Submit your post

Follow Us

आयुष्मान खुराना ने बताया, सुरेखा सीकरी की किस बात ने उन्हें अवाक कर दिया था

मशहूर फिल्म और थिएटर एक्टर सुरेखा सीकरी नहीं रहीं. 16 जुलाई की सुबह कार्डियक अरेस्ट की वजह से उनका निधन हो गया. वो 75 साल की थीं. तीन बार नेशनल अवॉर्ड जीत चुकीं एक्ट्रेस सुरेखा सीकरी को बालिका वधू में निभाए उनके दादीसा के किरदार ने घर-घर तक पहुंचा दिया. इसके बाद आई आयुष्मान खुराना की ‘बधाई हो’ में उनके काम की खूब तारीफ हुई. आयुष्मान खुराना ने सुरेखा सीकरी के निधन के बाद एक भावुक कर देने वाला नोट लिखा है.

आयुष्मान खुराना ने लिखा,

हर फिल्म में हमारा एक परिवार होता है. हम अपने असली परिवार की तुलना में फिल्मी परिवार के साथ ज्यादा समय बिताते हैं. ऐसा ही एक खूबसूरत परिवार ‘बधाई हो’ में था. यह एक परफेक्ट फैमिली के साथ-साथ एक परफेक्ट कास्ट थी. सुरेखा सीकरी हमारे परिवार की मुखिया थीं, जो पूरे परिवार से ज्यादा प्रोग्रेसिव थीं. आप जानते हैं, वे असल जीवन में भी ऐसी ही थीं. जिंदादिल. मुझे याद है जब वे फिल्म की स्क्रीनिंग के बाद एक ऑटो रिक्शा में बैठ गई थीं, ताहिरा और मैंने उन्हें घर तक लिफ्ट दी थी और हमने कहा था- मैडम आप हमारी फिल्म की असली स्टार हैं. उन्होंने जवाब दिया था कि काश मुझे और काम मिलता. ताहिरा और मैं अवाक थे. हमने उन्हें कमजोर हाव-भाव के साथ अपनी बिल्डिंग की ओर जाते हुए देखा था. यह मेरी उनसे जुड़ी आखिरी याद है.

आयुष्मान ने आगे लिखा,

मैं आपसे फैज अहमद फैज की नज्म मुझसे पहली सी मोहब्बत मेरे महबूब न मांग’ उनके अंदाज में सुनाने के लिए गुजारिश करता हूं. आपको उनसे और मोहब्बत हो जाएगी. एक शानदार कलाकार. आप सुरेखा मैडम को याद करेंगे. खूबसूरत यादों के लिए धन्यवाद.

इससे पहले ‘बधाई हो’ के कलाकार सान्या मल्होत्रा, नीना गुप्ता और गजराज राव ने उनकी याद में पोस्ट किए थे. निर्देशक अमित शर्मा ने लिखा था, ‘आपको हमेशा याद किया जाएगा सुरेखा जी. मैं आपको याद करूंगा. प्रार्थना करता हूं कि आप एक बेहतर जगह पर होंगी.

सुरेखा सीकरी ने अपने करियर की शुरुआत 1978 में आई पॉलिटिकल सटायर फिल्म ‘किस्सा कुर्सी का’ से की थी. आगे वो ‘सलीम लंगड़े पे मत रो’, ‘सरदारी बेगम’, ‘सरफरोश’ और ‘रेनकोट’ जैसी फिल्मों में नज़र आईं. उन्हें ‘तमस’, ‘मम्मो’ और ‘बधाई हो’ जैसी फिल्मों में आला काम के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. कुछ समय के लिए फिल्मों से दूर होने के दौरान सुरेखा ने कई चर्चित टीवी शोज़ में काम किया. जिसमें ‘बनेगी अपनी बात’, ‘परदेस में है मेरा दिल’ और ‘बालिका वधू’ खास हैं.

वो ‘बधाई हो’ के बाद करियर के उस मुकाम पर पहुंच गई थीं, जब उनके पास फिल्मों का ढेर लगा हुआ था. फिर एक हादसा हुआ. 2018 में वो एक टीवी शो की शूटिंग के लिए महाबलेश्वर गई हुई थीं. वहां उन्हें ब्रेन स्ट्रोक हो गया. व्हील चेयर के बिना कहीं आना जाना बंद हो गया. वो इसी हिचकिचाहट के मारे बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवॉर्ड लेने भी नहीं गईं. हालांकि उन्होंने व्हील चेयर पर बैठे-बैठे ही फिल्म ‘बधाई हो’ के लिए अपने करियर का तीसरा बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का नेशनल अवॉर्ड स्वीकार किया.

2020 में उन्हें एक बार फिर ब्रेन स्ट्रोक हुआ. ट्रीटमेंट हुआ. मगर वो फिर पहले जैसी एक्टिव नहीं हो पाईं. इस दौरान उन्हें फराज़ अंसारी की ‘शीर कोरमा’ और एक अनाम फिल्म में गुज़रे ज़माने की एक्ट्रेस का रोल नहीं कर पाने का मलाल होता रहा. 16 जुलाई, 2021 की तड़के सुबह उन्हें कार्डियक अरेस्ट हुआ और वो इस दुनिया से चली गईं.

सुरेखा आखिरी बार नेटफ्लिक्स एंथोलॉजी फिल्म ‘घोस्ट स्टोरीज़’ में नज़र आई थीं. वो ज़ोया अख्तर वाले सेग्मेंट में नज़र आई थीं.


‘बालिका वधू’ और ‘बधाई हो’ में काम कर चुकीं सुरेखा सीकरी का कौन सा सपना अधूरा रह गया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

टी-सीरीज़ वाले भूषण कुमार पर रेप का आरोप लगा, मुंबई में रिपोर्ट दर्ज

टी-सीरीज़ वाले भूषण कुमार पर रेप का आरोप लगा, मुंबई में रिपोर्ट दर्ज

मुंबई के डीएन थाने में तीस साल की महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई.

अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, तालिबान ने किया था हमला

अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, तालिबान ने किया था हमला

दानिश सिद्दीकी अपनी तस्वीरों के लिए फेमस थे, 2018 में Pulitzer अवार्ड भी मिला था.

MP के विदिशा में 30 से ज्यादा लोग कुएं में गिरे, 4 की मौत, 13 लापता, 19 बचाए गए

MP के विदिशा में 30 से ज्यादा लोग कुएं में गिरे, 4 की मौत, 13 लापता, 19 बचाए गए

बच्चा कुएं में गिरा, तो बड़ी संख्या में ग्रामीण कुएं की छत पर चढ़ गए थे.

'नदिया के पार' जैसी बड़ी फ़िल्मों में काम कर चुकीं एक्ट्रेस सविता बजाज की हताशा,

'नदिया के पार' जैसी बड़ी फ़िल्मों में काम कर चुकीं एक्ट्रेस सविता बजाज की हताशा, "मेरा गला घोंट दो"

इलाज के लिए पैसे नहीं हैं.

PM मोदी ने वाराणसी में जिस रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का उद्घाटन किया, वो है क्या?

PM मोदी ने वाराणसी में जिस रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का उद्घाटन किया, वो है क्या?

योगी सरकार के लिए क्या बोले PM?

कांवड़ यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट ने दिखाई सख्ती, लेकिन यूपी सरकार पीछे हटने को तैयार नहीं?

कांवड़ यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट ने दिखाई सख्ती, लेकिन यूपी सरकार पीछे हटने को तैयार नहीं?

योगी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री के बयान से तो कुछ ऐसा ही लग रहा.

पीएम मोदी के मंत्रिमंडल विस्तार में ऐसा क्या हुआ कि महाराष्ट्र बीजेपी में उथल-पुथल मच गई?

पीएम मोदी के मंत्रिमंडल विस्तार में ऐसा क्या हुआ कि महाराष्ट्र बीजेपी में उथल-पुथल मच गई?

क्या पंकजा मुंडे की नाराजगी महाराष्ट्र बीजेपी को भारी पड़ेगी?

पंजाबी सिंगर मनमीत सिंह का शव बरामद हुआ, भारी बारिश के बाद बह गए थे

पंजाबी सिंगर मनमीत सिंह का शव बरामद हुआ, भारी बारिश के बाद बह गए थे

एक नाला पार करते वक्त गिर गए थे मनमीत सिंह.

कोंगु नाडु: मोदी कैबिनेट का विस्तार तमिलनाडु के विभाजन से जुड़े इस पुराने मुद्दे को कैसे हवा दे गया?

कोंगु नाडु: मोदी कैबिनेट का विस्तार तमिलनाडु के विभाजन से जुड़े इस पुराने मुद्दे को कैसे हवा दे गया?

तमिल मीडिया के एक हिस्से में इसे लेकर काफी गर्मजोशी दिखाई जा रही है.

कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए कितने तैयार हैं हम?

कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए कितने तैयार हैं हम?

पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों की बैठक में क्या बता दिया?