बहाने बच्चे को किडनैप किया, चार करोड़ मांगे, पुलिस ने 24 घंटे में पकड़ लिया

यूपी के गोंडा का मामला, पांच आरोपी भी गिरफ्तार.

चुनाव आयोग ने बीजेपी IT सेल से जुड़ी कंपनी से चुनावी कामधाम करवाया!

ये कम्पनी पूर्व महाराष्ट्र सरकार और दूसरे सरकारी विभागों का भी काम देख रही थी.

इंडिया में कोरोना की वैक्सीन का दाम पता चल गया है, लेकिन पैसे आपको नहीं देने होंगे!

क्या कहा बनाने वाले आदर पूनावाला ने?

बाइक चला रहे CJI बोबड़े पर ट्वीट करने पर twitter और वकील प्रशांत भूषण पर अवमानना का केस हो गया!

सुनवाई में ट्वीट डिलीट करने की बात पर कोर्ट ने क्या कहा?

जाटों-पंजाबियों को बिना बुद्धि का बोलकर माफ़ी मांगने लगे बीजेपी के सीएम

और कौन? वही त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब.

इन तीन परिवारों के उजड़ने की कहानी से समझिए कि कोरोना से बचाव कितना ज़रूरी है

पहले मां की मौत, फिर एक के बाद एक 5 बेटों की मौत