Submit your post

Follow Us

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर ओवैसी ने क्या कहा?

अयोध्या ज़मीन विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है. कोर्ट ने ज़मीन पर रामलला का दावा माना है. फैसला आने के बाद से ही पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और दूसरे लोग अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं. असदुद्दीन ओवैसी के बयान का सभी को इंतज़ार था. अब वो भी आ गया है.

 AIMIM प्रमुख इस फैसले से असंतुष्ट हैं. उन्होंने कहा,

“जिन वकीलों ने बाबरी मस्जिद का केस लड़ा, मुस्लिमों के पक्ष में, उन सबको मैं शुक्रिया कहना चाहता हूं. उन्होंने बहुत मेहनत की. मुस्लिम पक्ष के केस को सुप्रीम कोर्ट के सामने रखा. जैसा कि मैंने आपसे कहा कि ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का जो ऑफिशियल पोज़िशन आया है, बोर्ड ने कहा है कि हम इस फैसले से संतुष्ट नहीं हैं. मेरा भी यही कहना है. मेरा मानना ये है कि सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम जरूर है, लेकिन इन्फैलिबल नहीं है. मेरी प्रतिक्रिया ये है कि अगर 6 दिसंबर 1992 को मस्जिद नहीं गिरी होती, तो कोर्ट का क्या फैसला होता? मुझे नहीं मालूम. लेकिन फिर भी सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम है. लेकिन इन्फैलिबल नहीं है.”

Ayodhya Banner Final
क्लिक करके पढ़िए दी लल्लनटॉप पर अयोध्या भूमि विवाद की टॉप टू बॉटम कवरेज.

इसके पहले ओवैसी ने ट्वीट भी किया था. एक तस्वीर पोस्ट की थी. हालांकि कहीं पर भी अयोध्या केस का जिक्र नहीं किया है, लेकिन जो तस्वीर डाली है, वो अयोध्या पर आए फैसले की तरफ इशारा करती हुई लग रही थी. ओवैसी ने ‘सुप्रीम, बट नॉट इन्फैलिबल’ किताब के कवर पेज की फोटो डाली है. पहले उनका ट्वीट देख लीजिए-

आपको बता दें कि इन्फैलिबल शब्द का हिंदी अर्थ अचूक यानी कभी गलती न करने वाला होता है. यानी ‘सर्वोच्च, लेकिन अचूक नहीं’. किताब ‘ऑक्सफोर्ड इंडिया पेपरबैक्स ने छापी है. इसमें सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया के सम्मान में निबंध लिखे गए हैं. किताब के लेखक पूर्व सीजेआई बी.एन कृपाल, वरिष्ठ वकील अशोक देसाई, गोपाल सुब्रमण्यम, राजीव धवन और राजू रामचंद्रन हैं.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?

बलबीर सिंह सीनियर: तीन बार के हॉकी गोल्ड मेडलिस्ट, जिन्होंने 1948 में इंग्लैंड को घुटनों पर ला दिया था

हॉकी लेजेंड और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और कोच बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन.

दूसरे राज्य इन शर्तों पर यूपी के मजदूरों को अपने यहां काम करने के लिए ले जा सकते हैं

प्रवासी मजदूरों को लेकर सीएम योगी ने बड़ा फैसला किया है.

ऑनलाइन क्लास में Noun समझाने के चक्कर में पाकिस्तान की तारीफ, टीचर सस्पेंड

टीचर शादाब खनम ने माफी भी मांगी, लेकिन पैरेंट्स ने शिकायत कर दी.

लद्दाख में तकरार बढ़ी, तीन जगह चीनी सेना ने मोर्चा लगाया, तंबू गाड़े

दोनों ओर के सैनिकों ने मोर्चा संभाला.

पाताल लोक वेब सीरीज में फोटो से छेड़छाड़ पर BJP विधायक ने की अनुष्का से माफी की मांग

प्रोड्यूसर अनुष्का शर्मा पर रासुका के तहत कार्रवाई की मांग की.

कानपुर स्टेशन पर ट्रेन रुकी और खाने को लेकर आपस में भिड़ गए प्रवासी मज़दूर

दो कोचों के मज़दूर आपस में झगड़ पड़े. कुछ को खाना मिला, बाकी जमीन पर गिर गया.

दुनिया का सबसे तेज़ इंटरनेट, एक सेकेंड में 1000 एचडी मूवी डाउनलोड का दावा

ऑस्ट्रेलिया की तीन यूनिवर्सिटी के टेक रिसर्चर्स ने मिलकर ये कनेक्शन तैयार किया है.

केंद्र से अक्सर लड़ने वाली ममता बनर्जी की पीएम मोदी ने किस बात पर तारीफ की?

पश्चिम बंगाल दौरे पर पीएम मोदी ने 'अमपन' को लेकर एक हज़ार करोड़ रुपए की मदद का ऐलान किया.

रिज़र्व बैंक ने एक बार फिर रेपो रेट घटाया, EMI से तीन महीने और छुटकारा

मार्च और अप्रैल महीने में रिज़र्व बैंक ने रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट घटाया था.