Submit your post

Follow Us

पैदल घर जाने को मजबूर लोगों का बीजेपी नेता ने बड़ा क्रूर मज़ाक उड़ाया है

कोरोना वायरस के चलते पीएम नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को लॉकडाउन का ऐलान किया था. इसके बाद से जरूरी सेवाओं के अलावा सब कुछ बंद है. लेकिन काम बंद होने और खाने की कमी के चलते बड़ी संख्या में मजदूर घरों को लौट रहे हैं. पैदल ही सिर पर सामान की गठरी और साथ में परिवार. लेकिन लगता है कि कुछ नेताओं को शायद इससे फर्क नहीं पड़ता.

बीजेपी के नेता हैं बलबीर पुंज. दो बार सांसद भी रह चुके हैं. उन्होंने मजदूरों के अपने घरों-गांवों को लौटने पर बहुत ही टुच्ची बात की है. ‘नेताजी’ ने लिखा है-

खानाबदोश मजदूर दिल्ली छोड़कर क्यों जा रहे हैं? पैसों की चाहत या खाने की? नहीं. यह लापरवाही है. घर पर नौकरी या पैसा उनका इंतजार नहीं कर रहा है. इसके (लॉकडाउन) जरिए वे जबरदस्ती मिली ‘छुट्टी’ का इस्तेमाल अपने परिवारों से मिलने या घर पर बाकी पड़े कामों को पूरा करने के लिए कर रहे हैं. हालात की गंभीरता से उन्हें कोई लेना-देना नहीं.

Untitled

‘गरीबों के लिए प्लेन क्यों नहीं भेजा?’

सोशल मीडिया पर बहुत से लोगों ने बलबीर पुंज को उनके बयान के लिए कोसा भी है. लेकिन वे अपने बयान पर कायम है. पूर्व आम आदमी पार्टी नेता और पत्रकार आशुतोष ने पुंज को जवाब दिया-

बलबीर पुंज बीजेपी/संघ के सदस्य हैं. सरकार विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने के लिये विशेष विमान भेजती है. देश के ग़रीबों को ये ग़ैरज़िम्मेदार बताते हैं. बीजेपी सरकारें इन ग़रीबों के लिये विशेष विमान क्यों नहीं भेजती! ये विचारधारा की मानसिकता है.

बीजेपी नेता तरुण विजय ने भी पुंज के बयान पर असहमति दी. उन्होंने कहा कि दर्द और तकलीफ के समय आदमी अपनों की चिंता करता है. कोई भी उन्हें खाना या शरण देने नहीं गया और किसी ने उन्हें समझाया भी नहीं. हमारे होठों पर दर्द और दुख में पहला नाम मां, बहन और बच्चों का ही आता है.


सरकार ने अब उठाए कदम

बता दें कि लॉकडाउन के बाद से देश के कई राज्यों के मजदूर घरों को लौट रहे हैं. इनमें यूपी, बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश जैसे राज्यों के लोग शामिल हैं. हालांकि अब केंद्र सरकार ने इस बारे में कदम उठाए हैं. गृह मंत्रालय ने राज्यों से घरों को लौट रहे लोगों को खाना और रहने की जगह देने को कहा है. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने मजदूरों से ठहरने की अपील की है. गुजरात और यूपी सरकार ने भी इस दिशा में कदम उठाए हैं.


Video: RBI गवर्नर ने कोरोना लॉकडाउन से लोगों को राहत देने के लिए क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पीएम मोदी ने जिस Y2K क्राइसिस का ज़िक्र किया, वो क्या था?

पीएम ने 12 मई को देश को संबोधित किया.

अपने भाषण में नरेंद्र मोदी ने अगले लॉकडाउन के बारे में ये हिंट दे दिया है

मोदी के 34 मिनट के भाषण में काम की बात क्या थी?

ट्रेन के बाद अब फ़्लाइट शुरू होगी तो यात्रा के क्या नियम होंगे?

केबिन लगेज, जांच और बैठने की व्यवस्था को लेकर क्या नियम हैं?

गुजरात: CM बदलने की संभावना पर खबर चलाई, पुलिस ने राजद्रोह का केस लिख लिया

इस मामले में गुजरात सरकार की किरकिरी हो रही है.

किसी को सही-सही पता ही नहीं कि दिल्ली में कोरोना से कितनी मौतें हुईं!

सरकार और नगर निगम के आंकड़े अलग-अलग.

चीन से ठगे जाने के बाद इंडिया ने अपनी टेस्टिंग किट बनाई, कैसे काम करेगी?

किसने बनाई ये टेस्टिंग किट?

कॉन्स्टेबल साब ने दिल्ली में शराब वितरण का लेटेस्ट तरीका निकाला था, नप गए

दिल्ली में शराब की दुकानों पर भीड़ बहुत ज़्यादा है.

12 मई से चलने वाली ट्रेनों के स्टॉपेज, टाइम टेबल और नियम क़ानून की जानकारी यहां देखिए

किस-किस दिन चलेंगी ट्रेनें?

कोरोना: सुपर स्प्रेडर क्या होते हैं और ये इतने खतरनाक क्यों हैं कि अहमदाबाद में सब कुछ बंद करना पड़ा

अहमदाबाद में 14 हजार सुपर स्प्रेडर होने की आशंका जताई जा रही है.

प्रवासी मजदूरों को लेकर यूपी और राजस्थान की पुलिस में पटका-पटकी हो गई है!

डीएम और एसपी मौके पर पहुंचे तब मामला शांत हुआ.