Submit your post

Follow Us

जलियांवाला बाग का रेनोवेशन राहुल गांधी के लिए 'शहीदों का अपमान', अमरिंदर बोले- मुझे तो सही लगा

जलियांवाला बाग मेमोरियल के नवीनीकरण को लेकर सोशल मीडिया से लेकर कांग्रेस पार्टी तक में एक नई बहस छिड़ गई है. जहां एक तरफ सोशल मीडिया पर इसके नवीनीकरण को लेकर लोग पक्ष-विपक्ष में खड़े हैं, वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के बयानों में भी विरोधाभास दिख रहा है.

कैप्टन की राय राहुल से अलग

साल 2019 में जलियांवाला बाग (Jallianwala Bagh) हत्याकांड के 100 बरस पूरे होने पर केंद्र की मोदी सरकार ने एक फैसला लिया था. फैसला था जलियांवाला बाग मेमोरियल के नवीनीकरण का. इस काम के लिए सरकार ने करोड़ों रुपये के बजट का ऐलान किया था. लेकिन इस पर असली महाभारत लगभग ढाई साल बाद यानी अगस्त 2021 के आखिर में छिड़ गई है. जब पीएम मोदी ने जलियांवाला बाग मेमोरियल के नए स्वरूप का उद्घाटन किया और इसकी कुछ तस्वीरें सामने आईं.

कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार 31 अगस्त को अपने एक ट्वीट में लिखा,

“जलियांवाला बाग़ के शहीदों का ऐसा अपमान वही कर सकता है जो शहादत का मतलब नहीं जानता. मैं एक शहीद का बेटा हूं. शहीदों का अपमान किसी क़ीमत पर सहन नहीं करूंगा. हम इस अभद्र क्रूरता के ख़िलाफ़ हैं.”

हालांकि राहुल गांधी के ट्वीट के कुछ घंटों बाद ही पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का बयान आया. इसे शेयर करते हुए लोगों ने ट्विटर पर राहुल गांधी की चुटकी लेनी शुरू कर दी. दरअसल, कैप्टन अमरिंदर सिंह का बयान राहुल गांधी के ट्वीट से बिल्कुल अलग था. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा,

“मैं उद्घाटन कार्यक्रम में था और मेरे हिसाब से जलियांवाला बाग का रेनोवेशन बहुत बढ़िया है. मेरे हिसाब से वहां जो बदलाव किए गए हैं वो बढ़िया हैं. वक्त के साथ जो इमारतें कमजोर हो गई थीं, उनको भी दुरुस्त करना जरूरी था.”

इस बयान के सियासी गलियारों में जो भी मतलब निकाले जा रहे हों, लेकिन सोशल मीडिया पर यूजर्स ने इसे शेयर करते हुए राहुल गांधी पर खूब तंज कसे. कुछ ट्वीट देखें.  

रेनोवेशन UPA के समय शुरू हुआ?

लोगों ने ना सिर्फ राहुल गांधी की चुटकी ली, बल्कि रेनोवेशन का भांडा भी उन्हीं की पार्टी के सिर फोड़ दिया. दरअसल, यूजर्स ने दी ट्रिब्यून की एक खबर को शेयर करते हुए कहा कि जलियांवाला बाग का रेनोवेशन तो UPA सरकार के समय ही शुरू हो गया था. शेयर की जा रही खबर में लिखा है,

“लाइट और साउंड प्रोग्राम का उद्घाटन कर रक्षा मंत्री एके एंटनी ने  जलियांवाला बाग हत्याकांड को जीवंत कर दिया, जिसने भारत के स्वतंत्रता संग्राम की दिशा बदल दी थी. लाइट-एंड-साउंड कार्यक्रम जलियांवाला बाग को संवारने के लिए 5 करोड़ रुपये की योजना का हिस्सा है. जबकि ऐतिहासिक रूप से महत्वपूर्ण इस पार्क के विकास की परियोजना भारतीय पर्यटन निगम लिमिटेड (ITDC) द्वारा की जा रही है.”

खबर अप्रैल 2010 की है, जिससे पता चलता है कि UPA सरकार का भी जलियांवाला बाग के नवीनीकरण के लिए एक प्लान था, जिसे अमल किया जा रहा था.

इन बदलावों पर छिड़ा विवाद

फिलहाल बदलावों की बात की जाए तो जलियांवाला बाग में एक मैदान तैयार किया गया है, जहां पर रोज शाम 28 मिनट का लेजर और साउंड शो होगा. इस दौरान 13 अप्रैल, 1919 की घटनाओं को दिखाया जाएगा. इसके विरोध में लोगों का तर्क है कि एक नरसंहार की साइट पर लाइट एंड साउंड प्रोग्राम नहीं होना चाहिए.

वहीं, दूसरा विवाद स्मारक की गैलरी को लेकर छिड़ा है. इस गैलरी में उन गोलियों के निशान हैं जो जनरल डायर के कहने पर निर्दोष लोगों पर चलाई गई थीं. नवीकरण के तहत गैलरी में शहीदों की कई नई मूर्तियां लगाई गई हैं. इस पर लोगों का कहना है कि गोलियों के निशान छुपाने के लिए ऐसा किया गया है. लेकिन अथॉरिटीज़ का कहना है कि मूर्तियों के बनाते वक्त गोलियों के निशान वाली जगहों को छोड़ दिया गया है.

(ये स्टोरी हमारे यहां इंटर्नशिप कर रहे रौनक भैड़ा ने लिखी है.)


वीडियो- ऐसा क्या संशोधन है जलियांवाला बाग नेशनल मेमोरियल बिल में कि कांग्रेस, बीजेपी पर भड़क गई?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

NCB की रेड को फर्जी बताया, ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की कॉल डिटेल की जांच की मांग की

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

अजय मिश्रा कुछ और कह रहे, परिवारवाले कुछ और कह रहे.

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की बैठक आज खत्म हो गई.