Submit your post

Follow Us

कोरोना से 'मौत' के बाद श्राद्ध की तैयारी कर रहा था परिवार, वापस लौटे बुजुर्ग

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले से एक हैरान कर देने वाली ख़बर सामने आई है. एक बुजुर्ग की कोरोना से मौत हो गई थी और उनके परिवार वालों ने उनका अंतिम संस्कार भी कर दिया था. लेकिन परिवार के सभी लोगों की आंखें उस वक्त खुली रह गई जब वह बुजर्ग अपने श्राद्ध से एक दिन पहले स्वस्थ होकर घर वापस लौट आए.

क्या है पूरा मामला

दरअसल 24 परगना जिले के बिराटी में रहने वाले शिवदास बंदोपाध्याय कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. उन्हें 11 नवंबर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. दो दिन बाद अस्पताल वालों ने उनके निधन की सूचना उनके परिवार वालों को दी. कोरोना प्रोटोकॉल के कारण उनकी बॉडी को प्लास्टिक बैग में पैक किया गया था. दूर से ही उनके परिवार वालों को उनका चेहरा दिखाया गया, जिसे वो ठीक से देख तक नहीं पाए.

शिवदास बंदोपाध्याय के बेटे के मुताबिक़-

“हमने शव का अंतिम संस्कार कर दिया था. हम श्राद्ध की तैयारी कर रहे थे. हमें एक कॉल आया. कहा गया कि आपके पिताजी ठीक हो गए हैं और आप एम्बुलेंस लेकर आइये, उन्हें अस्पताल से ले जाइये. हम हैरान हो गए. हमें नहीं पता हमने किसका अंतिम संस्कार किया था.”

जानकारी के मुताबिक़ एक दूसरे बुजुर्ग मोहिनी मोहन मुखोपाध्याय का निधन 13 नवंबर को कोरोना से हुआ था. उनकी बॉडी ग़लती से शिवदास बंदोपाध्याय के परिजनों को दे दी गई. उन्हीं का अंतिम संस्कार शिवदास के परिवार वालों ने किया था.

ये मामला तब सामने आया जब स्वास्थ विभाग के लोगों ने शिवदास बंदोपाध्याय के घर वालों को उनके स्वस्थ होने की जानकारी दी और उनके परिवार वाले उन्हें लेने अस्पताल पहुंचे. अब इस पूरे मामले की जांच के लिए राज्य स्वास्थ्य विभाग ने एक चार सदस्यीय समिति बनाई है.

मामले पर राजनीति शुरु हो गई है

मामले पर पश्चिम बंगाल बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने राज्य में कम टेस्टिंग का मुद्दा उठाया. घोष ने कहा कि बिहार, यूपी, उड़ीसा जैसे पड़ोसी राज्यों में 1 लाख से ऊपर टेस्ट हो रहे हैं, जबकि बंगाल में सिर्फ़ 45 हज़ार टेस्ट हो रहे हैं. बंगाल सरकार सच्चाई को छिपाना चाहती है. घोष ने कहा कि अगर एक लाख टेस्ट्स होंगे तो 20 हज़ार से ज्यादा केसेज़ आएंगे.


संपत्ति विवाद के केस अब जल्दी सुलझेंगे, सरकार ने किया है इंतजाम

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

एमपी: गायों के संरक्षण के लिए टैक्स लगा सकती है सरकार

एमपी: गायों के संरक्षण के लिए टैक्स लगा सकती है सरकार

गौ कैबिनेट की पहली बैठक में कौन से फैसले हुए?

यूपी: जिस लड़के को रात भर पीटा, सुबह उसी को दामाद बना लिया!

यूपी: जिस लड़के को रात भर पीटा, सुबह उसी को दामाद बना लिया!

देर रात गर्लफ्रेंड से मिलने आया था लड़का.

हाथरस केस: आरोपियों से जुड़ी अब कौन सी नई बात पता चली है?

हाथरस केस: आरोपियों से जुड़ी अब कौन सी नई बात पता चली है?

दलित लड़की के कथित गैंगरेप और हत्या का मामला.

कोर्ट ने भारती सिंह और उनके पति हर्ष को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा

कोर्ट ने भारती सिंह और उनके पति हर्ष को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा

दोनों ने गांजा पीने की बात कबूल कर ली है.

त्रिपुरा: प्रदर्शन के दौरान दो लोग मारे गए, पर विरोध की जड़ क्या है?

त्रिपुरा: प्रदर्शन के दौरान दो लोग मारे गए, पर विरोध की जड़ क्या है?

पुलिस की गोली से एक व्यक्ति की मौत के बाद मैजिस्ट्रेट से जांच के आदेश.

कोरोना के दौर में इतने सीनियर कलाकारों से सरकारी आवास क्यों खाली करा रही है मोदी सरकार?

कोरोना के दौर में इतने सीनियर कलाकारों से सरकारी आवास क्यों खाली करा रही है मोदी सरकार?

RSS से जुड़ा संगठन भी आया कलाकारों के समर्थन में

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गए इस क्रिकेटर के पिता की मौत हो गई, उन्होंने वापस आने से इंकार कर दिया!

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गए इस क्रिकेटर के पिता की मौत हो गई, उन्होंने वापस आने से इंकार कर दिया!

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने इस फैसले का समर्थन किया है.

खबर आई कि आयुर्वेद के डॉक्टर 58 तरह की सर्जरी कर सकेंगे और फिर बवाल हो गया

खबर आई कि आयुर्वेद के डॉक्टर 58 तरह की सर्जरी कर सकेंगे और फिर बवाल हो गया

इंडियन मेडिकल असोसिएशन ने कड़ा विरोध जताया है.

क्या वाकई दूसरे धर्म और जाति में शादी करने पर 50 हजार रुपये देगी उत्तराखंड सरकार?

क्या वाकई दूसरे धर्म और जाति में शादी करने पर 50 हजार रुपये देगी उत्तराखंड सरकार?

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं.

ओडिशा: बीजेपी नेता पांडा और उनकी पत्नी पर किस मामले में गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है?

ओडिशा: बीजेपी नेता पांडा और उनकी पत्नी पर किस मामले में गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है?

अब तो हाईकोर्ट ने ही रास्ता साफ कर दिया है.