Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन: ऑनलाइन सामान मंगवाने वालों के लिए अच्छी खबर है

पूरा देश लॉकडाउन है. 21 दिन के लिए. पीएम मोदी ने कहा कि ये एक तरह का कर्फ्यू ही है, जो ‘जनता कर्फ्यू’ से ज़्यादा सख़्त होगा. इस अनाउंसमेंट के बाद ऑनलाइन स्टोर्स की हालत खराब हो गई. ज़्यादातर ऑर्डर कैंसल होने लगे. अमेजन, फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियां पुराने ऑर्डर ही नहीं दे पा रहीं थीं. ग्रोफर्स और बिग बास्केट भी ऑर्डर डिलीवर नहीं कर पा रहे थे.

लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. एक बार फिर इन कंपनियों ने डिलीवरी शुरू कर दी है. गृह सचिव और ई-कॉमर्स फर्मों के बीच 25 मार्च को एक मीटिंग हुई. इसमें राज्य के पुलिस कमिश्नर DGP शामिल थे.

फ्लिपकार्ट ग्रुप के CEO कल्याण कृष्णमूर्ति ने बिजनेस टुडे को बताया,

लॉक डाउन के दौरान ये क्लियर करने के लिए कि ई-कॉमर्स का काम जरूरी सेवा के तहत आएगा हम सरकार और स्थानीय प्रशासन के शुक्रगुजार हैं. सरकार ने हमारी सप्लाई चेन के लिए सुरक्षा का भरोसा दिया है. इसलिए हम अपनी सेवा फिर से शुरू कर रहे हैं. फ्लिपकार्ट शाम 7 बजे से फिर से डिलीवरी शुरू करेगा.

ग्रोफर्स ने ट्वीट किया,

हमने ऑडर लेना शुरू कर दिया है. और आपके ग्रोसरी से संबंधित जरूरी सामान की डिलिवरी शुरू कर दी है. हमारी सेवा फिर से शुरू करने में स्थानीय प्रशासन हमारी मदद कर रहा है.

बिग बास्केट के प्रवक्ता ने कहा,

ग्रोसरी डिलीवरी एक आवश्यक सेवा है. इसलिए हम लॉकडाउन के दौरान हमेशा की तरह अपने कार्यों को जारी रखने की पूरी कोशिश कर रहे हैं. जैसा कि हम करते आए हैं. हमें और दूसरी ग्रोसरी डिलिवर करने वाली कंपनियों के लिए यह जरूरी है कि केंद्र और राज्य सरकारों के बीच तालमेल बना रहे. साथ ही राज्य सरकार और पुलिस के बीच बेहतर तालमेल जरूरी है जिससे हमारे डिलिवरी वैन और बाइक को पुलिस न रोके, ताकि हम बिना किसी रुकावट के डिलीवरी कर सकें.

केंद्र ने सभी राज्यों को सलाह दी थी कि लॉकडाउन के दौरान ई-कॉमर्स सहित सभी आवश्यक सेवाओं को काम करने दें. लेकिन राज्यों ने लॉकडाउन लागू करवाने वाले अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश नहीं दिए. इसलिए दिक्कत हुई.

लेकिन 25 मार्च की मीटिंग के बाद अब चीजें क्वलियर हो गई हैं.

वहीं दूसरी ओर कई जगहों पर बिग बाज़ार ने अपने मॉल के ज़रिए डोरस्टेप डिलीवरी की शुरुआत की है. इनमें मुंबई, नोएडा, ग़ाज़ियाबाद, दिल्ली, रांची, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, गुजरात, राजस्थान जैसी जगहें शामिल हैं. इस बारे में बिग बाज़ार की तरफ से ट्विटर पर अलग-अलग इलाकों के लिए नंबर भी जारी किए गए हैं.


PM मोदी के लॉकडाउन के ऐलान के बाद सरकार ने क्या नियम कानून बनाए?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

रेड जोन में भी जल्द से जल्द लॉकडाउन खत्म करने के पक्ष में क्यों हैं मोंटेक सिंह अहलूवालिया?

बोले- लॉकडाउन की वजह से सबसे ज्यादा प्रभावित गरीबों के लिए सरकार योजना लाए.

राहुल गांधी बोले- कोरोना से लड़ाई में एक मजबूत PM काफी नहीं, कई मजबूत CM और DM की जरूरत

कहा- सरकार को 17 मई के बाद लॉकडाउन खोलने के लिए स्ट्रैटेजी तय करनी ही होगी.

थके हुए 16 मज़दूर रेल की पटरी पर सो रहे थे, मालगाड़ी से कुचल गए

अब सभी मज़दूरों के शव पटरी के ऊपर बिखरे पड़े हैं.

कोरोनावायरस : दिल्ली के इस ट्रॉमा सेंटर का हाल देखकर आप माथा पीट लेंगे!

संक्रमण फैल रहा, लेकिन अस्पताल बोल रहा है कि ड्यूटी करो.

सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार ने बताया, दूसरे आर्थिक पैकेज में क्या मिलेगा

चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर कृष्णमूर्ति सुब्रह्मण्यम ने कोरोना संकट से निकलने का प्लान बताया.

विशाखापटनम में कंपनी से जहरीली गैस के रिसाव के बाद कैसे थे हालात, तस्वीरों में देखिए

अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है. हजारों लोग प्रभावित हुए हैं.

छह अस्पतालों ने इलाज करने से मना कर दिया, आठ दिन की बच्ची मौत हो गई

आगरा में 15 दिन में तीन ऐसे मामले देखे गए हैं, जब हॉस्पिटल ने इलाज करने से मना कर दिया.

इटली का दावा, कोरोना वायरस की वैक्सीन मिल गयी

चूहों से इंसानों तक वैक्सीन का सफ़र

इन राज्यों में शराब की होम डिलीवरी कैसे होगी, क्या हैं नियम और तरीके?

शराबियों ने सोशल डिस्टेंसिंग तोड़ी, तो सरकार ने यह तरीका निकाला है.

हॉस्पिटल ने कह दिया कि दाढ़ी कटवाओ, अब डॉक्टर प्रोटेस्ट कर रहे हैं

काम से हटाए जाने के बाद ये लोग विरोध कर रहे हैं.