Submit your post

Follow Us

बस कंडक्टर 4 साल तक हाईवे पर ट्रक ड्राइवरों के साथ घूमे, डॉक्यूमेंट्री शूट की, अब बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड मिला

एक आदमी, जो पिछले 10 साल तक बस कंडक्टर था. चार साल तक मणिपुर के इंफाल से मोरे जाने वाले नेशनल हाईवे पर ट्रक ड्राइवरों के साथ घूमता रहा. डॉक्यूमेंट्री शूट की और अब इस डॉक्यूमेंट्री को इंटरनेशनल स्टेज पर बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड मिला है.

नाम – अमर माईबाम. सिनेमेटोग्राफर, डॉक्यूमेंटेरियन (डॉक्यूमेंट्री बनाने वाले).

डॉक्यूमेंट्री का नाम – Highways of Life. हाईवेज़ ऑफ लाइफ़.

52 मिनट की डॉक्यूमेंट्री है. फिल्म डिवीज़न ऑफ इंडिया ने प्रोड्यूस की है. बिज्जू दास ने एडिट की है. 2014 से 2018 के बीच ट्रक ड्राइवरों के साथ घूम-घूमकर इसे शूट किया गया. अब इसे आठवें डॉकफेस्ट (DocFest) अवॉर्ड मे इंटरनेशनल कैटगिरी में बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड मिला है. ये अमर माईबाम की ज़िंदगी की पहली फिल्म है, जिसने कंपटीशन में 124 देशों की 1799 फिल्मों को पीछे छोड़ दिया. कंपटीशन में ये भारत की इकलौती फिल्म थी.

Maibam 11
अमर माईबाम की फिल्म का पोस्टर (फोटो- E-Pao)

चार और अवॉर्ड मिले

डॉकफेस्ट में हाईवेज़ ऑफ लाइफ़ को चार और अवॉर्ड मिले- बेस्ट नॉन-फीचर फिल्म, बेस्ट डायरेक्शन, बेस्ट सिनेमेटोग्राफी और बेस्ट एडिटिंग.

फिल्म में ट्रक ड्राइवरों को ज़िंदगी को बेहद करीब से दिखाया गया है. दिखाया गया है कि किस तरह वे रात-दिन हाईवे पर ट्रक दौड़ाते रहते हैं. कई बार जान की भी फिक्र छोड़कर. असम में इस बीच हुई तमाम हिंसा के भी बैकग्राउंड को लिया गया है. कहीं कोई ट्रक ड्राइवर महीनों तक हाईवे के जाम में फंसा दिख रहा है, तो कहीं कोई अपने ट्रक के ही नीचे सोता.

डॉक्यूमेंट्री का टीज़र यहां देखिए.


शाहरुख खान, राजकुमार हिरानी के साथ कौन-सी फिल्म करने जा रहे हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

जिस वीडियो में भारत-चीन के सैनिक एक-दूसरे पर मुक्के बरसा रहे हैं, उसका सच क्या है?

वीडियो कब का है, कहां का है?

इंग्लैंड टूर से पहले पाकिस्तान के तीन क्रिकेटर कोविड पॉज़िटिव

अहम टूर से पहले पाकिस्तान को लगा झटका.

पटना के बैंक में दिन-दहाड़े 52 लाख रुपए की डकैती

अपराधियों ने बैंक में लगे CCTV की हार्ड डिस्क तोड़ दी.

अब लद्दाख की पैंगोंग झील के पास चीन की हरकत, भारतीय क्षेत्र में बना रहा है बंकर

सैटेलाइट इमेज एक्सपर्ट की बातें यही इशारा कर रही हैं.

भारतीय सेना के पूर्व अधिकारियों ने किस बात पर आपस में भयानक झगड़ा फ़ान लिया?

गौरव आर्या ने भीड़ से पिट जाने की बात कह डाली.

रेलवे की नौकरी के भरोसे न बैठें, रेलवे की जेबें खाली हैं!

कोरोना लॉकडाउन ने रेलवे का हाल खस्ता कर दिया है.

गलवान घाटी में भारत से लड़ाई पर चीन के लोग किस-किस तरह के सवाल उठा रहे हैं?

चीनी टि्वटर 'वीबो' पर कई पोस्ट लिखी गई हैं.

Exclusive: गलवान घाटी में 15 जून को तीन बार हुई लड़ाई में क्या-क्या हुआ था, विस्तार से जानिए

तीसरी लड़ाई के बाद भारत ने 16 चीनी सैनिकों के शव सौंपे थे.

राज्यसभा की 18 सीटों में से कांग्रेस और बीजेपी ने कितनी जीतीं?

एक और पार्टी है जिसने कांग्रेस जितनी सीटें जीती हैं.

दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ऑक्सीजन सपोर्ट पर, दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किए गए

कुछ दिन पहले कोरोना पॉज़िटिव आए थे, अब प्लाज़मा थेरेपी दी जाएगी.