Submit your post

Follow Us

'जस्टिस फॉर अर्जुन मीणा' क्यों ट्रेंड कर रहा है

ट्विटर पर #JusticeforArjunMeena ट्रेंड कर रहा है. लोग लगातार इस हैशटैग का इस्तेमाल करके ट्वीट कर रहे हैं. अर्जुन मीणा नाम के एक व्यक्ति के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं. उनके शव की तस्वीरें भी शेयर की जा रही हैं और CBI जांच की मांग हो रही है.

क्या है पूरा मामला

‘इंडिया टुडे’ से जुड़े आशीष पांडे की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि अर्जुन राजस्थान के सवाई माधोपुर के रहने वाले थे. आंध्र प्रदेश के विजयनगरम के केंद्रीय विद्यालय में पढ़ाते थे. एक कमरा किराए पर लेकर रहते थे. वो यहां परिवार के बिना रहते थे. परिवार वाले सभी राजस्थान में ही रह रहे थे. 5 सितंबर के दिन उनका शव उनके कमरे में फंदे से लटकता मिला. कथित तौर पर सुसाइड का मामला है.

क्या मांग कर रहे हैं लोग

लोगों का कहना है कि मामला सुसाइड का नहीं, बल्कि हत्या का है. ट्राइबल आर्मी ने ट्वीट कर कहा-

“अर्जुन मीणा, सवाई माधोपुर के रहने वाले थे, KVS विजयनगरम में टीचर थे. वो संदिग्ध अवस्था में मृत पाए गए. हम CBI जांच की मांग कर रहे हैं. आंध्र प्रदेश पुलिस इसे सुसाइड के मैटर की तरह दिखा रही है, लेकिन ये मर्डर का मामला लग रहा है.”

Arjun Meena (3)

भीम आर्मी राजस्थान के अध्यक्ष आज़ाद अनिल धेनवाल ने भी ट्वीट किया. कहा-

“मिस्टर जगनमोहन रेड्डी जी, आदिवासी समुदाय का भाई अर्जुन मीणा, जो कि KVS स्कूल में सरकारी टीचर थे, उनका मर्डर करके लटका दिया गया, और आपकी सरकार के कर्मचारी इस केस को सुसाइड कहकर इसे बंद कर रहे हैं.”

Arjun Meena (5)

कांग्रेस विधायक दानसरी अनुसूया ‘सितक्का’ ने भी इस मुद्दे पर ट्वीट किया. कहा-

“इंसाफ के लिए इसे आगे ले जाएं. अगर सुशांत केस की जांच CBI कर सकती है, तो एक आदिवासी टीचर अर्जुन के केस की जांच क्यों नहीं. मैं सीएम वाईएस जगनमोहन रेड्डी और आंध्र प्रदेश पुलिस से अपील करती हूं कि वो छिपे हुए फैक्ट्स बाहर लेकर आएं और इंसाफ करें.”

Arjun Meena (2)

इस तरह के कई सारे ट्वीट किए जा रहे हैं. सुशांत सिंह राजपूत के केस से तुलना हो रही है और इंसाफ की मांग की जा रही है. जो तस्वीरें सामने आई हैं, उनमें अर्जुन के शव से खून निकलता हुआ भी दिख रहा है.

पुलिस क्या कहती है?

मामला 5 सितंबर का है, लेकिन अभी ट्रेंड कर रहा है. सवाल उठा तो विजयनगरम पुलिस को जवाब देने के लिए आगे आना पड़ा. विजयनगरम पुलिस ने लगातार कई सारे ट्वीट किए. एक यूज़र के ट्वीट का जवाब देते हुए कहा-

“आप कैसे कह सकते हैं कि ये साफ तौर पर मर्डर है? उन्होंने अंदर से दरवाज़ा बंद कर रखा था. पुलिस ने दरवाज़ा काटा, उसके बाद कमरे में गई. ज़बरन का वायरल क्रिएट मत करो. अगर आपको कोई शंका है, तो आइए, हम आपको घटनास्थल के कुछ वीडियो दिखाएंगे.”

Arjun Meena (1)

अगले ट्वीट में कहा-

“जांच में ये पाया गया कि सिटकिनी अंदर से बंद थी. मृत व्यक्ति के अलावा और कोई कमरे में नहीं मिला. घटना के वक्त उनका रूममेट भी कमरे के बाहर पाया गया. पुलिस भी दरवाज़ा तोड़कर ही कमरे के अंदर घुस पाई. हालांकि, जांच अभी भी चल रही है.”

Arjun Meena (4)

विजयनगरम की SP (सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस) बी. राजकुमारी ने अर्जुन मीणा के बारे में और जानकारी दी. बताया-

“वो पहले शादीशुदा थे, लेकिन पत्नी की मौत हो गई. परिवार वाले दूसरी शादी के लिए रिश्ता खोज रहे थे. उन्होंने छुट्टी के लिए आवेदन दिया था, और घर जाने वाले थे. लेकिन 5 सितंबर के दिन उनके कलीग और रूममेट ने उनका शव कमरे में लटकता हुआ पाया.”

इसके अलावा पुलिस ने ट्विटर पर कमरे का दरवाज़ा तोड़ने का वीडियो भी पोस्ट किया है.

परिवार का क्या कहना है?

‘दी लल्लनटॉप’ ने अर्जुन के परिवार वालों से कॉन्टैक्ट करने की कोशिश की, लेकिन किसी से बात नहीं हो सकी. फिलहाल इस मामले में पुलिस ने CrPC की धारा 174 (फांसी की वजह से मौत) के तहत केस दर्ज कर लिया है और जांच चल रही है. वहीं आंतों को भी RFSL एग्जामिनेशन के लिए भेज दिया गया है. अभी तक रिपोर्ट नहीं आई है. इसके अलावा पुलिस ने किसी भी तरह के फाउल प्ले होने से इनकार किया है.


वीडियो देखें: महोबा : मौत से पहले वीडियो बनाकर व्यापारी ने जिले के SP पर क्या-क्या आरोप लगाया था?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

संसद सत्र से पहले दो जगह कराई कोरोना जांच, रिपोर्ट देखकर चकरा गए सांसद महोदय

मॉनसून सत्र से पहले हुई जांच में 17 MP कोविड पॉजिटिव मिले हैं.

बिहार: 70 साल के इस शख्स ने दशरथ मांझी जैसा काम कर दिया है

और इस नेक काम में उन्हें 30 साल लगे.

कोरोना से ठीक होने के बाद अगले कुछ दिनों तक क्या करें, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया

प्रोटोकॉल जारी किया है, पढ़ लें.

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन

तीन दिन पहले लालू की पार्टी छोड़ी थी.

दिल्ली दंगा: पुलिस ने कहा-चार्जशीट में योगेंद्र यादव और येचुरी का नाम है पर आरोपी के रूप में नहीं

मीडिया में चल रही खबरों पर दिल्ली पुलिस ने स्थिति स्पष्ट की है.

जो काम खुद बाल ठाकरे करते थे, शिवसेना वालों ने उसी के लिए एक्स नेवी ऑफिसर को पीट दिया!

पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

क्या यूपी में कोविड किट खरीद में घोटाला हुआ है? जांच के लिए SIT बनी

बीजेपी नेताओं ने ही घोटाले का आरोप लगाया है. ताजा मामला सहारनपुर से आया है.

जोकोविच ने अंपायर को गेंद मार घायल किया, उसके बाद जो हुआ वो क्रिकेट फैन्स के लिए सीख है

और इंडिया के बड़े सुपरस्टार्स के लिए भी.

ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती गिरफ्तार, आरोप साबित हुए तो 10 साल कैद हो सकती है

भाई शौविक और सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा पहले ही अरेस्ट हो चुके हैं.

GDP गिरने पर रघुराम राजन ने सरकार को बहुत बड़ी नसीहत दे दी है

किस बात पर रघुराम राजन ने कहा, 'सरकार अपने खोल में चली गयी'