Submit your post

Follow Us

बॉबी देओल ने काम न मिलने के बारे में जो बात कही, वो कई एक्टर्स को चुभ सकती है

कंगना रनौत ने 2018 में करण जौहर के शो ‘कॉफी विद करण’ में नेपोटिज्म पर बात की थी. कहा कि बॉलीवुड में खूब भाई-भतीजावाद चलता है. उन्होंने करण जौहर को नेपोटिज्म बढ़ाने वाला माफिया भी कह दिया था. तब से इंडस्ट्री में इस मुद्दे पर बहस तेज है. अब बॉबी देओल ने इस मसले पर खुलकर बात की है.

हाल ही में बॉबी देओल ने टाइम्स नाउ को इंटरव्यू दिया है. फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म पर सवाल किया गया. इसके जवाब में उन्होंने कहा कि जिन्हें काम नहीं मिलता, वो इस शब्द को एक बहाने की तरह इस्तेमाल करते हैं. उन्होंने कहा,

मेरे हिसाब से ये वो नया शब्द है, जो बहुत पॉपुलर हो गया है. हर किसी को शिकायत है. जब लोगों को काम नहीं मिलता, तो वो शिकायत करना पसंद करते हैं. तो उन्हें नेपोटिज्म के जरिये काम न मिल पाने का बहाना मिल जाता है. जिन लोगों को काम नहीं मिल रहा, उनकी संख्या ज्यादा है. इसलिए ये लोग नेपोटिज्म की बात करते हैं. मुझे तीन साल तक कोई काम नहीं मिला, लेकिन मैंने कभी इसका रोना नहीं रोया.

2013 में बॉबी देओल की सिंह साहब दी ग्रेट और यमला पगला दीवाना 2 जैसी फिल्में आई थीं. तीन साल बाद 2017 में उनकी फिल्म पोस्टर बॉयज आई. फिल्म में उनके साथ भाई सनी देओल और श्रेयस तलपड़े ने काम किया है.

इंटरव्यू में जब उनसे पूछा गया कि फिल्म इंडस्ट्री में सर्वाइव करने के लिए कनेक्शन वाकई काम आते हैं. इसके जवाब में उन्होंने कहा,

मैं उन लोगों में से नहीं हूं, जिसने कभी काम के लिए कनेक्शन बनाएं हों. मेरी सभी के साथ अच्छी बनती है. मैं ऐसा ही हूं. मुझे लगता है कि मैं इंडस्ट्री में हर एक से जुड़ा हूं. लेकिन क्या इसका ये मतलब है कि आपको काम मिलता रहेगा? आपको सिर्फ कड़ी मेहनत करनी होती है. आपका काम बोलता है. लोगों के सामने आपको खुद को नोटिस कराना होता है और ऐसे काम मिलता है.

बॉबी ने 90 के दौर की बात भी की, जब वो सुपरस्टार हुआ करते थे. उन्होंने कहा कि वो अब बहुत बदल गए हैं. उन्होंने खुद को बदला है.

मुझे तब अहसास नहीं हुआ कि मुझे कितने अच्छे मौके मिल रहे हैं. मेरी फिल्में अच्छा परफॉर्म कर रही थीं और उस तरह की फिल्मों में काम करना आसान नहीं था. काश कि मैंने ज्यादा मेहनत की होती. काम पर ज्यादा फोकस किया होता. समझ पाता कि बहुत कॉम्पिटीशन है, जिसे हल्के में बिल्कुल नहीं लेना चाहिए. मैंने कई मौके गंवा दिए. तीन साल तक मुझे बिल्कुल काम नहीं मिला. लेकिन मैंने हिम्मत नहीं हारी. मुझे फख्र है कि मुझे जो भी मिला है, अपनी मेहनत के बूते पर मिला है. मैं बहुत ज्यादा खुश हूं कि मैंने खुद को बदला है और अब मैं सही दिशा में बढ़ रहा हूं.

Fotorcreated 66
‘पोस्टर बॉयज’ के एक सीन में सनी और बॉबी देओल. तस्वीर सोर्स : यूट्यूब.

2017 में कमबैक करने के बाद बॉबी ‘पोस्टर बॉयज’ के अलावा ‘यमला पगला दीवाना फिर से’, ‘रेस 3’ और ‘हाउसफुल 4’ में नजर आ चुके हैं. ‘रेस 3’ को छोड़ दें, तो कमाई के लिहाज से तीनों फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर कोई कमाल नहीं दिखाया था. ‘रेस 3’ ने 167 करोड़ रुपये का कलेक्शन किया था. लेकिन फिल्म में लीड रोल में सलमान खान थे. इसलिए इसे बॉबी देओल की हिट फिल्म नहीं माना जा सकता है.


Video : कंगना की ‘पंगा’ और ‘स्ट्रीट डांसर 3D’ की कमाई अजय देवगन के ‘तान्हाजी’ की वजह से नहीं हो रही?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या टीबी के टीके से ठीक हो सकता है कोरोना, भारतीय साइंटिस्ट ने बताया

कोरोना से निपटने के लिए भारत की तैयारियों पर भी बोले हैं.

कोरोना के इलाज के लिए अगर भारत ने US को नहीं दी ये दवा, तो डॉनल्ड ट्रंप कर सकते हैं पलटवार!

पीएम मोदी से फोन पर बात की थी. अब खुली चेतावनी दे दी.

यूपी पुलिस ने अपने यहां यादवों और अल्पसंख्यकों की अलग से गिनती की!

और सवाल पूछने पर सफ़ाई क्या मिली?

'मुस्लिम होने की वजह से इलाज नहीं', अब इस मामले में एक नई बात सामने आई है

राजस्थान के भरतपुर का केस है.

ओडिशा: लॉकडाउन तोड़ रहे थे, पुलिस ने कहा- चलो घर में, तो पत्थर मारने लगे

25 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

कोरोना के कारण सरकार ने सांसदों की सैलरी में भारी कटौती की है

अब एक साल तक के लिए सांसदों को कम सैलरी मिलेगी.

भारत में कहां तक घुस चुका है कोरोना वायरस, AIIMS के डायरेक्टर ने बताया

डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने लॉकडाउन को लेकर भी बात की.

हनीमून मनाने मालदीव गया था कपल, ऐसे फंसे कि घर खरीदने के जो पैसे बचाए थे उसे भी खर्च करना पड़ रहा

'आईलैंड में फंस जाने वाली बात सिर्फ बोलने में अच्छी लगती है.'

9 मिनट तक दीया जलाने के बाद अब PM मोदी ने कार्यकर्ताओं से क्या आग्रह किया?

BJP का आज स्थापना दिवस है.

'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' को ऑनलाइन बेच रहा था शख्स, कीमत और वजह तो और भी अजीब!

2,989 करोड़ की लागत से बनी इस मूर्ति का उद्घाटन पीएम मोदी ने किया था.