Submit your post

Follow Us

कश्मीर में आतंकवादियों ने बीजेपी नेता वसीम बारी, उनके पिता और भाई की हत्या की

उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले में बुधवार, 8 जुलाई को बीजेपी नेता, उनके पिता और भाई की आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी. बीजेपी बांदीपोरा जिले के अध्यक्ष शेख वसीम बारी के साथ उनके भाई उमर सुल्तान और पिता बशीर अहमद शेख को आतंकवादियों ने गोली मार दी. आतंकी शाम को उनकी दुकान में घुस आए थे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीजेपी नेता अपने पिता और भाई के साथ दुकान पर थे. उसी समय आतंकियों ने उन पर गोलियां चलाई. उन्हें स्थानीय अस्पताल में ले जाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका.

इस घटना की पुष्टि करते हुए कश्मीर के आईजी विजय कुमार ने कहा,

लगभग नौ बजे के करीब आतंकवादियों ने जिला बीजेपी अध्यक्ष वसीम बारी पर गोलियां बरसाईं. आतंकवादियों की गोलीबारी में उनके भाई उमर सुल्तान और पिता बशीर अहमद घायल हो गए. घायलों को बांदीपोरा अस्पताल में ले जाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया.

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने वसीम बारी के निधन पर शोक व्यक्त किया. उन्होंने कहा कि बारी के पिता भी बीजेपी के सीनियर नेता थे. उन्होंने ट्वीट किया,

बांदीपोरा में आतंकवादियों द्वारा युवा बीजेपी नेता वसीम बारी और उनके भाई की हत्या से हैरान और दुखी हूं. बारी के पिता, जो एक वरिष्ठ नेता थे, वो भी घायल हुए थे. परिवार के प्रति संवेदना. आठ सुरक्षा कमांडो के बावजूद ये घटना हुई है.

पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया-

आज शाम को बांदीपोरा में बीजेपी के पदाधिकारी और उनके पिता पर हुए जानलेवा आतंकी हमले के बारे में सुना. मैं इस हमले की निंदा करता हूं. इस दुख की घड़ी में उनके परिवारों के प्रति मेरी संवेदना. दुख की बात है कि मुख्यधारा की राजनीतिक पार्टियों के वकर्स को निशाना बनाना जारी है.

कश्मीर के आईजी का कहना है कि परिवार को आठ सुरक्षाकर्मी मिले हैं, लेकिन घटना के समय कोई भी साथ नहीं था.

पीएम मोदी ने वसीम बारी की हत्या के बारे में फोन पर जानकारी ली. और परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की. केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने ट्वीट कर ये जानकारी दी है.


विकास दुबे के ‘राइट हैंड’ को STF एनकाउंटर में मार गिराया है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कभी कृषि कानूनों की पक्षधर रहीं पार्टियों ने अब यूटर्न क्यों ले लिया है?

कभी कृषि कानूनों की पक्षधर रहीं पार्टियों ने अब यूटर्न क्यों ले लिया है?

जानिए पहले क्या था इन राजनीतिक दलों का स्टैंड

क्या बढ़िया फ्रिज न होने के कारण इंडिया में कोरोना वैक्सीन लगने में और लेट हो सकती है?

क्या बढ़िया फ्रिज न होने के कारण इंडिया में कोरोना वैक्सीन लगने में और लेट हो सकती है?

कोल्ड चेन का पूरा तिया पांचा यहां समझिए.

साल 2015 के बाद गुजरात, केरल, बंगाल, महाराष्ट्र और बिहार के बच्चों में बढ़ा कुपोषण

साल 2015 के बाद गुजरात, केरल, बंगाल, महाराष्ट्र और बिहार के बच्चों में बढ़ा कुपोषण

सर्वे का दावा, बच्चों की लम्बाई और वज़न ख़तरनाक तरीक़े से घट रहे

क्या कोरोना की नई वैक्सीन लगवाने के बाद लोगों को लकवा मार जा रहा है?

क्या कोरोना की नई वैक्सीन लगवाने के बाद लोगों को लकवा मार जा रहा है?

वैक्सीन लगवाने पर कुछ लोगों में एलर्जी की समस्या भी सामने आई है.

किसान आंदोलन के समर्थन में वैज्ञानिक ने केंद्रीय मंत्री के हाथ से अवॉर्ड लेने से मना कर दिया

किसान आंदोलन के समर्थन में वैज्ञानिक ने केंद्रीय मंत्री के हाथ से अवॉर्ड लेने से मना कर दिया

पत्र में कहा, 'ये मेरी अंतरात्मा के खिलाफ़ है'

350 करोड़ का स्कैम उजागर करने वाले RTI एक्टिविस्ट की मौत पर पुलिस और फ़ैमिली अलग कहानी क्यों बता रहे?

350 करोड़ का स्कैम उजागर करने वाले RTI एक्टिविस्ट की मौत पर पुलिस और फ़ैमिली अलग कहानी क्यों बता रहे?

पुलिस ने कहा कि दुर्घटना में मौत हुई, परिवार हत्या का आरोप लगा रहा

एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज ने कहा, 'ऐसा ही चलता रहा तो कोई भी शिकार बन सकता है'

एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज ने कहा, 'ऐसा ही चलता रहा तो कोई भी शिकार बन सकता है'

हैदराबाद के ICFAI लॉ स्कूल में रूल ऑफ लॉ पर लेक्चर दे रहे थे जस्टिस चेलमेश्वर.

कोरोना का ट्रायल वैक्सीन लेने वाले हरियाणा के मंत्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए

कोरोना का ट्रायल वैक्सीन लेने वाले हरियाणा के मंत्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए

कोरोना की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के दौरान टीका लगाया गया था.

उइगर मुस्लिम ने बताया, 'चीन में हमें ज़बरदस्ती सूअर का मांस खिलाया जाता था'

उइगर मुस्लिम ने बताया, 'चीन में हमें ज़बरदस्ती सूअर का मांस खिलाया जाता था'

नसबंदी न करवाने पर उइगर मुस्लिमों के साथ क्या होता है?

सरकार और किसानों के बीच साढ़े सात घंटे तक चली बैठक में क्या नतीजा निकला, जान लीजिए

सरकार और किसानों के बीच साढ़े सात घंटे तक चली बैठक में क्या नतीजा निकला, जान लीजिए

कृषि मंत्री ने बताया, सरकार किन-किन बातों पर राजी हो गई है