Submit your post

Follow Us

भारत के खिलाफ बैट में सेंसर लगाकर क्यों खेले डेविड वॉर्नर?

वर्ल्ड कप 2019 का 14वां मैच. इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को हरा दिया. ऑस्ट्रेलिया के ओपनर बैट्समेन डेविड वॉर्नर ने इस मैच में धीमी बैटिंग की. वॉर्नर ने 84 गेंदों में 56 रन बनाए. बुमराह ने वॉर्नर को इस मैच में खूब परेशान किया. बुमराह ने इस मैच में अपने ओवर की पहली बॉल डाली और बॉल वॉर्नर के बैट का किनारा लेकर लेग स्टंप से टकराई. बॉल के विकेट से टकराने के बाद भी बेल्‍स नहीं गिरी और वॉर्नर आउट होने से रह गए. इसके बाद भी बुमराह ने वॉर्नर को मैच में परेशान किया.

वॉर्नर, बुमराह से निपटने के लिए बैट में सेंसर लगा कर बैटिंग को उतरे थे. इससे पहले प्रैक्टिस के दौरान भी वॉर्नर बैट में सेंसर लगा कर बैटिंग कर रहे थे. आईसीसी ने 2017 में बैट में सेंसर लगाने की मंजूरी दी थी लेकिन आस्ट्रेलियाई बैट्समेन के अलावा पिछले दो सालों में किसी और ने इसका इस्तमाल नहीं किया है. बेंगलुरू की ‘स्मार्ट क्रिकेट’ नाम की कंपनी ने बैट के सेंसर के लिए एक ख़ास तरह की सेंसर तैयार की है जिसका उपयोग वार्नर कर रहे हैं ताकि उन्हें बुमराह जैसे बॉलर्स का सामना करने में आसानी हो.

यह सेंसर चिप बैट के हैंडल के ऊपर लगाई जाती है. बैट्समेन जब बैटिंग कर रहे होते हैं उस दौरान चिप डेटा जमा करती है और यह डेटा ‘क्लाउड स्टोरेज’ के जरिए मोबाइल ऐप में जमा होती है. इसके जरिए पॉवर इंडेक्स, मैक्सिमम बैट स्पीड, रोटेशनल एंगल, बैकलिफ्ट एंगल आदि जैसी चीजों का पता चलता है. वॉर्नर को सेंसर से मिले डेटा के मुताबिक पता चला है कि बुमराह जैसे बॉलर्स को खेलने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए. जैसे कि बुमराह की यार्कर को खेलते हुए बैट स्पीड क्या रहना चाहिए, लाइन ऑफ बैट क्या होना चाहिए, बैट और बैक लिफ्ट का एंगल क्या रहना चाहिए.

पीटीआई में छपी रिपोर्ट के मुताबिक उदाहरण के लिए बुमराह की यॉर्कर को खेलने के लिए बैट की स्पीड 70-75 किलोमीटर प्रति घंटे की होनी चाहिए लेकिन वार्नर 85-90 की स्पीड से प्रैक्टिस कर रहे हैं. बुमराह का जिस तरह का एक्‍शन है, उसके हिसाब से बैक लिफ्ट का एंगल 120-125 डिग्री होना चाहिए. भुवनेश्वर कुमार के खिलाफ बैट विकेटकीपर की लाइन में होना चाहिए. स्पिनर के खिलाफ बैक लिफ्ट का एंगल 160 से 175 डिग्री के बीच होना चाहिए.


वीडियो- इंडिया मैच हार रहा था, ज़हीर खान के शानदार स्पेल ने मैच पलट के रख दिया था

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.