Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन में क्या आम, क्या खास; सबको 'बढ़े हुए बिजली बिल' का करंट लग रहा है!

लॉकडाउन ने घर में रह रहे लोगों के लिए अब एक नई समस्या पैदा कर दी है. समस्या है बिजली के बिल की. एक्ट्रेस तापसी पन्नू, रेणुका शहाणे, वीर दास, नेहा धूपिया जैसे कई सितारों ने बढ़े हुए बिजली बिल की शिकायत की है. बिजली कंपनियों से शिकायत के तौर पर किए गए पोस्ट में बताया गया है कि जून महीने में जो बिल भेजा गया है वो इतना ज़्यादा है कि समझ से परे है. बिजली कंपनियों का कहना है कि अब मीटर रीडिंग कराई जाएगी. एनर्जी मिनिस्टर नितिन राउत ने भरोसा दिलाया कि कोई बिजली कटौती नहीं होगी.

# रेणुका शहाणे बिजली बिल पर भड़कीं

रेणुका शहाणे ने सोशल मीडिया पर एक ट्वीट के जरिए बताया है कि उनका बिजली का बिल काफी ज्यादा आया है. वो लिखती हैं- मेरा बिजली का बिल मई 8 को 5510 रुपये आया, वहीं जून में मेरा बिल 29,700 रुपये आया. उस बिल में आपने मई और जून दोनों का जोड़ दिया. लेकिन आपने उस बिल में मेरा मई का बिल 18080 रुपये दिखाया है. मेरा बिल 5510 रुपये से 18080 रुपये कैसे हो गया?

रेणुका शहाणे का ये ट्वीट इस समय वायरल है. कुछ लोग तो रेणुका के ट्वीट के जरिए अडानी पर ही निशाना साधने की कोशिश कर रहे हैं. वहीं कुछ लोग ऐसे भी सामने आए हैं जो रेणुका को धरना करने की सलाह दे रहे हैं.

# तापसी पन्नू ने भी जताई नाराजगी

रेणुका अकेली नहीं है जो इस समय बढ़े हुए बिजली बिल से परेशान हैं. उन से पहले तापसी पन्नू ने भी कई ट्वीट्स के जरिए दिखाया था कि कैसे उन्हें ज्यादा पैसे देने पड़ रहे थे. हैरानी इस बात की थी कि तापसी को उस घर का भी बिजली बिल भी देना पड़ रहा था जहां कोई नहीं रहता.

रेणुका और तापसी ने अपने ट्वीट में अडानी इलेक्ट्रिसिटी को टैग किया है. तुषार गांधी ने भी बिजली बिल पर नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए ट्वीट किया है.

# जांच कराई जा रही है

मुंबई में बिजली सप्लाई करने का काम तीन कंपनियां प्रमुखता से करती हैं. अडानी, टाटा और BEST. महावितरण या MSEDCL भी कुछ हिस्सों में बिजली सप्लाई करती है. इन सभी के ग्राहकों में बढ़े हुए बिजली बिल की शिकायत सामने आई है. इस पर सफाई देते हुए अडानी पावर ने कहा,

“COVID-19 की वजह से बिजली के मीटर की घर-घर जाकर रीडिंग लेने का काम मार्च महीने से ही रुका हुआ था. हमने फिर से मीटर रीडिंग शुरू करवाई है. दिसंबर, जनवरी और फरवरी महीनों के हिसाब से औसत बिल एक बार भेजा गया था. जो कि सर्दी का मौसम था. अब अप्रैल, मई और जून का बिल गर्मी के मौसम की वजह से तुलनात्मक रूप से ज़्यादा होता है. साथ ही लॉक डाउन और वर्क फ्रॉम होम की वजह से बिजली की खपत घरों में बढ़ी है. अब ग्राहकों को उनके मीटर रीडिंग के हिसाब से बिजली के बिल भेजे जाएंगे. पुराने बिल MERC गाइडलाइन के हिसाब से जमा होंगे.”

# एनर्जी मिनिस्टर ने क्या कहा?

महाराष्ट्र के स्टेट एनर्जी मिनिस्टर नितिन राउत ने इस मुद्दे पर कहा,

“कोई धोखा नहीं किया गया है. बल्कि MSEDCL को मीटर रीडिंग ना होने की वजह से नुकसान ही हुआ है. लोग अपने बिल की जांच करवा सकते हैं और किश्तों में बिल जमा करा सकते हैं. सरकार की तरफ़ से कोई बिजली कटौती नहीं होगी.”


ये भी देखें:

एनसीपी नेता ने अनुपम-अमिताभ से पूछा, ‘अब तेल नहीं भरवाते या न्यूज पेपर नहीं पढ़ते?’

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर के बाद हुई हिंसा के लिए CBI ने चार्जशीट में किस-किस का नाम जोड़ा है?

एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग को लेकर हिंसा हुई थी.

क्या अरुणाचल में चीन भारतीय सीमा में 50 किलोमीटर तक घुस गया है?

बीजेपी सांसद ने यह दावा किया है.

पतंजलि का कोरोनिल लॉन्च करने वाले डॉक्टर ने दवा की सबसे बड़ी गड़बड़ी बता दी!

मरीज़ों को केवल कोरोनिल नहीं दी गई थी.

पैंगोंग और गलवान के बाद लद्दाख के इन इलाकों में चीन नई मुसीबत खड़ी कर रहा है

भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है.

राजस्थान में महाराणा प्रताप को लेकर फिर से हंगामा क्यों हो रहा है?

फिर से राजस्थान बोर्ड का सिलेबस चर्चा में है.

पतंजलि ने खांसी-सर्दी की दवा के लाइसेंस पर 'कोरोना की दवा' बना दी!

जारी हो गया है नोटिस

जिस वीडियो में भारत-चीन के सैनिक एक-दूसरे पर मुक्के बरसा रहे हैं, उसका सच क्या है?

वीडियो कब का है, कहां का है?

इंग्लैंड टूर से पहले पाकिस्तान के तीन क्रिकेटर कोविड पॉज़िटिव

अहम टूर से पहले पाकिस्तान को लगा झटका.

पटना के बैंक में दिन-दहाड़े 52 लाख रुपए की डकैती

अपराधियों ने बैंक में लगे CCTV की हार्ड डिस्क तोड़ दी.

अब लद्दाख की पैंगोंग झील के पास चीन की हरकत, भारतीय क्षेत्र में बना रहा है बंकर

सैटेलाइट इमेज एक्सपर्ट की बातें यही इशारा कर रही हैं.