Submit your post

Follow Us

एक बोतल हवा, कीमत 1850 रुपये

9
शेयर्स

दिल्ली में जहरीली हवा पर खूब चिल्ल-पों है. मुख्यमंत्री ने दो टाइप के फेफड़े ट्वीट किए. गाड़ियों में अक्कड़ बक्कड़ फॉर्मूला लगाया. डीजल गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन पर रोक लगा दी. लेकिन चाइना वाले हमसे बड़े कलाकार हैं. वहां दो दोस्तों ने पॉल्यूशन से निकाल लिया कमाई का रास्ता.

वो भी ऐसा कि बोतलों में हवा भर कर बेच रहे हैं. अच्छी कीमत पर. एक बोतल शुद्ध हवा की कीमत है 1850 रुपए. अब साफ फेफड़े और ज्यादा जिंदगी चाहिए वो भी बीजिंग के धुएं में तो खरीदनी ही पड़ेगी हवा भरी बोतल.

ये हवा भरने वाली कंपनी है ‘वाइटैलिटी एयर.’ इसको मोजेज लैम और ट्रॉय पकेट ने शुरू किया 2014 में. वो इसके लिए गए पहाड़ों की ऊंचाई पर. जहां शहरों की तरह प्रदूषण न हो. वहां से बॉटलिंग करके उसकी ऑनलाइन बिक्री शुरू की.

ऐसा नहीं है कि ये पहली बार हो रहा है. इसके पहले 2013 में भी एक सयाने ने ये काम किया है. चेन गुआंगबियाओ ने छोटी बियर की कैन के साइज बोतलों में भर कर हवा बेची है. लेकिन उसकी कीमत सिर्फ 80 पैसे रहती थी.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Bottled air being sold in China

क्या चल रहा है?

कालाहांडी में वेदांता की फैक्ट्री के बाहर दो लोगों की मौत कैसे हो गई?

जानिए वो सच, जिससे कालाहांडी के लोग कई साल से जूझ रहे हैं...

कांग्रेस विधायक ने बराबर बैठने नहीं दिया, फिर महिला सरपंच ने जो कहा, वो जानने लायक है

कांग्रेस विधायक दिव्या मदेरणा ने कहा था, ‘बगल में नहीं, सामने जमीन पर बैठिए.’

IPL का शेड्यूल आ गया है, डबल मजा आने वाला है

प्रिंटआउट लेकर रख लो दोस्तो...

कमलनाथ के सबसे बड़े चुनावी दांव में हाईकोर्ट ने लग्गी लगा दी

आचार संहिता लगने के दो दिन पहले की थी पिछड़ा वर्ग के लिए बड़ी घोषणा.

विधायक जीतेंद्र ने मनोहर पर्रिकर पर बहुत घटिया बात कही है

ये बात कहने से पहले उन्होंने कहा, मुझे ये नहीं कहना चाहिए.

सर्जरी से बलात्कार के आरोप तक : कौन हैं शिवपाल सिंह यादव के नए साथी मोहम्मद अय्यूब

पीस पार्टी शिवपाल सिंह यादव के साथ है, जिनकी गठबंधन करने की मांग को लगभग हरेक बड़ी पार्टी ठुकरा चुकी है.

मुंबई ब्रिज हादसे में पुलिस ने पहली गिरफ्तारी की

5 महीने पहले 'ओके की रिपोर्ट' दी थी.

अफ़ग़ानिस्तान ने तो दूसरे ही टेस्ट में जीत हासिल की, बाकी टीमों को कितना वक़्त लगा था?

इंडिया ने बहुत ही ज़्यादा टाइम लिया था, जानिए सबसे ज़्यादा टाइम किस टीम को लगा.

गुलाल, ब्लैक फ्राइडे का ऐक्टर कर रहा चौकीदार की जॉब, फिल्म देखने तक के पैसे नहीं

सावी रोते हुए कहते हैं, 'मैं अकेला होते-होते बिलकुल अकेला हो गया.'