Submit your post

Follow Us

PMC खाताधारकों ने बीजेपी नेता को घेरा, तो पुलिस ने उन्हें बचाकर निकाला

पीएमसी. पंजाब-महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक. सात राज्यों में इस बैंक की 137 शाखाएं हैं. बैंक के 51,601 सदस्य हैं. 23 सितंबर को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक नोटिस जारी किया था. 4,355 करोड़ रुपये का कथित घोटाला सामने आने पर कहा था कि बैंक के कस्टमर अगले 6 महीने तक 1000 रुपए से ज्यादा नहीं निकाल पाएंगे. बैंक में कोई नया फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट नहीं खुल सकेगा. बैंक कोई नया लोन नहीं दे पाएगा. इसके बाद बवाल हुआ. आरबीआई ने ये सीमा 10 हजार, फिर 25 हजार और फिर 40 हजार कर दी. हालांकि कस्टमर्स की परेशानी कम नहीं हुई है. और अब भी बवाल जारी है.

अब क्या हुआ?

मंगलवार यानी 29 अक्टूबर को भी मुंबई में पीएमसी खाताधारकों ने RBI दफ्तर के सामने प्रदर्शन किया. उन्होंने बैंक को पहले जैसा करने की मांग की, जिससे खाताधारक अपना पैसा निकाल सकें. इसी समय RBI दफ्तर से अधिकारियों से मीटिंग करके बीजेपी नेता किरीट सोमैया निकले. और वो सीधे प्रदर्शनकारियों के पास पहुंचे. वहां उन्होंने मीटिंग में जो भी बात हुई, उसका जिक्र किया. उन्होंने कहा कि कस्टमर के पैसों की सुरक्षा करना RBI की प्राथमिकता है. ऐसा RBI के अधिकारियों ने कहा है. किरीट सोमैया ने भरोसा दिलाया कि वो दिल्ली में वित्त सचिव से बात करेंगे. पर लोगों ने उन्हें घेर लिया. फिर पुलिस ने जैसे-तैसे उन्हें बाहर निकाला.

उसके बाद प्रदर्शनकारियों ने RBI के ऑफिस में घुसने की कोशिश की. पर उन्हें पुलिसवालों ने रोक दिया. लंबी बहस के बाद कुछ लोगों को अंदर जाने की इज़ाजत मिली. करीब एक घंटे तक मीटिंग हुई.

मीटिंग में क्या हुआ?

इस बीच अधिकारियों से जो बात हुई, उस बातचीत को लोगों ने पब्लिक किया. उनके मुताबिक, RBI ने कहा कि कस्टमर के पैसों की सुरक्षा उनकी प्राथमिकता है. इस पर कस्टमर ने कहा कि एक प्रेस रिलीज जारी करके PMC बैंक के अधिग्रहण के लिए प्राइवेट बैंकों को इंवाइट किया जाए. तब RBI ने साफ किया कि अगर कोई बैंक या संस्था आगे आना चाहती है, तो आगे काम किया जा सकता है.

साथ ही लोगों ने भी मांग की है कि PMC बैंक की मीटिंग में कस्टमर के लीडर को शामिल किया जाए. पर इस पर RBI ने क्या कहा, इस बारे में जानकारी नहीं दी गई. हालांकि इस मीटिंग से लोग खुश नहीं हैं, इसलिए वो इस प्रदर्शन को जारी रखेंगे.

प्रदर्शनकारियों का क्या कहना है?

इंडियो टुडे के रिपोर्टर पंकज उपाध्याय ने वहां मौजूद कई लोगों से बात की. उनकी परेशानी के बारे में पूछा. लोगों ने खुलकर बात भी की.

80 साल की हंसा ने बताया कि उनके पति की हालत ठीक नहीं है, उनकी देखभाल करने वाला कोई नहीं है. फिर भी वो प्रदर्शन कर रही हैं, क्योंकि उनके पैसों के साथ-साथ उनके पति की पेंशन भी फंसी हुई है.

वहीं नमिता ने कहा कि वो RBI से पूछना चाहेंगी कि क्या वो 40 हजार रुपए में 6 महीना घर चला सकते हैं? क्योंकि ये पॉसिबल ही नहीं है. उनका कहना है कि आज ये स्थिति हो गई है कि उन लोगों को अपने ही पैसे के लिए ऐसे चीखना-चिल्लाना पड़ रहा है.

प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि धरना देते हुए 37 दिन बीत गए हैं, पर सरकार की तरफ से कोई जवाब नहीं दिया गया है. लोग तब तक प्रदर्शन करने की बात कर रहे हैं, जब तक उनके हक में सुनवाई नहीं हो जाती है.


वीडियो देखें : बेटी के ढाई करोड़ PMC बैंक में अटके थे, मां को पता चला तो हार्ट अटैक से मौत हो गई

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

धर्मशाला में भारत- साउथ अफ्रीका भिड़ने वाले हैं, पहला घंटा ही तय कर देगा मैच का रुख!

भारत पिछली सीरीज में न्यूजीलैंड से 0-3 से हारा था.

दिल्ली हिंसा पर संसद में अमित शाह ने सोनिया का नाम लिए बगैर साधा निशाना

कहा-एक पार्टी की अध्यक्ष ने अपने भाषण में कहा- घर से बाहर निकलो. यह आर-पार की लड़ाई का वक्त है.

SBI ने अपने 44 करोड़ से ज्यादा ग्राहकों को बहुत बड़ी राहत दी है

अगर आप SBI के कस्टमर हैं तो ये खबर आपके लिए ही है.

बिहारः होली के पोस्टर पर नाम नहीं छपवाया तो स्टूडेंट लीडर को गोलियों से भून दिया

सुलह के नाम पर बुलाया, और धड़ाधड़ गोलियां चला दीं.

कांग्रेस ने जिसके लिए खूब तरसाया, बीजेपी ने सिंधिया को वो तीन घंटे में दे दिया

इतनी जल्दी इनाम मिलेगा ये किसी ने नहीं सोचा होगा.

रोहित शेट्टी के बचाव में आईं कटरीना, बताया असल में क्या हुआ था

रोहित का एक बयान वायरल हो रहा था, जिसमें उन्होंने कटरीना को कहा था- 'तुम्हें कोई नहीं देखेगा'.

ज्योतिरादित्य सिंधिया के BJP में जाने के बाद राहुल गांधी ने क्या कहा?

ज्योतिरादित्य और राहुल गांधी कॉलेज में साथ थे.

एक के पैसे में दो स्ट्रीमिंग प्लैटफॉर्म का मज़ा कैसे लें, यहां जानिए

इंडिया में डिज़्नी+ समय से पहले ही आ गया है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बीजेपी में शामिल होकर दो तारीखें गिनाईं

अंततः ज्योतिरादित्य सिंधिया का 'हाथ' हुआ कर-'कमल'

क्या अब कांग्रेस ने भी BJP विधायकों में सेंधमारी कर दी है?

दो दिन से पॉलिटिकल थियेटर बना है एमपी.