Submit your post

Follow Us

बच्चे की एक किडनी नहीं थी फिर भी 100 उठक-बैठक करवाई, दर्द से तड़प उठा

5
शेयर्स

महाराष्ट्र के पुणे में एक स्कूल है. महावीर इंग्लिश मीडियम स्कूल. यहां 18 नवंबर के दिन स्कूल के बाउंसर ने एक बच्चे को 100 उठक-बैठक लगाने की सज़ा दी. जिस बच्चे को सज़ा मिली, वो 10वीं का छात्र है. और उसकी केवल एक ही किडनी है. उसकी गलती ये थी कि वो उस दिन अपनी हिंदी की किताब घर पर ही भूल गया था. उठक-बैठक लगाने की वजह से उसके पेट में तेज़ दर्द उठ गया.

TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चा जब घर पहुंचा तो वो मुश्किल से चल पा रहा था. उसकी मां ने उससे पूरा मामला पूछा. बच्चे ने बताया कि बाउंसर ने उसे 100 उठक-बैठक लगाने की सज़ा दी थी. 93 उठक-बैठक करने के बाद उसके पेट में दर्द होने लगा. उसने बाउंसर से इसकी शिकायत की, लेकिन उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया गया. उससे फिर से उठक-बैठक शुरू करने के लिए कहा गया.

लड़के के घरवालों ने पुलिस ने इस मामले की शिकायत दर्ज करवा दी है. टीचर और बाउंसर के खिलाफ पुलिस ने जुवेनाइल जस्टिस एक्ट 2015 के तहत केस दर्ज कर लिया है. लड़के की मां का कहना है कि जब उसे इस सज़ा के बारे में पता चला, तो वो स्कूल भी गई. प्रिंसिपल से मिलने. लेकिन उनसे कहा गया कि वो 19 नवंबर को आएं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, लड़के के छोटे भाई को भी बाउंसर ने कुछ महीने पहले इसी तरह की सज़ा दी थी. जिसके बाद उसके घरवालों ने बाउंसर को स्कूल से हटाने की अपील की थी. उस वक्त उनसे कहा गया था कि एक्शन लिया जाएगा, लेकिन कुछ नहीं किया गया.

इस मामले में जब प्रिंसिपल से पूछा गया, तब उन्होंने कहा कि स्कूल में अनुशासन बनाए रखने के लिए सज़ा दी जाती है. और बाउंसर की तैनाती भी अनुशासन बनाए रखने के मकसद से की गई है. साथ ही प्रिंसिपल ने ये कहा कि लड़के को केवल 15 से 20 उठक-बैठक करने के लिए कहा गया था. और जब उसने पेट दर्द की शिकायत की, तो उसे रुकने के लिए भी कह दिया गया था. वहीं बाउंसर को हटाने की बात पर प्रिंसिपल ने कहा कि वो भी हटाने के बारे में सोच रही हैं, लेकिन फैसला मैनेजमेंट ही करेगा.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मालेगांव बम ब्लास्ट की आरोपी प्रज्ञा ठाकुर देश की रक्षा करने जा रही हैं

रक्षा मंत्रालय की कमेटी में शामिल होंगी.

IIT गुवाहाटी के छात्र एक प्रोफेसर के लिए क्यों लड़ रहे हैं?

प्रोफेसर बीके राय लंबे समय से करप्शन के खिलाफ जंग छेड़े हुए हैं.

आर्टिकल 370 हटने के बाद कश्मीर में पत्थरबाजी कम हुई या बढ़ी?

राज्यसभा में सरकार ने आंकड़े बताए हैं.

फोन कंपनियां ये किस बात के लिए हम लोगों से पैसा लेने जा रही हैं?

कॉल और डाटा का पैसा बढ़ने वाला है, पढ़ लो!

BHU के मुस्लिम टीचर के पिता ने कहा, 'बेटे को संस्कृत पढ़ाने से अच्छा था, मुर्गे बेचने की दुकान खुलवा देता'

बीएचयू में मुस्लिम टीचर की नियुक्ति पर बवाल!

बरसों से इंडिया का मित्र राष्ट्र रहा नेपाल क्या अब ज़मीन को लेकर कसमसा रहा है?

'कालापानी' को लेकर उत्तराखंड के CM टीएस रावत चिंता में हैं या गुस्से में, कहना मुश्किल है.

सरकार Facebook से यूजर्स की जानकारी मांग रही है

2 साल में तीन गुनी हुई इमरजेंसी रिक्वेस्ट्स की संख्या.

पुनर्विचार की सभी याचिकाएं खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने रफ़ाल को हरी झंडी दी

राहुल गांधी ने पीएम मोदी को रफ़ाल डील में भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए खूब घेरा था.

महाराष्ट्र में नहीं बनी शिवसेना-एनसीपी की सरकार, अब लगेगा राष्ट्रपति शासन

एनसीपी को सरकार बनाने के लिए आज शाम साढ़े आठ बजे तक का समय मिला था.

करतारपुर कॉरिडोर: PM मोदी ने इमरान को शुक्रिया कहा, लेकिन इमरान का जवाब पीएम मोदी को पसंद नहीं आएगा

वहां पर भी कॉरिडोर से ज़्यादा 'विवादित मुद्दे' पर ही बोलता नज़र आया पाकिस्तान.