Submit your post

Follow Us

बाहुबली-3 भी बनेगी, ये रही जानकारियां

डायरेक्टर एसएस राजामौली ने जब पापा विजयेंद्र प्रसाद की लिखी कहानी पर फिल्म बनाने का फैसला लिया तब उन्होंने नहीं पता था कि ये इतनी विराट हो जाएगी. इसीलिए इसकी प्लानिंग दो फिल्मों के हिसाब से ही की गई – ‘बाहुबलीः द बिगिनिंग’ और ‘द कनक्लूजन’. लेकिन पहली ‘बाहुबली’ रिलीज हुई और सबकुछ बदल गया. भयंकर पैसा, भारी लोकप्रियता मिला. अब ‘बाहुबली-2’ आई है और इसने न सिर्फ अपनी सीरीज की पहली फिल्म बल्कि हिंदुस्तानी सिनेमा की आज तक की सब फिल्मों की कमाई को तोड़ने का इशारा कर दिया है.

वित्त बड़ी चीज़ है.

अगर कोई प्रोडक्ट पैसा कूट रहा है तो चाहे आपने हीरो-हीरोइन को मार डाला है, चाहे शुरू से आखिरी तक की जर्नी दिखा दी है, राइटर अपनी कलम के ताले खोलकर कल्पनालोक से फिर भी कुछ निकाल ही लाएगा क्योंकि अरबों दांव पर लगे हैं.

यही होने जा रहा लगता है. एसएस राजामौली ने लंदन के खचाखच भरे ब्रिटिश फिल्म इंस्टिट्यूट में अपनी फिल्म की स्क्रीनिंग के दौरान इस संभावना से इनकार नहीं किया कि ‘बाहुबली-3’ बन सकती है. दरअसल ‘बाहुबली-2’ पूरी होने के बाद जब क्रेडिट्स आने शुरू होते हैं तो एक वॉयसओवर सुनाई देता है जिसमें इस कहानी के आगे भी जारी रहने का संकेत मिलते हैं. इसे लेकर राजामौली से पूछा गया तो पहले उन्होंने कहा “ये तो बस फैंस के मजे के लिए किया गया.”

फिल्म बाहुबली के सेट पर राणा दग्गुबाती के साथ डायरेक्टर एसएस राजामौली.
फिल्म बाहुबली के सेट पर राणा दग्गुबाती के साथ डायरेक्टर एसएस राजामौली.

लेकिन फिर उन्होंने कहा, “हमें मार्केट भी देखना होगा. हमारे पास बहुत ही बांध देने वाली कहानी नहीं हो और हम फिर भी फिल्म बना दें तो वो ईमानदार फिल्ममेकिंग नहीं होगी. लेकिन कौन जाने अगर मेरे पिता ऐसी सम्मोहक कहानी ले आएं जैसी पहले लाए थे तो रुकने वाली कोई बात नहीं, हम कभी भी (बाहुबली-3) बना सकते हैं.”

बनाएंगे क्योंकि बाजार बन चुका है

राजामौली अभी ‘बाहुबली-3’ के ढांचे को लेकर बोलने की स्थिति में नहीं हैं लेकिन ये तय है कि वे इसे बनाएंगे ही. क्योंकि कमर्शियल सिनेमा में ऐसा नहीं हो सकता कि किसी फ्रैंचाइज की आखिरी फिल्म ने भयंकर पैसा कमाया हो और फिर भी उसको आगे न बढ़ाया गया हो. मार्केट ऐसा करने की इजाजत नहीं देता. जब तक दर्शक ऊब नहीं जाएगा तब तक उसे उत्पाद सप्लाई किया ही जाएगा. इस दौरान ये मैटर नहीं करता कि ‘बाहुबली’ की कहानी तो खत्म हो चुकी है, उसमें दर्जनों कहानियां निकाल ली जाएंगी.

जैसे पीटर जैक्सन ने किया था. वही पीटर जिनकी ‘द लॉर्ड ऑफ द रिंग्स’ सीरीज की फिल्मों से प्रेरित होकर ही राजामौली ने ‘बाहुबली’ बनाई थी. पीटर ने भी पहले 2001 से लेकर 2003 के बीच इस सीरीज की तीन फिल्में प्रस्तुत की लेकिन बिजनेस बहुत अच्छा रहा तो वे कहानी की प्रीक्वल बनाने में जुट गए और दस साल बाद ‘द हॉबिट’ सीरीज की तीन फिल्में रिलीज कीं जिनके इंतजार में बाजार का आकार और बढ़ चुका था.

राजामौली के पास ‘द हॉबिट’ वाला फॉर्मूला है

पीटर की ‘द लॉर्ड ऑफ द रिंग्स’ की तीन फिल्में खत्म हो गईं तो ‘द हॉबिट’ की कहानी उससे साठ साल पहले ले जाई गई. पहली तीन फिल्मों में फ्रोडो की जर्नी दिखाई गई जो मानव सभ्यता के लिए खतरा बनी एक अंगूठी को नष्ट करने के लिए माउंट डूम तक पहुंचने की यात्रा पर निलकता है जहां की आग में उसे बनाया गया था. ‘द हॉबिट’ में इसी फ्रोडो के बुजुर्ग रिश्तेदार बिल्बो बैगिन्स की जर्नी दिखती है जो अपने बाकी बौने साथियों के साथ एरेबॉर राज्य की सत्ता को स्थापित करवाने निकलता है और इसी दौरान उसे गोलम नाम का विलक्षण जीव और सोने की वो अंगूठी मिलती है जिसे नष्ट करने बाद की कहानियों में लंबी जर्नी पर फ्रोडो जाता है.

द हॉबिट सीरीज की शूटिंग के दौरान डायरेक्टर पीटर जैक्सन.
‘द हॉबिट’ सीरीज की शूटिंग के दौरान डायरेक्टर पीटर जैक्सन.

वैसे पीटर की सभी छह फिल्में टॉल्किन के पुराने और पॉपुलर नॉवेल पर आधारित थीं पर चूंकि विजयेंद्र प्रसाद ने अलग-अलग प्रेरणाओं से ‘बाहुबली’ की कहानी खुद लिखी इसलिए प्रीक्वल या सीक्वल के रूप में दो-तीन फिल्मों की नई कहानी लिख सकते हैं. उनके पास कंटेंट बहुत सारा है क्योंकि पौराणिक गाथाओं के मामले में भारत से समृद्ध कौन होगा. वैसे भी राजामौली ‘महाभारत’ पर फिल्म बनाने की घोषणा कर ही चुके हैं और इसकी कास्टिंग में अमिताभ बच्चन और आमिर खान जैसे नामों की चर्चा हो रही है.

देखें बाहुबली-2 और द हॉबिट के ट्रेलरः

विदेशी दर्शकों पर नजर

जितनी कमाई शाहरुख, सलमान की फिल्में ईद-दीपावली जैसी बेस्ट डेट्स पर करती हैं, उससे ज्यादा कमाई बाहुबली सोमवार, मंगलवार जैसे डेड डेज में कर रही है. रिलीज के पांचवें दिन मंगलवार को फिल्म के सिर्फ हिंदी संस्करण ने ही करीब 30 करोड़ रुपये कमाए जो विलक्षण है. अब तक सिर्फ हिंदी वर्जन की कमाई ही करीब 200 करोड़ रुपये हो चुकी है जिसमें तमिल, तेलुगु और अन्य भाषाएं शामिल नहीं हैं. उनकी कमाई भी बहुत जोरदार है. विदेशों में भी आंकड़ा बड़ा है.

राजामौली ने लंदन में ये भी कहा कि “इस फिल्म की कहानी को लेकर कई चुनौतियां थीं. हमें पता था कि सिर्फ एक क्षेत्र में हमारे लिए पर्याप्त बड़ा बाजार नहीं था लेकिन हमने इसकी कहानी को सीमित करने के बजाय अपने बाजारों को फैलाने पर बहुत मेहनत की. अब हमारे लिए बाजार खुल चुके हैं और हमारी बहुत बड़ी फैन फॉलोइंग हो चुकी है.”

और पढ़ें:
बाहुबली-2 में लोग कमियां देखने को तैयार नहीं लेकिन अब उन्हें देखनी होंगी
बाला: वह डायरेक्टर जो एक्टर्स की ऐसी तैसी करता है और वे करवाते हैं
गैंग्स ऑफ वासेपुर की मेकिंग से जुड़ी ये 24 बातें जानते हैं आप!
कटप्पा और बाहुबली के हर राज़ से परदा नास्त्रेदमस ने उठा दिया था, देखो सुबूत!
‘बाहुबली 2’ की 10 बातें, जो आप नोटिस नहीं करेंगे
क्या सच में बाहुबली 2 की पहले दिन की कमाई शहीदों के लिए दान की गई है?
कोई फिल्म ‘बाहुबली 2’ के आसपास नहीं फटक रही है, जानें अब तक की कमाई

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

DU के वो स्टूडेंट्स, जो ऑनलाइन ओपन बुक एग्जाम नहीं दे पाए, उनके लिए हाई कोर्ट ने किया ये इंतजाम

इस बार कट ऑफ लिस्ट देरी से आएंगी, नई क्लास में दाखिले भी होंगे लेट

CBI जांच का फैसला आते ही सुशांत की बहन और बॉलीवुड वालों ने क्या कहा?

एक यूजर ने लिखा- मेरे तो आंसू ही नहीं रुक रहे.

कैंसर का इलाज करा रहे संजय दत्त की बीमारी पर मान्यता दत्त की चिट्ठी भावुक कर देगी

‘बीमारी के इस स्टेज पर अनुमान न लगाएं, हम इस स्थिति को भी पार कर लेंगे.'

'शाहरुख खान के व्यवहार से दुखी थे सुशांत,' ख़ुद को जिम पार्टनर बताने वाले शख्स का दावा

2013 के IIFA अवॉर्ड्स में शाहरुख, शाहिद कपूर और सुशांत ने परफ़ॉर्म किया था.

लॉकडाउन : पहले महीने में 1.77 करोड़ सैलरी पाने वाले लोगों की नौकरी गयी, कुल 26 करोड़ लोग जॉब से हाथ धो बैठे

जून में जितने लोगों को देशभर में नौकरी मिली, जुलाई में उससे 11 लाख ज़्यादा लोगों को निकाल दिया गया.

रिया ने कहा- सुशांत की बहन ने ग़लत हरकतें कीं, तभी उसके परिवार से खटक गई

रिया चक्रवर्ती ने लंबा-चौड़ स्टेटमेंट जारी किया है.

नसीरुद्दीन शाह ने जो 'आधे ज्ञान वाली स्टार' जैसी बात कही थी, उस पर कंगना रनौत ने जवाब दे दिया

नसीरुद्दीन शाह ने बिना नाम लिए कहा था, जवाब कंगना ने दिया है.

क्या है ये वर्चुअल प्रॉडक्शन तकनीक, जिससे इंडिया की पहली फिल्म शूट होने जा रही है?

'अवतार' और 'द लायन किंग' भी इसी तकनीक से शूट हुई थीं.

मुंबई में बिजनेसमैन नमाज पढ़ने गए थे, मस्जिद के बाहर 15 बार चाकू घोंपकर हत्या

दो साल से मिल रही थीं धमकियां. पुलिस को भी बताया था, पर सुनवाई नहीं हुई

कभी कंगना ने ही कहा था करण जौहर पद्मश्री डिज़र्व करते हैं, अब कह रही हैं इनसे ये अवॉर्ड वापस ले लो

कंगना-करण युद्ध का नया अध्याय.