Submit your post

Follow Us

UP में टनाटन स्वास्थ्य सुविधाओं का दावा करने वालों को एक बार इस गांव हो आना चाहिए!

उत्तर प्रदेश का बुलंदशहर. शहर से सात किलोमीटर दूर एक गांव पड़ता है. नाम है नैथला हसनपुर. गांव में कोरोना वायरस (Coronavirus) ने कहर बरपा रखा है. पिछले 25 दिन में यहां 22 लोगों की मौत हो चुकी है. इन सभी लोगों में कोविड-19 (Covid-19) के लक्षण देखे गए थे. गांव वाले सकते में हैं, लेकिन जागरूक नहीं. इतनी मौतों के बाद भी गांव के लोग किसी भी तरह के कोरोना प्रोटोकॉल्स का पालन नहीं कर रहे हैं.

आज तक की टीम जब इस गांव पहुंची तो कोरोनाके नियमों के पालन को लेकर गांव वालों में कोई संजीदगी नहीं दिखी. जब लोगों से पूछा गया कि उन्होंने मास्क क्यों नहीं लगाया तो सभी ने अलग-अलग बहाना बताया. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना करने की बात पर भी लोग बगले झांकते नज़र आए.

इस गांव में पशुओं के लिए अस्पताल बनाया जा रहा है. मगर गांव वाले अभी भी प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए तरस रहे हैं.
महामारी के बीच गांव वाले प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए तरस रहे हैं.

कुछ ने कहा कि वो हमेशा मास्क लगाते हैं बस आज भूल गए. 58 साल के एक बुज़ुर्ग ने बताया कि उन्हें दमा की बीमारी है, इसलिए जब भी मास्क लगाते हैं तो सांस लेने में तकलीफ़ होती है. यूं करके वे मास्क लगाते ही नहीं. कोरोना का कहर इस गांव पर है ऐसे में लोगों की ये लापरवाही उन्हीं का नुकसान करती दिखाई दे रही है. ये बात हुई गांव वालों की. अब जानते हैं कि गांव की स्वास्थ्य सुविधाएं कितनी चुस्त हैं.

स्वास्थ्य सुविधाएं न के बराबर

आज तक के रिपोर्टर जितेन्द्र बहादुर सिंह ने गांव के प्रधान प्रियंक कौशिक से बात की. प्रधान ने बताया-

“गांव में स्वास्थ्य सुविधाएं शून्य के बराबर हैं. हॉस्पिटल के नाम पर इस गांव में सिर्फ एक आयुर्वेदिक अस्पताल है. एलोपैथिक डॉक्टरों की कमी है. मेडिकल सुविधाएं न होने के कारण संक्रमित मरीज़ को समय पर इलाज तक नहीं मिल पाता. इलाज न मिलने के कारण ही गांव में अब तक 22 मौतें हो चुकी हैं. गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम कुछ दिन पहले आई थी. उन्होंने जांच भी किया पर अभी तक रिपोर्ट पेंडिंग है.”

पशुओं के लिए बन रहा है अस्पताल

गांव में पशुओं के लिए अस्पताल बनाया जा रहा है. लेकिन ग्रामीण अभी भी प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए तरस रहे हैं. यकीनन पशुओं के लिए भी अस्पताल होने चाहिए. लेकिन सवाल ग्रामीणों का है. कि उन्हें महामारी के बीच सुविधाएं न मिल पाईं तो कब मिलेंगी? रिपोर्ट्स के मुताबिक आयुर्वेदिक अस्पताल में एक महिला एडमिट है. उसे कई दिनों से बुखार आ रहा है. डॉक्टर के मुताबिक उनके प्लेटलेट्स डाउन है. फिलहाल इलाज यहीं पर किया जा रहा है. जब किसी की तबीयत ज़्यादा बिगड़ती है तो उसे शहर ले जाया जाता है.


वीडियो: कोरोना के केस रोज घट रहे हैं, मौतें क्यों बढ़ती जा रही हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.