Submit your post

Follow Us

चंद्रयान ने चांद से ऐसी चीज़ भेजी है कि आप अपनी डीपी बदल लेंगे

490
शेयर्स

चंद्रयान 2. चांद की ओर भेजा गया. विक्रम लैंडर की लैंडिंग फेल हो गयी. लेकिन चंद्रयान का ऑर्बिटर का काम जारी रहा. ऑर्बिटर चांद के चक्कर काट रहा है. डाटा जुटा रहा है, तस्वीरें खींच रहा है.

इस कड़ी में चंद्रयान ने गज़ब की चीज़ भेज दी है. चंद्रयान ने चांद की सतह की तस्वीरें भेज दी हैं. और इन तस्वीरों के बारे में कहा जा रहा है कि ये चांद की अब तक की सबसे साफ़ तस्वीरें हैं.

कहां की तस्वीर है?
कहां की तस्वीर है?

बता दें कि चंद्रयान के ऑर्बिटर में Orbiter High Resolution Camera (OHRC) फिट है, जिसका काम तस्वीरें खींचना. अब इसरो ने OHRC से खींची गई तस्वीरें पिछले हफ्ते साझा कीं. ये तस्वीरें चांद के दक्षिणी ध्रुव बुगोलाव्स्की ई क्रेटर की हैं. ये 3 किलोमीटर गहरा है और इसका फैलाव 14 किलोमीटर के दायरे में है.

और तस्वीर में आप देख क्य्गा रहे हैं?
और तस्वीर में आप देख क्य्गा रहे हैं?

ये तस्वीरें 5 सितम्बर को ऑर्बिटर ने क्लिक की थी, और हाल फिलहाल हमारे बीच आई हैं.


लल्लनटॉप वीडियो : सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई के आरे के जंगल में पेड़ कटने पर देर से रोक लगाई, कॉलोनी का पूरा इतिहास जानिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बरसों से इंडिया का मित्र राष्ट्र रहा नेपाल क्या अब ज़मीन को लेकर कसमसा रहा है?

'कालापानी' को लेकर उत्तराखंड के CM टीएस रावत चिंता में हैं या गुस्से में, कहना मुश्किल है.

सरकार Facebook से यूजर्स की जानकारी मांग रही है

2 साल में तीन गुनी हुई इमरजेंसी रिक्वेस्ट्स की संख्या.

पुनर्विचार की सभी याचिकाएं खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने रफ़ाल को हरी झंडी दी

राहुल गांधी ने पीएम मोदी को रफ़ाल डील में भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए खूब घेरा था.

महाराष्ट्र में नहीं बनी शिवसेना-एनसीपी की सरकार, अब लगेगा राष्ट्रपति शासन

एनसीपी को सरकार बनाने के लिए आज शाम साढ़े आठ बजे तक का समय मिला था.

करतारपुर कॉरिडोर: PM मोदी ने इमरान को शुक्रिया कहा, लेकिन इमरान का जवाब पीएम मोदी को पसंद नहीं आएगा

वहां पर भी कॉरिडोर से ज़्यादा 'विवादित मुद्दे' पर ही बोलता नज़र आया पाकिस्तान.

सुप्रीम कोर्ट का फैसला: विवादित ज़मीन रामलला को, मुस्लिम पक्ष को कहीं और मिलेगी ज़मीन

जानिए, कोर्ट ने अपने फैसले में और क्या-क्या कहा है...

नेहरु से इतना प्यार? मोदी अब बिना कांग्रेस के नेहरू का ख्याल रखेंगे

एक भी कांग्रेस का नेता नहीं. एक भी नहीं.

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की मिस्ट्री पर क्या कहा?

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ

दफ़्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगाकर ज़िंदा जला दिया

इस सबके पीछे एक ज़मीन विवाद की वजह बताई जा रही है. जिसने आग लगाई, वो ख़ुद भी झुलसा.