Submit your post

Follow Us

250 करोड़ का होटल 7.5 करोड़ में बेचा था, कोर्ट ने पूर्व मंत्री अरुण शौरी पर केस दर्ज करने को कहा

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी. उनके खिलाफ कोर्ट ने केस दर्ज करने का आदेश दिया है. मामला उदयपुर के लक्ष्मी विलास होटल को बेचने से जुड़ा है. सीबीआई की विशेष अदालत ने शौरी सहित पांच लोगों के खिलाफ केस दर्ज करने का आदेश दिया है.

क्या है मामला

साल 2002. केंद्र में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार थी. विनिवेश मंत्री थे अरुण शौरी. तब उनके मंत्रालय ने उदयपुर के लक्ष्मी विलास होटल को महज साढ़े सात करोड़ रुपए में ललित ग्रुप को दे दिया. सर्वे में सामने आया कि इस होटल की कीमत 252 करोड़ रुपए से भी ज्यादा है. कोर्ट ने कहा कि जिस होटल की कीमत ढाई सौ करोड़ रुपये से भी ज्यादा थी, उसे सिर्फ साढ़े सात करोड़ रुपये के औने-पौने दाम लेकर बेच दिया गया.

लोगों ने किया था विरोध

2002 में इस होटल के विनिवेश के बाद उदयपुर में लोगों ने कड़ा विरोध दर्ज कराया था. इससे तत्कालीन अटल बिहारी वाजपेयी सरकार की आलोचना भी हुई थी. ‘इंडिया टुडे’ की खबर के मुताबिक, 13 अगस्त, 2014 को एक इनपुट के आधार पर सीबीआई ने इस मामले में केस दर्ज किया. जांच के बाद सीबीआई ने कहा कि उसे कुछ नहीं मिला, इसलिए मामले को बंद कर रहे हैं. सीबीआई ने क्लोजर रिपोर्ट लगा दी. लेकिन कोर्ट ने इस क्लोजर को रिपोर्ट को नहीं माना.

कोर्ट ने कहा कि सीबीआई ने पाया कि केवल ज़मीन की कीमत 151 करोड़ रुपए थी. और बिक्री केवल 7.5 करोड़ रुपए में की गई. ऐसे में सीबीआई कैसे कह सकती है कि कुछ भी नहीं मिला. जोधपुर की सीबीआई अदालत ने जांच एजेंसी को मामले की फिर से जांच करने का आदेश दिया, लेकिन सीबीआई ने एक बार फिर से क्लोजर रिपोर्ट दाखिल कर दी.

सीबीआई की भूमिका पर सवाल 

इससे नाराज होकर अदालत ने सीबीआई को फटकार लगाई और उसकी भूमिका पर सवाल उठाया. 13 अगस्त, 2019 को केंद्रीय जांच एजेंसी को फिर से मामले की जांच करने का निर्देश दिया. तीसरी बार सीबीआई को भ्रष्टाचार का मामला मिला. जांच एजेंसी ने अदालत के सामने पेश अपनी रिपोर्ट में कहा कि संपत्ति 252 करोड़ रुपये की थी, लेकिन 7.5 करोड़ रुपये में बेची गई, जिससे सरकारी खजाने को 244 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ.

अदालत ने इस मामले में पूर्व नौकरशाह प्रदीप बैजल और होटल व्यवसायी ज्योत्स्ना सूरी के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया है. इस बीच, उदयपुर के जिला मजिस्ट्रेट कोर्ट ने लक्ष्मी विलास पैलेस को जब्त करने का निर्देश दिया है.


PM मोदी के जन्मदिन पर देशभर में ‘राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस’ मनाने वाले कौन हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

हरसिमरत कौर बादल ने किसानों से जुड़े मुद्दे को लेकर मोदी सरकार से इस्तीफा दिया

हरसिमरत कौर केंद्र सरकार में फूड प्रॉसेसिंग इंडस्ट्रीज मिनिस्टर थीं.

20 सैनिकों की मौत के बाद भारत सरकार ने चीन में मौजूद बैंक से कई हज़ार करोड़ रुपए उधार लिए

सरकार ने ये जानकारी दी तो कांग्रेस ने इसे हथियार बना लिया

संसद सत्र से पहले दो जगह कराई कोरोना जांच, रिपोर्ट देखकर चकरा गए सांसद महोदय

मॉनसून सत्र से पहले हुई जांच में 17 MP कोविड पॉजिटिव मिले हैं.

बिहार: 70 साल के इस शख्स ने दशरथ मांझी जैसा काम कर दिया है

और इस नेक काम में उन्हें 30 साल लगे.

कोरोना से ठीक होने के बाद अगले कुछ दिनों तक क्या करें, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया

प्रोटोकॉल जारी किया है, पढ़ लें.

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन

तीन दिन पहले लालू की पार्टी छोड़ी थी.

दिल्ली दंगा: पुलिस ने कहा-चार्जशीट में योगेंद्र यादव और येचुरी का नाम है पर आरोपी के रूप में नहीं

मीडिया में चल रही खबरों पर दिल्ली पुलिस ने स्थिति स्पष्ट की है.

जो काम खुद बाल ठाकरे करते थे, शिवसेना वालों ने उसी के लिए एक्स नेवी ऑफिसर को पीट दिया!

पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

क्या यूपी में कोविड किट खरीद में घोटाला हुआ है? जांच के लिए SIT बनी

बीजेपी नेताओं ने ही घोटाले का आरोप लगाया है. ताजा मामला सहारनपुर से आया है.

जोकोविच ने अंपायर को गेंद मार घायल किया, उसके बाद जो हुआ वो क्रिकेट फैन्स के लिए सीख है

और इंडिया के बड़े सुपरस्टार्स के लिए भी.