Submit your post

Follow Us

ISRO के पास बहुत कम वक्त बचा है विक्रम लैंडर से संपर्क के लिए

5
शेयर्स

चंद्रयान का विक्रम लैंडर चांद की सतह पर है, ये तो तय है. इसरो ने खुद कहा है. लेकिन विक्रम लैंडर से अभी तक संपर्क नहीं हो पाया है. चांद की कक्षा में ढूंढ रहे ऑर्बिटर की मदद से ऐसा करने की लगातार कोशिश की जा रही है. सफ़लता कुछ नहीं है.

लेकिन ये भी जानना ज़रूरी है कि विक्रम लैंडर से संपर्क कर पाने की मियाद बेहद कम है. लगभग दो हफ़्तों की ही. इस बीच अगर संपर्क नहीं हो पाता है तो ये मान लेना चाहिए कि इसरो विक्रम लैंडर को हमेशा के लिए खो देगा.

ऐसा क्यों? दरअसल चांद पर दिन और रात की मियाद में बहुत बड़ा फासला है. चांद पर 14 दिन की सुबह होती है, फिर 14 दिन की रात होती है. जिस समय चंद्रयान चांद पर पहुंचा, उस समय चांद की सुबह चल रही थी.

चांद के दिन और रात पर ही सारा खेल टिका हुआ है.
चांद के दिन और रात पर ही सारा खेल टिका हुआ है.

इस 14 दिन की सुबह के बीच ही विक्रम लैंडर और प्रज्ञान रोवर को अपना सारा काम पूरा करना था. चांद की रात के बारे में बात करें तो ये रातें बहुत ठंडी होती हैं. माइनस 200 डिग्री तक तापमान चला जाता है. मतलब जिस टेम्प्रेचर पर पानी बर्फ में बदलता है, उससे भी 200 डिग्री नीचे. और विक्रम लैंडर चांद के दक्षिणी ध्रुव पर गिरा है. वहां तो तापमान की कमी और भी ज़्यादा होगी. और चंद्रयान को इस तरीके से बनाया गया है कि वो दिन के समय ही काम कर सकता है. रात के ठंडे तापमान में नहीं.

अब विक्रम लैंडर चांद की सतह से जाकर टकरा गया है. वहां उसकी लैंडिंग सही तरीके से नहीं हो सकी है. इसरो ने बताया है कि लैंडर चांद की ज़मीन पर टेढ़ा पड़ा हुआ है. अगर लैंडर का एंटीना सही दिशा में हुआ तो ही ऑर्बिटर से उसका संपर्क हो सकेगा. अगर लैंडर का एंटीना चांद की ज़मीन में धंसा होगा, या टूट गया होगा, या किसी पत्थर के नीचे दबा होगा, तो ऑर्बिटर से उसका कोई संपर्क नहीं साधा जा सकेगा. और संपर्क की कोशिश के लिए समय है महज़ 14 दिन. उसके बाद ऑर्बिटर ही रहेगा, कह सकते हैं कि लैंडर और रोवर बेकार.


लल्लनटॉप वीडियो : ISRO के 85 से 90 फीसदी वैज्ञानिकों और इंजीनियरों की सैलरी घट गई है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नयी सरकार में निवेशकों के 12.5 लाख करोड़ रुपए डूब गए

ये नुकसान किस खाते में जाएगा?

पड़ताल : क्या जवाहरलाल नेहरू ने इसरो की स्थापना नहीं की?

चंद्रयान की यात्रा के बाद ये दावे सामने आने लगे हैं.

पता चल गया, कहां है अपना विक्रम लैंडर?

चंद्रयान 2 के ऑर्बिटर ने भेजी फोटो, संपर्क करने की कोशिश जारी

चंद्रयान 2 : ISRO चीफ के. सिवन ने बताया कि लैंडर 'विक्रम' के साथ क्या हादसा हुआ?

विक्रम का ISRO से संपर्क टूटने के बाद पहली बार बोले हैं के. सिवन.

चंद्रयान-2 मून पर लैंड करने वाला है, पूरा कार्यक्रम यहां देखें LIVE

कमर कस लीजिए.

यूपी के उर्स में हिंदुओं ने खाकर 43 मुस्लिमों पर केस किया, कहा - भैंसे की बिरयानी खिला दी

केस किया भी तो दो दिन बाद.

15 हज़ार की गाड़ी थी, 23 हज़ार का चालान ठोंक दिया

किन पांच चीज़ों पर एक स्कूटी का ऐसा चालान हुआ?

योगी आदित्यनाथ के 'प्रेरणा ऐप' को प्ले स्टोर पर 1-स्टार की रेटिंग क्यों मिल रही है?

यूपी के टीचर अब सेल्फी नहीं लेना चाह रहे हैं.

यूपी के स्कूल में नमक-रोटी खाते बच्चों का वीडियो बनाने वाला पत्रकार फंस गया

बदनामी से गुस्साए डीएम ने केस करने की धमकी दी थी!

मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार में आर्थिक मंदी पर क्या कहा?

मनमोहन सिंह की बात पढ़ेंगे तो समझ जाएंगे कि मंदी क्यों आई.