Submit your post

Follow Us

गांवों तक पहुंचा कोरोना तो प्रशासन ने जागरुकता फैलाने का जबर तरीका निकाल लिया

कांगड़ा. हिमाचल प्रदेश का जिला. अपनी खूबसूरती के लिए मशहूर है. कोरोना वायरस दुनिया में फैला तो हिमाचल प्रदेश में भी तबाही मचाई. कांगड़ा भी अछूता नहीं रहा. शहरों के बाद पहाड़ों के गावों तक कोरोना पहुंचने लगा. ऐसे में प्रशासन ने गांव के लोगों तक जागरुकता फैलाने के लिए एक अनूठा तरीका अपनाया, जिसकी अब काफी तारीफ हो रही है.

इस वीडियो को देखिए. वीडियो हिमाचल प्रदेश के पालमपुर के बुनरी इलाके का है. वीडियो में एक बहरूपिया दिख रहा है. बहरूपिया यानी ऐसा शख्स जो भेष बदलता है. गांव देहातों में बहरूपिया लोग, भेष बदल-बदल कर कार्यक्रम दिखाते हैं. ये बहरूपिया एक राक्षस की भेषभूषा में दिख रहा है जिसके हाथ में तलवार है. वीडियो में यह लोगों को दो गज की दूरी, मास्क और सैनिटाइजेशन की बातें समझाते दिख रहा है.

अब इस वीडियो को देखें. ये कांगड़ा जिले का वीडियो है. वीडियो में एक शख्स जोर-जोर से आवाजें लगाते हुए लोगों से अपील कर रहा है कि घरों में ही रहें, बेहद जरूरी काम होने पर ही घरों से निकलें, मास्क और सैनेटाइजर का इस्तेमाल करें. खुद भी बचें और दूसरों को भी बचाएं. चौराहे पर लाउडस्पीकर लेकर टहलता ये बहरूपिया अपनी भेषभूषा के कारण अलग ही दिख रहा है.

ये दोनों वीडियो लोग वॉट्सऐप आदि के जरिए शेयर कर रहे हैं. इस मामले की अधिक जानकारी के लिए हमने बात की इंडिया टुडे ग्रुप से जुड़े धर्मशाला जिले के संवाददाता मृत्युंजय पुरी से. उन्होंने बताया,

“पिछले कुछ दिनों से जागरुकता फैलाने का ये अभियान स्थानीय प्रशासन के द्वारा चलाया जा रहा है. सुबह 8 बजे से 11 बजे तक लॉकडाउन में ढील दी जाती है. उस वक्त लोग सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखें और मास्क का इस्तेमाल करें, इसलिए प्रशासन ने ये शुरू किया है. इसके वीडिया काफी वायरल हो रहे हैं.”

कांगड़ा के डीसी (उपायुक्त) राकेश प्रजापति ने ‘दी लल्लनटॉप’ से बात करते हुए कहा कि हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिलाधिकारियों के साथ बातचीत की थी और जागरुकता फैलाने को कहा था जिसके बाद ही ये आइडिया आया. उन्होंने कहा,

“पीएम सर ने कहा था कि गांवों में फोकस रखा जाए, ग्राम पंचायतों में फोकस रखा जाए. और ये हमने भी गौर किया कि शहरों में मामले कम होते दिख रहे हैं, लेकिन गांवों में मामले थोड़े बढ़ रहे हैं. गांव के लोगों में जागरुकता फैलाने के लिए हमने ये कार्यक्रम शुरू किया. ये कलाकार स्थानीय पहाड़ी बोली में लोगों को समझाते हैं और इसके अच्छे रिजल्ट भी हमें देखने को मिल रहे हैं. अब लोग घरों में हैं और कोविड गाइडलाइंस को फॉलो भी कर रहे हैं.”

बात केवल कांगड़ा जिले की करें तो यहां अब तक कोरोना के 40,231 मामले सामने आ चुके हैं जिनमें से 30,402 लोग रिकवर हो चुके हैं जबकि 9050 लोग अभी भी कोरोना से जूझ रहे हैं. कोरोना के कारण जिले में 777 मौत भी हो चुकी है. वहीं पूरे हिमाचल में कोरोना की वजह से 2,707 लोग अपनी जान गवां चुके हैं.


वीडियो- अर्थात: क्या कोरोना से मरने वालों की असल संख्या सरकारी आंकड़ों से गायब है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.