Submit your post

Follow Us

बच्चे की एक किडनी नहीं थी फिर भी 100 उठक-बैठक करवाई, दर्द से तड़प उठा

महाराष्ट्र के पुणे में एक स्कूल है. महावीर इंग्लिश मीडियम स्कूल. यहां 18 नवंबर के दिन स्कूल के बाउंसर ने एक बच्चे को 100 उठक-बैठक लगाने की सज़ा दी. जिस बच्चे को सज़ा मिली, वो 10वीं का छात्र है. और उसकी केवल एक ही किडनी है. उसकी गलती ये थी कि वो उस दिन अपनी हिंदी की किताब घर पर ही भूल गया था. उठक-बैठक लगाने की वजह से उसके पेट में तेज़ दर्द उठ गया.

TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चा जब घर पहुंचा तो वो मुश्किल से चल पा रहा था. उसकी मां ने उससे पूरा मामला पूछा. बच्चे ने बताया कि बाउंसर ने उसे 100 उठक-बैठक लगाने की सज़ा दी थी. 93 उठक-बैठक करने के बाद उसके पेट में दर्द होने लगा. उसने बाउंसर से इसकी शिकायत की, लेकिन उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया गया. उससे फिर से उठक-बैठक शुरू करने के लिए कहा गया.

लड़के के घरवालों ने पुलिस ने इस मामले की शिकायत दर्ज करवा दी है. टीचर और बाउंसर के खिलाफ पुलिस ने जुवेनाइल जस्टिस एक्ट 2015 के तहत केस दर्ज कर लिया है. लड़के की मां का कहना है कि जब उसे इस सज़ा के बारे में पता चला, तो वो स्कूल भी गई. प्रिंसिपल से मिलने. लेकिन उनसे कहा गया कि वो 19 नवंबर को आएं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, लड़के के छोटे भाई को भी बाउंसर ने कुछ महीने पहले इसी तरह की सज़ा दी थी. जिसके बाद उसके घरवालों ने बाउंसर को स्कूल से हटाने की अपील की थी. उस वक्त उनसे कहा गया था कि एक्शन लिया जाएगा, लेकिन कुछ नहीं किया गया.

इस मामले में जब प्रिंसिपल से पूछा गया, तब उन्होंने कहा कि स्कूल में अनुशासन बनाए रखने के लिए सज़ा दी जाती है. और बाउंसर की तैनाती भी अनुशासन बनाए रखने के मकसद से की गई है. साथ ही प्रिंसिपल ने ये कहा कि लड़के को केवल 15 से 20 उठक-बैठक करने के लिए कहा गया था. और जब उसने पेट दर्द की शिकायत की, तो उसे रुकने के लिए भी कह दिया गया था. वहीं बाउंसर को हटाने की बात पर प्रिंसिपल ने कहा कि वो भी हटाने के बारे में सोच रही हैं, लेकिन फैसला मैनेजमेंट ही करेगा.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गूगल का भारत में 75,000 करोड़ रुपये के निवेश का पूरा प्लान क्या है

खुद सुंदर पिचाई ने ऐलान किया है.

राजस्थान: क्या है गहलोत-पायलट के बीच टकराव की वजह?

जयपुर से लेकर दिल्ली तक जोर आजमाइश हो रही है.

बच्चन परिवार की इकलौती सदस्य जिसे कोरोना नहीं हुआ

अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन COVID-19 पॉजिटिव निकले थे

यूपी STF ने विकास दुबे एनकाउंटर पर अब क्या नई बात बताई है?

कार पलटने की वजह क्या थी?

गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया

एक दिन पहले ही उज्जैन के महाकाल से पकड़ा गया था विकास दुबे.

कानपुर कांड : आरोपी की गिरफ़्तारी में सच कौन बोल रहा? यूपी पुलिस या आरोपी के घरवाले?

वीडियो में क्या कहा कानपुर कांड के आरोपी ने?

विकास दुबे को बचाने के लिए अपने ही साथियों को धोखा देने वाले दो पुलिसवाले धर लिए गए हैं

घटना में आठ पुलिसवाले शहीद हुए थे.

PM Cares के पैसों से बने वेंटिलेटर पर सवाल उठे तो बनाने वाले ने राहुल गांधी को घेर लिया

कहा कि राहुल गांधी के सामने डेमो दिखा सकता हूं.

क्या गलवान में पीछे हटकर चीन 1962 वाली चाल दोहरा रहा है?

58 साल पहले भी ऐसा ही हुआ था. पहले चीन गलवान में पीछे हटा और कुछ दिन बाद भारत पर हमला कर दिया.

सरकार ने वो आदेश दिया है कि कंपनियां मास्क और सैनिटाइज़र के दाम में मनचाहा बदलाव कर सकती हैं

राज्यों ने शिकायत नहीं की, तो सरकार ने आदेश निकाल दिया