Submit your post

Follow Us

बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ट्विटर पर फेक न्यूज से नफरत फैला रहे थे, दिल्ली पुलिस ने हड़का दिया

पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी के सांसद प्रवेश वर्मा. दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान विवादित बयानों के बाद चर्चा में आए थे. अब फिर चर्चा में हैं. उन्हें दिल्ली पुलिस ने ट्विटर पर झिड़क दिया है. क्यों? उन्होंने गुरुवार, 14 मई को अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया और दावा किया कि लॉकडाउन के दौरान मस्जिद में बड़ी संख्या में लोग नमाज़ पढ़ रहे हैं. दिल्ली पुलिस ने इसे फेक बताया. डीसीपी ईस्ट दिल्ली के ट्विटर हैंडल से इस जवाब के बाद प्रवेश वर्मा ने अपना ट्वीट डिलीट कर लिया.

प्रवेश वर्मा ने अपने ट्वीट में लिखा,

कोई भी धर्म कोरोना वायरस के चलते इन हरकतों की इजाज़त देता है? लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की पूर्ण तरह से धज्जियां उड़ा दीं. जिन मौलवियों की तनख्वाहें बढ़ा रहे थे केजरीवाल, उनकी तनख्वाहें काट दो, ये हरकतें अपने आप रुक जाएंगी या आपने दिल्ली को नष्ट करने की कमस खा ली है?

प्रवेश वर्मा का ट्वीट जो उन्होंने डिलीट कर लिया है.
प्रवेश वर्मा का ट्वीट जो उन्होंने डिलीट कर लिया है.

‘अफवाह फैलाने से पहले तथ्यों की जांच करें’

डीसीपी ईस्ट दिल्ली की ओर से प्रवेश वर्मा के ट्वीट पर जवाब दिया गया,

ये पूरी तरह से झूठ है. अफवाह फैलाने के लिए दुर्भावनापूर्ण इरादे से इस पुराने वीडियो का इस्तेमाल किया जा रहा है. कृपया अफवाह फैलाने और पोस्ट करने से पहले तथ्यों की जांच करें.

प्रवेश वर्मा के ट्वीट पर डीसीपी ईस्ट दिल्ली का जवाब. फोटो: ट्विटर स्क्रीनशॉट
प्रवेश वर्मा के ट्वीट पर डीसीपी ईस्ट दिल्ली का जवाब. फोटो: ट्विटर स्क्रीनशॉट

आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने दिल्ली पुलिस की बात का हवाला देते हुए कहा,

भाजपा नेताओं को शर्म आनी चाहिए कि वो इस दौर में नफरत और अफवाहें फैला रहे हैं.

सफाई में प्रवेश वर्मा क्या बोले

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, प्रवेश वर्मा ने कहा,

किसी ने मुझे ट्वीट भेजा था. जब मुझे वीडियो की सच्चाई पता चली तो मैंने उसे डिलीट कर दिया.

डीसीपी (ईस्ट) जसमीत सिंह ने कहा, ‘ये वीडियो चार-पांच दिनों से चल रहा है और मैं लोगों को बता रहा हूं कि ये फेक है. अब लोग जागरूक हैं. हम कोई ऐक्शन नहीं ले रहे हैं.’

दिल्ली चुनाव में विवादित बयान दिए थे

प्रवेश वर्मा ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान कई विवादित भाषण दिए थे. जनवरी, 2020 में उन्होंने शाहीन बाग प्रदर्शन को लेकर कहा था,

शाहीन बाग़ में लाखों लोग हैं. दिल्ली के लोगों को सोचना होगा और फैसला लेना होगा. ये लोग आपके घरों में घुसेंगे. आपकी बहन-बेटियों का रेप करेंगे, उन्हें मारेंगे. आज समय है. कल मोदी जी और अमित शाह आपको बचाने नहीं आएंगे.

इसके अलावा उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तुलना आतंकवादी से कर दी थी. प्रवेश वर्मा के चुनाव प्रचार पर चुनाव आयोग ने रोक भी लगाई थी. बीजेपी को दिल्ली चुनाव में हार का सामना करना पड़ा था.


कोरोनावायरस: दिल्ली प्रशासन को लोगों ने मरते मजदूरों की याद दिलाकर रगेद दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब करने की बात पर सरकार ने कहा-कोविन प्लेटफॉर्म हैक नहीं हो सकता

सोशल मीडिया पर कुछ लोगों का कहना है कि ऐप के साथ छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब किए जा रहे हैं.

कोरोना से अनाथ हुए बच्चों की PM केयर्स फंड से इस तरह मदद करेगी सरकार

कमाऊ सदस्यों को खोने वाले परिवारों के लिए भी योजना का ऐलान.

PM मोदी के साथ मीटिंग को लेकर विवाद पर ममता बनर्जी बोलीं- इस तरह मेरा अपमान न करें

कहा-मुझे खुद इंतजार करना पड़ा.

UP बोर्ड: 10वीं की परीक्षा नहीं होगी, 12वीं का एग्जाम जुलाई के दूसरे सप्ताह में!

शिक्षा मंत्री दिनेश शर्मा का ऐलान.

अलीगढ़: जहरीली शराब से अब तक 22 की मौत, NSA के तहत कार्रवाई के निर्देश

आरोपियों पर 50-50 हजार का इनाम घोषित.

राजस्थान: बीच सड़क गोली मारकर डॉक्टर दंपति की हत्या के मामले में पुलिस को क्या पता चला है?

सोशल मीडिया में वायरल है CCTV फुटेज.

वो तस्वीर जिसमें पहलवान सुशील कुमार खुद सागर को पीटते दिख रहे हैं

'स्टेडियम में मारपीट के दौरान गैंगस्टर के भाई को पेशाब पिलाने की भी कोशिश हुई थी'.

सरकार के नए नियमों पर कोर्ट पहुंचा वॉट्सऐप, कहा- निर्दोष इंसान जेल जा सकता है

इस पर सरकार ने भी जवाब दिया है.

किस संस्था ने रामदेव के खिलाफ एक हजार करोड़ की मानहानि का केस करने की बात कही है?

इससे बचने के लिए बाबा को क्या करने की सलाह दी है?

ओडिशा पहुंचा तूफान 'यास', पटरियों से बांधने पड़े ट्रेन के पहिए

पश्चिम बंगाल से लेकर झारखंड हाई अलर्ट पर हैं.