Submit your post

Follow Us

2 साल में राम रहीम ने जेल में कमाए 18 हजार रुपए, कम हुआ 15 किलो वजन

5
शेयर्स

25 अगस्त 2017. पंचकुला की सीबीआई कोर्ट. 15 साल पुराने बलात्कार के मामले का फैसले वाला दिन. बलात्कार का आरोपी डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम 800 गाड़ियों का काफिला लेकर पहुंचा था. लेकिन गया सरकारी हैलीकॉप्टर से. क्योंकि लाखों की संख्या में जुटे उसके समर्थकों ने सड़कों पर दंगा, आगजनी और मार-काट शुरू कर दिया था. पंचकुला की सड़कों पर दर्जनों लाशें पड़ीं थीं. सीबीआई की विशेष अदालत ने राम रहीम को दोषी करार दिया था. ये केस राम रहीम की ही दो शिष्याओं ने 16 साल पहले दर्ज कराया था. इनमें से एक पीड़िता नाबालिग थी. तीन दिन बाद कोर्ट ने उसे रेप के दोनों मामलों में10-10 साल की सजा सुनाई. बाद में पत्रकार छत्रपति हत्याकांड में भी उसे सजा मिली. उम्रकैद की.

राम रहीम को सजा सुनाने के लिए जेल में अस्थायी अदालत लगाई गई थी.
राम रहीम को सजा सुनाने के लिए जेल में अस्थायी अदालत लगाई गई थी.

कैदी नंबर 8647 
राम रहीम को रोहतक की सुनारिया जेल में बंद कर दिया गया. और बिल्ला थमा दिया गया कैदी नं. 8647 का. अब जेल में उसकी यही पहचान है. राम रहीम की सारी चमक-धमक 15 फीट लंबी और 10 फीट चौड़ी कोठरी में सिमट कर रह गई है. जेल प्रशासन ने उसे सब्जियां उगाने के काम में लगा दिया है. उसके बैरक के पास 6 सौ गज की जमीन है. उसी में आलू, गोभी, मटर, टमाटर वगैरह उगाता है. इन्हीं सब्जियों से कैदियों के लिए खाना बनाया जाता है. इसकी दिहाड़ी भी उसको मिलती है. पूरे 20 रुपए. राम रहीम पिछले दो साल से इस जेल में है. दो साल से सब्जियां उगा रहा है. उसके 20-20 इकट्ठे होकर अब 18 हजार रुपए हो गए हैं. इतना ही नहीं उसका वजन भी कम हो गया है. जब राम रहीम जेल आया था तो 105 किलो वजन था. जो अब घटकर 90 किलो हो चुका है.

सुनरिया जेल में राम रहीम को किसी से मिलने की परमिशन नहीं है. तो समर्थक जेल के बाहर सड़क पर ही हाथ जोड़कर खड़े रहते हैं.
सुनरिया जेल में राम रहीम को किसी से मिलने की परमिशन नहीं है. तो समर्थक जेल के बाहर सड़क पर ही हाथ जोड़कर खड़े रहते हैं.

इतनी चिट्ठियां आईं कि डाक कर्मचारियों को ओवरटाइम करना पड़ा

राम रहीम भले ही हत्या और बलात्कार के मामले में सजा काट रहा हो लेकिन उसके समर्थकों में कोई कमी नहीं आई है. 15 अगस्त यानी रक्षाबंधन के दिन तक जेल प्रशासन को लगभग 8 हजार लेटर मिले थे. जिनमें उसके अुनयायियों ने राखी और जन्मदिन के कार्ड भेजे थे. जिसके कारण पोस्ट ऑफिस के कर्मचारियों को ओवरटाइम भी करना पड़ा. डेरा प्रमुख का जन्मदिन रक्षाबंधन के दिन ही यानी 15 अगस्त को था.


वीडियो: डेरा प्रमुख राम रहीम रेपिस्ट ही नहीं हत्यारा भी है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बवाल हुआ तो JNU प्रशासन ने मंत्रालय से कैम्पस को बंद करने की मांग उठा दी

मंत्रालय ने भी ये जवाब दिया.

5 जनवरी की रात तीन बजे तक JNU कैम्पस में क्या-क्या हुआ?

जेएनयू कैम्पस में 5 जनवरी को नकाबपोशों ने स्टूडेंट्स और टीचर्स पर हमला किया.

2015 और इस बार के दिल्ली विधानसभा चुनाव में क्या अंतर है?

चुनाव के नतीजे 11 फरवरी को आएंगे.

JNU छात्रों पर हमले के बाद VC एम जगदीश कुमार क्या बोले?

नकाबपोश गुंडों ने कैंपस में मारपीट की थी.

जानिए, 5 जनवरी की दोपहर और शाम JNU कैंपस में क्या हुआ?

दो-तीन दिनों से कैंपस में तनाव था. अगले सेमेस्टर के रजिस्ट्रेशन पर स्टूडेंट्स में झड़पों की भी ख़बरें आईं थीं.

कोर्ट के आदेश के बाद वो 3 मौके, जब योगी सरकार ने 'दंगाइयों' से जुर्माना नहीं वसूला

और सवाल उठ रहे कि इस बार ही क्यों?

मोदी के जिस ड्रीम प्रोजेक्ट पर सरकार ने करोड़ों खर्च किये वो फ्लॉप हो गया

इसके प्रचार के लिए सरकार ने जगह-जगह बड़े-बड़े होर्डिंग्स लगवाए थे.

नए साल की पहली खुशखबरी आ गई, रेलवे का किराया बढ़ गया

सेकंड क्लास, स्लीपर, फ़र्स्ट क्लास, एसी सबका किराया बढ़ा है रे फैज़ल...

CAA Protest : यूपी पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाने वालों को पुलिस ने क्यों ब्लॉक किया?

यूपी पुलिस की इस कार्रवाई का क्या मतलब है?

जिस अधिकारी पर प्रियंका गांधी ने गला दबाने का आरोप लगाया उसने क्या कहा है

भाई की मौत की खबर मिलने के बाद भी ड्यूटी पर तैनात थीं अफसर.