Submit your post

Follow Us

आशुतोष गोवारिकर की अगली फिल्म के बारे में जानेंगे तो आपको आपका बुद्ध मिल जाएगा

5
शेयर्स

आशुतोष गोवारिकर बॉलीवुड के उन चुनिंदा डायरेक्टर्स में से हैं, जो इतिहास पर फिल्में बनाना पसंद करते हैं. ‘लगान’, ‘जोधा अकबर’ और ‘मोहन जोदड़ो’ उनकी ऐसी ही फिल्में हैं. 6 दिसंबर को उनकी अगली पीरियड-ड्रामा ‘पानीपत’ रिलीज हो रही है. और रिलीज के पहले ही उन्होंने अगली फिल्म के बारे में सोच लिया है. एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि वो अब ‘गौतम बुद्ध’ के जीवन पर फिल्म बनाना चाहते हैं.

उन्होंने कहा-

मैं इस बार ‘हड़प्पा’ के ऊपर काम करना चाहता हूं. क्योंकि ‘मोहन जोदड़ो’ के बाद ये एक बड़ा विषय बन गया है. ये एक सभ्यता है. मैंने ‘मोहन जोदड़ो’, ‘जोधा अकबर’ और ‘लगान’ के साथ मध्ययुगीन, मुगल भारत और ब्रिटिश युग पर भी मैंने काम किया है. लेकिन मैंने अभी तक प्राचीन भारत पर काम नहीं किया है. मैं प्राचीन भारत की कहानियां पर्दे पर दिखाना चाहते हैं. मैं बुद्ध पर एक फिल्म बनाना चाहता हूं कि किस तरह राजकुमार सिद्धार्थ ‘बुद्ध’ बनने के सफर पर निकल पड़े. ऐसा क्या हुआ जिसने उनके जीवन को पूरी तरह बदल दिया. उन्होंने जीवन से जुड़े उत्तर कैसे पाए.

Ashutosh 2
2004 में आशुतोष गोवारिकर ने शाहरुख खान के साथ फिल्म ‘स्वदेश’ बनाई थी. ये फोटो उसी फिल्म की शूटिंग की है.

उन्होंने कहा कि आज भले ही इंडस्ट्री और देश उन्हें फिल्ममेकर के तौर पर पहचानते हों, लेकिन डायरेक्शन के क्षेत्र में उन्होंने इंडस्ट्री में जीरो लेवल से शुरुआत की है.

उन्होंने कहा-

हर फिल्म को शुरू करने से पहले अलग तरह की चुनौतियां होती हैं. शूटिंग सेट पर पहले दिन मैं डरा हुआ होता हूं. और शूटिंग के बाद में ये सोचकर परेशान होता हूं कि क्या मैंने सीन सही से शूट किया.

बता दें कि आशुतोष गोवारिकर ने बतौर एक्टर इंडस्ट्री में अपने करियर की शुरुआत की थी. उनकी पहली फिल्म 1984 में आई फिल्म ‘होली’ थी, जिसे केतन मेहता ने डायरेक्ट किया था. यहीं वो पहली बार आमिर खान से मिले. आगे चलकर आमिर ने उनकी फिल्म ‘लगान’ में न सिर्फ एक्टर के तौर पर काम किया था. बल्कि फिल्म को प्रोड्यूस भी की थी.


Video : मरजावां कलेक्शन से सिद्धार्थ मल्होत्रा ने नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी की मोतीचूर चकनाचूर को इतने मार्जिन से पछाड़ दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

BHU के मुस्लिम टीचर के पिता ने कहा, 'बेटे को संस्कृत पढ़ाने से अच्छा था, मुर्गे बेचने की दुकान खुलवा देता'

बीएचयू में मुस्लिम टीचर की नियुक्ति पर बवाल!

बरसों से इंडिया का मित्र राष्ट्र रहा नेपाल क्या अब ज़मीन को लेकर कसमसा रहा है?

'कालापानी' को लेकर उत्तराखंड के CM टीएस रावत चिंता में हैं या गुस्से में, कहना मुश्किल है.

सरकार Facebook से यूजर्स की जानकारी मांग रही है

2 साल में तीन गुनी हुई इमरजेंसी रिक्वेस्ट्स की संख्या.

पुनर्विचार की सभी याचिकाएं खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने रफ़ाल को हरी झंडी दी

राहुल गांधी ने पीएम मोदी को रफ़ाल डील में भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए खूब घेरा था.

महाराष्ट्र में नहीं बनी शिवसेना-एनसीपी की सरकार, अब लगेगा राष्ट्रपति शासन

एनसीपी को सरकार बनाने के लिए आज शाम साढ़े आठ बजे तक का समय मिला था.

करतारपुर कॉरिडोर: PM मोदी ने इमरान को शुक्रिया कहा, लेकिन इमरान का जवाब पीएम मोदी को पसंद नहीं आएगा

वहां पर भी कॉरिडोर से ज़्यादा 'विवादित मुद्दे' पर ही बोलता नज़र आया पाकिस्तान.

सुप्रीम कोर्ट का फैसला: विवादित ज़मीन रामलला को, मुस्लिम पक्ष को कहीं और मिलेगी ज़मीन

जानिए, कोर्ट ने अपने फैसले में और क्या-क्या कहा है...

नेहरु से इतना प्यार? मोदी अब बिना कांग्रेस के नेहरू का ख्याल रखेंगे

एक भी कांग्रेस का नेता नहीं. एक भी नहीं.

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की मिस्ट्री पर क्या कहा?

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ