Submit your post

Follow Us

जन गण मन अधिनायक जय हे, सम्मान नहीं पिटने का भय है

कुछ ही दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने सभी सिनेमाघरों में सभी फिल्मों के पहले राष्ट्रगान बजाने को कहा था. अब ‘केरल अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल’ से पुलिस ने 12 लोगों को गिरफ्तार किया है. ये सभी फेस्टिवल के दौरान राष्ट्रगान पर खड़े नहीं हुए थे. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक इससे एक दिन पहले तमिलनाडु में भी 8 लोगों को भीड़ ने इसी बात पर पीटा था. जिन 8 लोगों को पीटा गया था, पुलिस ने उनके खिलाफ राष्ट्रीय प्रतीकों के अपमान के 1971 एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस का कहना है कि मारपीट करने वालों ने कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए ‘पुलिस को फोर्स किया’ कि वो इन 8 लोगों के खिलाफ मुकदमा दायर करे.

तिरुअनंतपुरम में 12 लोगों के खिलाफ सरकारी आदेश को न मानने के कारण IPC के सेक्शन 188 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. शहर के पुलिस कमिश्नर ने बताया कि फेस्टिवल के आयोजकों ने राष्ट्रीय प्रतीकों के अपमान के लिए कोई मुकदमा दर्ज नहीं कराया है.

केरल के आरोपियों में से एक विनीश कुमार ने कहा कि उन्हें डर था कि अगर वो खड़े रहते तो उनकी कुर्सी पर कोई और बैठ जाता. विनीश ने ये भी कहा कि वो फेस्टिवल में सुबह से कई फिल्में देख चुके थे और हर फिल्म से पहले राष्ट्रगान पर खड़े हुए थे. शाम 6 बजे इजिप्शियन फिल्म ‘क्लैश’ के समय विनीश सहित 12 लोग खड़े नहीं हुए. फेस्टिवल के डायरेक्टर ‘कमल’ ने उन्हें खड़े होने को कहा. वहां मौजूद पुलिस ने इन लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

चेन्नई की घटना में रविवार को 8 लोग तमिल फिल्म ‘चेन्नई 28-II’ के पहले राष्ट्रगान बजने पर खड़े नहीं हुए. 20 लोगों ने इनके साथ मारपीट की.

सोशल वर्कर श्रीला एम के साथ भी वहां मारपीट हुई. श्रीला का कहना है कि ये बात सच है कि वो राष्ट्रगान के दौरान खड़ी नहीं हुईं, वो इस तरह से देशभक्ति का प्रमाण देने में विश्वास नहीं करती हैं. वो एक समाजसेवी हैं और लोगों की भलाई के लिए काम करती हैं. पीटे जाने वाले लोगों में एक कॉलेज लेक्चरर और एक फ्रीलांस लेखक भी हैं. श्रीला ने ये भी कहा कि इंटरवल तक कोई विवाद नहीं था. इंटरवल में एक आदमी ने आकर इन 8 में से एक का कॉलर पकड़ा और पीटना शुरू कर दिया. लगभग 20 लोग उसके साथ आ गए. सिक्योरिटी गार्ड इन 20 लोगों को बाहर ले गए. फिर बाकी 8 लोगों को भी फिल्म छोड़ने को कहा गया. बाहर किए गए 20 लोगों ने वापस आकर इन लोगों को धमकी और गाली देनी शुरू की तो सिनेमा के मैनेजर ने पुलिस को बुला लिया.

वैसे जब कोर्ट ने कोई आदेश दिया है तो असहमति और सहमति से अलग उसका पालन किया जाना चाहिए. मगर जनता के बीच में इस समय जो भ्रम है, उन्हें भी दूर किया जाना चाहिए. लोगों को यह बात स्पष्ट रहे कि राष्ट्रगान के समय खड़े न होने पर किसी को कितने साल या महीनों की जेल होगी या फिर चालान काट कर जुर्माना लगाया जाएगा. साथ ही इस बात की भी जानकारी होनी चाहिए कि थिएटर में मौजूद कोई व्यक्ति राष्ट्रगान पर खड़े न होने वाले को पीटता है, तो उसे राष्ट्रीय प्रतीक के सम्मान की रक्षा करने के लिए इनाम मिलेगा या मारपीट का मुकदमा दर्ज होगा. वैसे हर सिनेमा हॉल में एक पुलिसवाले की तैनाती कर के भी राष्ट्रगान के समय सबका खड़ा रहना सुनिश्चित किया जा सकता है. एक दुविधा और दूर होनी चाहिए कि अगर कोई व्यक्ति राष्ट्रगान के समय थिएटर में न पहुंच पाए तो उसे फिल्म देखने की अनुमति मिलनी चाहिए या नहीं.


हुज़ूर, हम तो खड़े हो जाएंगे, आप भी तो होइए

सिनेमा से पहले राष्ट्रगान बजाने का कॉन्सेप्ट यहां से आया है

अगली बार फिल्म फेस्टिवल में जाना तो आयोडेक्स साथ लेकर जाना

इसने राष्ट्रगान पर कुछ कहा है, मुकदमा किस देश में चलेगा?

राष्ट्रगान पर कोर्ट के फैसले के बाद 7 सवाल

शुक्र मनाओ कि तुमसे सिर्फ राष्ट्रगान गाने के लिए कहा गया है

किसी को हक नहीं जो किसी से पूछे, ‘बता तू कितने परसेंट देशभक्त है’

रघुवीर सहाय, जो पूछते थे राष्ट्रगीत में भारत-भाग्य-विधाता कौन है

‘सिनेमाहॉल में राष्ट्रगान’ जैसे रामबाण से नहीं जगेगी देशभक्ति

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

इस घटना ने दिल्ली के लोगों को हिलाकर रख दिया है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC के IPO में बहुत कुछ बदलने जा रहा है. अगले हफ्ते आ सकता है अपडेटेड प्रॉस्पेक्टस.

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

अभी ये सुविधा कुछ ही बैंको तक सीमित है.

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.