Submit your post

Follow Us

वाह! CBSE ने स्कूली बच्चों को बड़ी राहत देने वाला फैसला कर डाला

कोरोना वायरस के चलते देश भर के स्कूल बंद हैं. बोर्ड एग्जाम भी बीच में रोक दिए गए थे. अब लंबे समय से स्कूलों के बंद होने और पढ़ाई में हो रहे नुकसान को ध्यान में रखते हुए सीबीएसई ने एकेडमिक ईयर 2020-2021 का सिलेबस तीस प्रतिशत कम कर दिया है. मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने खुद इस बात की जानकारी दी है.

देखें यह ट्वीट-

HRD मंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा,

देश और दुनिया में पनपे हालात के मद्देनजर CBSE को पाठ्यक्रम को संशोधित करने और कक्षा 9वीं से 12वीं के छात्रों के लिए कोर्स के दबाव को कम करने की सलाह दी गई थी. सीखने  के महत्व को ध्यान में रखकर, मुख्य कॉन्सेप्ट्स को बरकरार रखते हुए अब सिलेबस को 30 फीसदी तक कम करने का निर्णय लिया गया है.

HRD मंत्री ने सेलेबस के लिए मांगे गए सुझावों पर प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद देते हुए ट्वीट किया.

सेलबेस में लिए जाने वाले इस निर्णय की सहायता के लिए, कुछ हफ़्ते पहले मैंने शिक्षाविदों से #SyllabusForStudents2020 पर सुझाव आमंत्रित किए. हमें 1.5K से अधिक सुझाव मिले. इस  प्रतिक्रिया के लिए, आप सभी को धन्यवाद

सीबीएसई ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस बात की जानकारी दी है.

इससे पहले CISE  (काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशंस) ने भी ICSEऔर ISC के अगले साल के बोर्ड एग्जाम के सिलेबस में कटौती की है. CISE के द्वारा सभी विषयों में 25 फीसदी सिलेबस कम किया गया है.


वीडियो देखें: पड़ताल: क्या सरकार ने लॉकडाउन के दौरान देशभर के स्कूल खोलने की इजाज़त दे दी है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सरकार ने वो आदेश दिया है कि कंपनियां मास्क और सैनिटाइज़र के दाम में मनचाहा बदलाव कर सकती हैं

राज्यों ने शिकायत नहीं की, तो सरकार ने आदेश निकाल दिया

बुरी खबर! 'मेरे जीवनसाथी', 'काला सोना' जैसी फ़िल्में बनाने वाले प्रड्यूसर हरीश शाह नहीं रहे

कैंसर से जारी जंग आखिरकार हार गए.

दिल्ली की जेल में सजा काट रहे सिख दंगे के दोषी नेता की कोरोना से मौत हो गई

विधायक रह चुके इस नेता की कोरोना रिपोर्ट 26 जून को पॉज़िटिव आई थी.

श्रीलंका का ये क्रिकेटर हत्या के आरोप में गिरफ्तार

44 टेस्ट, 76 वनडे और 26 टी20 खेल चुका है.

लेह में दिए अपने भाषण में पीएम मोदी ने चीन का नाम लिए बिना क्या-क्या कहा?

जवानों पर, बॉर्डर के विकास पर, दुनिया की सोच पर बहुत कुछ बोला है.

ICMR ने एक महीने में कोरोना की वैक्सीन लॉन्च करने का झूठा दावा किया है!

क्या वैक्सीन के ट्रायल में घपला हो रहा है?

भारत-चीन के तनाव के बीच पीएम मोदी ने लद्दाख़ पहुंचकर किससे बात की?

पहले राजनाथ सिंह जाने वाले थे, नहीं गए.

मलेरिया वाली जिस दवा को कोरोना में जान बचाने के लिए इस्तेमाल कर रहे, वो उल्टा काम कर रही है?

हाईड्रॉक्सीक्लोरोक्विन पर चौंकाने वाली रिसर्च!

इस साल के आख़िर तक मिलने लगेगी कोरोना की 'मेड इन इंडिया' वैक्सीन!

भारत बायोटेक के अधिकारी ने क्या बताया?

'कोरोनिल' पर पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण पूरी तरह यू-टर्न मार गए!

पतंजलि का दावा था कि 'कोरोनिल' दवा कोरोना वायरस ठीक करने में कारगर होगी.