Submit your post

Follow Us

NCP का बड़ा दावा- NCB ने रेड के बाद BJP के हाई प्रोफाइल नेता के साले को जाने दिया

नवाब मलिक. NCP के बड़े नेता. महाराष्ट्र सरकार में मंत्री. इन दिनों नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की उस रेड पर अपने बयानों की वजह से चर्चा में हैं, जिसमें शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान गिरफ्तार किए गए हैं. नवाब मलिक लगातार इस रेड पर सवाल उठा रहे हैं. उनका कहना है कि इस रेड के पीछे BJP का हाथ हो सकता है. शुक्रवार 8 अक्टूबर को उन्होंने इस मामले में एक और बड़ा दावा कर दिया. कहा कि जिस क्रूज शिप से NCB ने आर्यन खान और अन्य लोगों को पकड़ा, उसमें BJP के एक नेता का साला भी मौजूद था. लेकिन NCB के अधिकारियों ने उन्हें मौके से भागने दिया.

शनिवार को नाम बताएंगे?

नवाब मलिक का कहना है कि उस दिन एनसीबी ने असल में दो लोगों को भागने दिया. उन्हीं में से एक बीजेपी के एक ‘हाई प्रोफाइल’ नेता का साला है. ये नेता कौन है, इसकी जानकारी नवाब मलिक शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके देंगे. ऐसा उन्होंने खुद कहा है.

इंडिया टुडे से जुड़े कमलेश सुतर की रिपोर्ट के मुताबिक, नवाब मलिक ने NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर भी निशाना साधा. साथ ही एंटी ड्रग एजेंसी के अन्य अधिकारियों पर भी सवाल खड़ा कर दिए. नवाब का कहना है,

“रेड के बाद ऑफिसर समीर वानखेड़े ने कहा कि 8-10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. एक ऑफिसर जो कि पूरा ऑपरेशन कंडक्ट करता है, वो कैसे लोगो की संख्या को लेकर अनिश्चित है? अगर रेड के वक्त 10 लोग थे तो दो लोगों को क्यों भागने दिया गया? इतना ही नहीं, उन दोनो में से एक का तो रिश्ता भी है BJP के नेता से.”

इनकम टैक्स डिपार्टेमेंट की रेड पर क्या बोले?

नवाब मलिक ने NCB पर ये आरोप ऐसे समय में लगाया है जब एक दिन पहले ही आयकर विभाग ने NCP के नेता और महाराष्ट्र के डिप्टी चीफ मिनिस्टर अजीत पवार के कमर्शियल परिसर और अन्य ठिकानों पर रेड मारी है. NCB पर सवाल खड़े करते हुए नवाब मलिक ने आईटी डिपार्टमेंट की इस कार्रवाई का जिक्र किया. कहा कि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने अजीत पवार की इमेज को नुकसान पहुंचाने के लिए ही रेड डाली है और 3 अक्टूबर को क्रूज़ शिप पर मारी गई एनसीबी की रेड भी फेक है. वरिष्ठ एनसीपी नेता ने दावा किया कि रेड के वक्त कोई भी नशीले ड्रग्स नहीं मिले थे.

वैसे ये भी बता दें कि एनसीबी नवाब मलिक के दामाद समीर खान पर भी कार्रवाई कर चुका है. इसी साल 13 जनवरी को उसने एक ड्रग्स केस के सिलसिले में समीर खान को गिरफ्तार किया था. हाल ही में उन्हें बेल मिली है.

(ये खबर हमारे यहां इंटर्नशिप कर रहीं अश्विनी ने लिखी है.)


वीडियो- आर्यन खान की जमानत खारिज कर मजिस्ट्रेट कोर्ट ने कहा- हमारे पास अधिकार नहीं 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.