Submit your post

Follow Us

रेणुका शहाणे की दोस्त के पास मां के इलाज के लिए पैसे नहीं थे, अक्षय कुमार ने चुपचाप मदद कर दी

एक्ट्रेस रेणुका शहाणे. 9 जून को अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट किया था. बताया था कि उनकी दोस्त एक्ट्रेस नुपुर अलंकार पैसों की तंगी से जूझ रही हैं. उनकी मां बीमार हैं, और बचत PMC बैंक में जमा है, लॉकडाउन के दौरान काम भी बंद है, इसलिए हाथ में कोई पैसे नहीं हैं. यही वजह है कि नुपुर अपनी मां को अस्पताल में भी भर्ती नहीं करवा पा रही हैं. रेणुका ने लोगों से अपील की थी कि नुपुर की मदद करें. इस पोस्ट के एक हफ्ते बाद रेणुका ने सोशल मीडिया पर जानकारी दी कि उनकी दोस्त को मदद मिल गई है. मदद करने वालों को थैंक्यू कहा. और एक एक्टर की दिल खोलकर तारीफ की. एक्टर का नाम है अक्षय कुमार.

क्यों तारीफ की?

क्योंकि अक्षय ने नुपुर की काफी मदद की. उनकी हेल्प का ही नतीजा है कि अब एक्ट्रेस की मां को इलाज मिल पा रहा है. अक्षय के इस नेक काम के लिए रेणुका ने उन्हें ‘फरिश्ता’ तक कह दिया है. उन्होंने लगातार सात ट्वीट किए. लिखा,

‘PMC बैंक क्राइसिस, लॉकडाउन और मां की बिगड़ती सेहत के कारण नुपुर काफी डरावने वक्त से गुज़र रही थीं. लेकिन आप लोगों ने उनकी मदद की. आप सभी लोगों के लिए मैं क्या कह सकती हूं. आपकी तारीफ करना चाहती हूं और ये अपील करती हूं कि आगे कॉन्ट्रिब्यूट न करें. फिल्म इंडस्ट्री के एक फरिश्ते ने नुपुर की मदद की, जिससे अब उनकी मां को अच्छा इलाज मिलेगा. इस फरिश्ते ने बिना किसी अपेक्षा के अब तक कई एक्टर्स और फिल्म इंडस्ट्री में काम करने वाले वर्कर्स की मदद की है’

इसके आगे रेणुका ने बताया कि उस एक्टर (फरिश्ते) ने उनका फेसबुक पोस्ट पढ़ा था, उसके बाद उनसे ट्विटर पर कॉन्टैक्ट किया था. आशुतोष राणा (एक्टर और रेणुका के पति) को भी फोन करके नुपुर की डिटेल मांगी थी. ये पूछा था कि नुपुर को कितने पैसों की जरूरत है. रेणुका आगे लिखती हैं,

‘मैंने अमाउंट की जानकारी उन्हें दे दी, तब उन्होंने कहा कि काम हो जाएगा. उन्होंने मदद की. मैंने उनके नेक काम के लिए उन्हें थैंक्यू कहा, तो बदले में उन्होंने मराठी में कहा ‘मुझे थैंक्यू मत कहिए, उनकी मां जल्दी से ठीक हो जाएं. बस यही ज़रूरी है’. इस वक्त जहां हर कोई ये डिबेट कर रहा है कि लोग ज़रूरत के वक्त पर एक-दूसरे के साथ नहीं होते, उस फरिश्ते ने साबित कर दिया कि उनके जैसे नगीने आज भी हैं, जो ज़रूरतमंद लोगों के साथ खड़े हैं, उनके साथ हैं जिनसे वो कभी मिले नहीं है और न ही कभी साथ में काम किया है.’

रेणुका ने आगे दो ट्वीट और किए. आखिरकार उन्होंने उस फरिश्ते का नाम सबको बताया. उन्होंने लिखा,

‘मैं इस दयालु और उदार फरिश्ते को जितना थैंक्यू कहूं, उतना कम है. ये फरिश्ता कोई और नहीं, बल्कि सुपरस्टार अक्षय कुमार हैं. ऐसे इंसान हैं, जिनका दिल साफ है और खरे सोने जैसा है. मैं अक्षय कुमार जी कि इतनी आभारी हूं कि थैंक्यू उसके सामने बहुत छोटा शब्द है. आपके इस विनम्र काम ने मुझे बहुत प्रभावित किया है. उम्मीद करती हूं आप और आपके परिवार को सारी खुशियां और सफलता मिले. सचमुच ऋणी हूं.’

रेणुका ने यही पोस्ट अपने फेसबुक पेज पर भी डाला. सोशल मीडिया पर लोग अक्षय कुमार के इस काम की बहुत तारीफ कर रहे हैं. अक्षय लॉकडाउन के दौरान लगातार लोगों की मदद कर रहे हैं. उन्होंने पहले पीएम केयर्स फंड में डोनेशन दिया. फिर फिल्म इंडस्ट्री के कर्मचारियों की मदद की. और भी बहुत सारे काम अक्षय लगातार कर रहे हैं.


वीडियो देखें: सुशांत सिंह राजपूत के ट्विटर और इंस्टाग्राम के बायो के पीछे की साइंस समझिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.

सुशांत के पिता और उनके विधायक भाई ने डिप्रेशन को लेकर क्या कहा?

फाइनेंशियल दिक्कत की ख़बरों पर भी बोले.

मुंबई में सुशांत सिंह राजपूत को दी गई अंतिम विदाई, ये हस्तियां हुईं शामिल

मुंबई में तेज बारिश के बीच अंतिम संस्कार.

सुशांत ने किस दोस्त को आख़िरी कॉल किया था?

दोस्त फोन रिसीव न कर सका. जब तक कॉल बैक किया, देर हो चुकी थी.

सुशांत के साथ काम कर चुके मनोज बाजपेयी, राजकुमार राव और अनुष्का शर्मा ने क्या कहा?

सुशांत ने 11 फिल्मों में काम किया था.

सुशांत के सुसाइड से जुड़ी शुरुआती डिटेल्स आ गई हैं, सुबह 10 बजे तक सब ठीक था

किसे कॉल किया था? घर में कितने लोग थे? वगैरह.

कभी फिल्मी सितारों के पीछे नाचते थे सुशांत, फिर एकता कपूर ने कहा- मैं तुझे स्टार बनाऊंगी

सुशांत सिंह राजपूत ने फिल्मों से पहले छोटे पर्दे पर काम किया था.

मुम्बई से लेकर सुशांत के पटना वाले घर तक हर तरफ भयानक सदमा है

सुशांत के पिता पटना में रहते हैं. सदमे में चले गए हैं.

13 जून की रात सुशांत के दोस्त उनके साथ उनके घर पर रुके थे

14 जून की सुबह जब कई बार बुलाने पर भी दरवाज़ा नहीं खुला, तो शक हुआ.

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या पर पीएम मोदी समेत राजनीति से जुड़े लोग क्या बोले?

कम उम्र में सुसाइड को लेकर तमाम लोग चौंक रहे हैं.