Submit your post

Follow Us

जय शाह ना होते तो विराट के खिलाफ क्या एक्शन लेने जा रहे थे गांगुली?

सौरव गांगुली वर्सेज विराट कोहली. पिछले कुछ हफ्तों से इंडियन क्रिकेट का सबसे चर्चित टॉपिक. गांगुली और विराट ने पब्लिकली भले ही एक-दूसरे को कुछ ना कहा हो लेकिन अंदर ही अंदर सबको पता है कि टीम इंडिया के इन दो पूर्व कप्तानों के बीच सबकुछ सही नहीं है. और अब इस मामले में एक और बड़ा खुलासा हुआ है. रिपोर्ट्स के मुताबिक BCCI प्रेसिडेंट सौरव गांगुली ने विराट कोहली को कारण बताओ नोटिस जारी करने की तैयारी कर ली थी.

साउथ अफ्रीका टूर पर निकलने से पहले विराट कोहली ने एक प्रेस-कॉन्फ्रेंस की थी. और इस प्रेस-कॉन्फ्रेंस में उन्होंने प्रेसिडेंट गांगुली के दावों की धज्जियां उड़ाकर रख दी थी. गांगुली इसी बात से गुस्सा थे. और अगर बोर्ड सेक्रेटरी जय शाह बीच में ना आते तो गांगुली ने विराट को कारण बताओ नोटिस पकड़ा ही दिया होता. जय शाह ने गांगुली को समझा-बुझाकर ऐसा करने से रोका. इंडिया टुडे के मुताबिक बोर्ड नहीं चाहता था कि टीम इंडिया का साउथ अफ्रीका टूर किसी नेगेटिव चीज से शुरू हो.

# Kohli vs Ganguly

गौरतलब है कि कोहली ने T20I की कप्तानी छोड़ते वक्त साफ कहा था कि वह वनडे और टेस्ट की कप्तानी जारी रखना चाहते हैं. लेकिन बोर्ड ने उनकी बात ना मानते हुए विराट को हटाकर रोहित शर्मा को वनडे की कप्तानी सौंप दी. और इसी फैसले के बाद आई कोहली की प्रेस कॉन्फ्रेंस. जिसमें उन्होंने साफ कहा कि बोर्ड में से किसी ने भी उन्हें T20I की कप्तानी ना छोड़ने के लिए नहीं कहा था.

कोहली ने इस प्रेस-कॉन्फ्रेंस में यह भी कहा कि चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने उन्हें वनडे कप्तानी से हटाए जाने की सूचना साउथ अफ्रीका के लिए टेस्ट टीम चुने जाने से सिर्फ 90 मिनट पहले दी थी. कोहली ने कहा था,

‘T20I कप्तानी की बात करें तो मैंने पहले BCCI से संपर्क किया. उन्हें अपना पॉइंट ऑफ व्यू और कारण बताए. और उस वक्त सभी ने इसका स्वागत किया. वहां कोई विरोध नहीं था. किसी तरह की हिचकिचाहट भी नहीं थी. मुझे T20I कप्तानी ना छोड़ने के लिए नहीं कहा गया. बल्कि इसे सही दिशा में उठाया गया एक प्रगतिशील कदम बताया गया.’

चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने बाद में कोहली के इन आरोपों का जवाब दिया. चेतन ने साफ कहा कि BCCI के सदस्यों और सेलेक्टर्स ने कोहली से T20I कप्तानी ना छोड़ने का अनुरोध किया था. शर्मा ने साफ कहा कि मीटिंग में मौजूद सब लोगों ने कोहली से कप्तानी ना छोड़ने के लिए कहा था. बता दें कि शर्मा ने कमोबेश वही बातें कहीं जो गांगुली पहले कह चुके थे. और जिनका कोहली ने सिरे से खंडन कर दिया था.


Ind Vs SA: शिखर धवन ने क्यों कहा- मैं मीडिया की नहीं सुनता?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

20 करोड़ सालाना बिक्री पर ई-इनवॉइसिंग जरूरी, टैक्स चोरी थमेगी.

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

वजह पतंजलि समूह का एक कथित संदेश बताया गया है?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

कई पुराने तो कुछ नए चेहरों को मंत्रीमंडल में जगह मिली है.

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ के साथ 52 मंत्रियों ने भी ली शपथ

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

ममता बनर्जी ने घटना के पीछे साजिश होने की आशंका भी जताई.

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बोचहां विधानसभा उपचुनाव और एमएलसी इलेक्शन से पहले मुकेश सहनी को तगड़ा झटका.

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

सरकार को बिल वापस लेना पड़ा, बीजेपी बोली- पूरे कुएं में भांग है.

थोक ग्राहकों के लिए 25 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल, आम लोगों पर ये असर पड़ेगा

थोक ग्राहकों के लिए 25 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल, आम लोगों पर ये असर पड़ेगा

कीमतें बढ़ने से ब्लैक मार्केटिंग बढ़ने की आशंका. बंद हो सकते हैं कई पंप.

हरभजन सिंह को राज्यसभा में भेजने के साथ AAP उन्हें एक और बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है

हरभजन सिंह को राज्यसभा में भेजने के साथ AAP उन्हें एक और बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है

पंजाब के सीएम भगवंत मान और भज्जी काफी करीबी दोस्त माने जाते हैं.

इराक में अमेरिकी दूतावास के पास मिसाइल हमला करने की ईरान ने क्या वजह बताई?

इराक में अमेरिकी दूतावास के पास मिसाइल हमला करने की ईरान ने क्या वजह बताई?

ईरान ने इजरायल का नाम क्यों लिया है?