Submit your post

Follow Us

डॉक्टरों की सबसे बड़ी संस्था IMA ने कोरोना पर सरकार को खूब सुनाया है!

IMA यानी इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की आलोचना की है. कहा है कि वो इस मंत्रालय की सुस्ती को देखकर हैरान है. 8 मई को IMA ने एक बयान जारी किया. इसमें बताया कि उसने, केंद्र सरकार से पूर्ण लॉकडाउन की मांग की थी. लेकिन सरकार ने उनके प्रस्ताव को कूड़ेदान में डाल दिया. IMA ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को लिखा था कि वह नींद से जागे और चुनौतियों का सामना करे. IMA ने आरोप लगाया है कि उनके सदस्यों और चिकित्सा क्षेत्र के विद्वानों की सलाह को भारत सरकार ने दरकिनार कर दिया.

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन, भारत में डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों का सबसे बड़ा संगठन है. IMA ने अपने एक बयान में कहा है कि कोरोना के कारण जो संकट पैदा हुआ है, उससे निपटने में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ‘सुस्त’ रहा है.

संगठन ने कहा कि वो लगातार पूर्ण लॉकडाउन की मांग कर रहा है, ताकि स्वास्थ्य सुविधाओं को संभलने का वक्त मिल सके. साथ ही लॉकडाउन से ही संक्रमण के फैलने की चेन को तोड़ा जा सकेगा. IMA ने कहा कि केंद्र सरकार ने लॉकडाउन लगाने की सलाह को नहीं माना और नतीजा ये है कि रोजाना करीब 4 लाख नए केस सामने आ रहे हैं, इसके अलावा मॉडरेट से गंभीर मामलों की तादाद करीब 40 प्रतिशत तक बढ़ गई है. कुछ राज्यों ने 10 से 15 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की है लेकिन पूरे देश में लॉकडाउन जरूरी है ताकि संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सके.

India Covid
भारत में हर दिन कोविड से हज़ारों लोगों की मौत हो रही है. (तस्वीर: एपी)

IMA ने कहा कि कोरोना को लेकर जो भी फैसले लिए जा रहे हैं उनका जमीनी हकीकत से कोई लेना देना नहीं है. ऊपर जो लोग बैठे हैं वह जमीनी हकीकत को समझने के लिए तैयार ही नहीं हैं और इन बातों को ध्यान में लिए बगैर ही फैसले किए जा रहे हैं.

ऑक्सीजन की कमी को लेकर IMA ने कहा कि ऑक्सीजन का हर दिन संकट गहरा हो रहा है और लोगों की मौत हो रही है. इस बात से डॉक्टरों और और मरीजों में पैनिक भी हो रहा है. देश में ऑक्सीजन का प्रोडक्शन पर्याप्त है लेकिन डिस्ट्रीब्यूशन में दिक्कतें सामने आ रही हैं. इसके अलावा संगठन ने आंकडों में पारदर्शिता रखने को कहा है. IMA ने कहा कि पहली वेव में हमने 756 डॉक्टर खो दिए और इस वेव में अभी तक 146 डॉक्टरों की मौत हो गई है. वहीं अस्पतालों में हो रही सैकड़ों मौतों को गैर कोविड मौत बताया जा रहा है.


वीडियो- कोरोना की दूसरी लहर से पहले तैयारी का समय था फिर क्यों चूकी मोदी सरकार?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

वेस्टइंडीज़ के खिलाफ वनडे और T20I सीरीज के लिए किन प्लेयर्स को चुना गया?

वेस्टइंडीज़ के खिलाफ वनडे और T20I सीरीज के लिए किन प्लेयर्स को चुना गया?

किन नए चेहरों को जगह मिली और किसका कटा पत्ता?

कोहली को डिफेंड करने की आड़ में अपना एजेंडा चला रहे हैं रवि शास्त्री?

कोहली को डिफेंड करने की आड़ में अपना एजेंडा चला रहे हैं रवि शास्त्री?

शास्त्री पर भड़के पूर्व इंडियन क्रिकेटर.

किस टूर्नामेंट के जरिए टेनिस कोर्ट पर वापसी करेंगे नोवाक जोकोविच?

किस टूर्नामेंट के जरिए टेनिस कोर्ट पर वापसी करेंगे नोवाक जोकोविच?

जोकर फ़ैन्स के लिए खुशख़बरी.

ऑस्ट्रेलियन ओपन में बड़े उलटफेर का शिकार होते-होते बचे मेदवेदेव!

ऑस्ट्रेलियन ओपन में बड़े उलटफेर का शिकार होते-होते बचे मेदवेदेव!

सितसिपास के मैच में तो गजब ही हो गया.

ऑस्ट्रेलिया के पाकिस्तान टूर पर अब क्या संकट आ गया?

ऑस्ट्रेलिया के पाकिस्तान टूर पर अब क्या संकट आ गया?

डर रहे हैं ऑस्ट्रेलियन प्लेयर्स.

रेलवे परीक्षार्थियों की समस्या सुलझाने को लेकर रेल मंत्री ने क्या कदम उठाने को कहा?

रेलवे परीक्षार्थियों की समस्या सुलझाने को लेकर रेल मंत्री ने क्या कदम उठाने को कहा?

मंत्री बोले, छात्र हमारे साथी हैं. संवेदनशीलता से हल करेंगे समस्या.

RRB NTPC रिजल्ट के खिलाफ छात्रों को भड़काने के आरोप पर क्या बोले खान सर?

RRB NTPC रिजल्ट के खिलाफ छात्रों को भड़काने के आरोप पर क्या बोले खान सर?

"RRB अगर पहले ही ये स्टेप ले लेता, तो ये आंदोलन ना होता."

गांगुली-द्रविड़-लक्ष्मण और कुंबले ने कौन सा वर्ल्ड कप जीता है?

गांगुली-द्रविड़-लक्ष्मण और कुंबले ने कौन सा वर्ल्ड कप जीता है?

शास्त्री ने विराट के आलोचकों से पूछा कड़ा सवाल.

छात्र कर रहे हैं RRB NTPC में गड़बड़ी की बात, रेलवे का तो कुछ और ही कहना है

छात्र कर रहे हैं RRB NTPC में गड़बड़ी की बात, रेलवे का तो कुछ और ही कहना है

रेलवे के समझाने के बाद भी छात्र नहीं मान रहे?

बुरी तरह से बंट चुका है इंडियन क्रिकेट टीम का ड्रेसिंग रूम?

बुरी तरह से बंट चुका है इंडियन क्रिकेट टीम का ड्रेसिंग रूम?

कोहली को कप्तानी से भगाया गया?