Submit your post

Follow Us

विम्बलडन के फाइनल में पहुंचे जोकोविच, वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने से अब सिर्फ एक मैच दूर हैं

वर्ल्ड नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी और पिछले दो बार के डिफेंडिंग विम्बलडन चैम्पियन नोवाक जोकोविच ने 9 जुलाई की रात एक और विम्बलडन फाइनल में अपनी जगह बना ली. जोकोविच ने कनाडा के डेनिस शापोवालोव को तीन सीधे सेट्स में मात देकर अपने करियर के 30वें ग्रैंड स्लैम फाइनल में जगह बनाई. जोकोविच ने डेनिस को 7-6 (7/3), 7-5, 7-5 से मात देकर टूर्नामेंट से बाहर कर अपने छठे विम्बलडन खिताब की ओर रुख किया.

शुक्रवार को जोकोविच का मुक़ाबला दसवें नंबर के खिलाडी डेनिस शापोवालोव से था जो अपने करियर का मात्र दसवां विम्बलडन मुक़ाबला ही खेल रहे थे. वहीं दूसरी तरफ जोको का यह दसवां विम्बलडन सेमी फाइनल था. हालांकि इतने कम तजुर्बे के बावजूद भी जोको जैसे खिलाड़ी को लगभग तीन घंटे तक मैच में उलझाए रखना अपने आप में ही काबिल-ए-तारीफ है.

#हाल-ए-मैच

मैच की बात करें तो जितनी कड़ी टक्कर डेनिस ने जोकोविच को दी उतनी शायद ही किसी खिलाड़ी ने इस पूरे टूर्नामेंट में जोको को दी हो. बाएं हाथ के शापोवालोव की शुरुआत बेहद शानदार रही. पहले ही सेट से वो जोको को टक्कर देते दिखाई दिए. पहले सेट में मैच 5-5 की बराबरी पर था लेकिन शापोवालोव प्रेशर को हैंडल नहीं कर पाए और डबल फाल्ट कर बैठे. सेट टाई ब्रेकर में चला गया जिसे जोको ने 7-3 से जीत लिया.

दूसरे और तीसरे सेट की कहानी भी लगभग एक जैसी ही रही. 22 वर्षीय शापोवालोव पूरे सेट में अच्छा खेल दिखाया, लेकिन जरूरी मौकों पर आकर गलती कर बैठे. शापोवालोव ने उन मौकों पर गलतियां की, जहां वे पॉइंट जीतकर मैच की तस्वीर बदल सकते थे, लेकिन अपना पहला सेमीफइनल खेलने के दवाब में बिखर गए. फिर भी जोको जैसे दिग्गज के सामने वे तीनो सेट्स में 5-5 गेम जीतने में कामयाब जरूर रहे.

मैच के बाद जोकोविच ने इस 22 वर्षीय खिलाड़ी की तारीफ करते हुए कहा,

‘मुझे नहीं लगता कि स्कोरलाइन को देखते हुए आप इस खिलाड़ी की प्रतिभा का अंदाजा लगा सकते हैं. शापोवालोव ने पहले सेट में कमाल की सर्विस की और मुझे लगता है कि वो मुझसे बेहतर खेले. मैं ताली बजा कर इस खिलाड़ी के खेल की तारीफ करना चाहता हूं. जैसा खेल इस खिलाड़ी ने आज और पिछले दो हफ़्तों में दिखाया है वह तारीफ के काबिल है. मुझे पूरी उम्मीद है कि भविष्य में हम इस खिलाड़ी को और भी अच्छा खेलते हुए देखेंगे.’

 

आपको बता दें कि जोकोविच वर्ल्ड रिकॉर्ड से अब सिर्फ एक मैच दूर हैं. अगर वह यह मैच जीत लेते हैं तो फेडरर और नडाल के 20-20 ग्रैंड स्लैम की बराबरी कर लेंगे. जोको ने कहा,

‘मैं खेल में अपनी पूरी जान झोंक देता हूं और अपनी क्षमताओं का पूरा इस्तेमाल करने की कोशिश करता हूं. बाकी देखते हैं आगे क्या होता है. लेकिन मेरे करियर के ऐसे समय पर ग्रैंड स्लैम जीतना ही मेरे लिए सब कुछ है. मुझे बेहद ख़ुशी है कि मैं उस खेल में एक इतिहास बना रहा हूं जो खेल मुझे जान से भी प्यारा है.

अगर जोकोविच विम्बलडन के साथ-साथ इस साल के अंत में होने वाला यूएस ओपन भी जीत लेते हैं तो वे एक ही साल में चारों ग्रैंड स्लैम (यानी कैलेंडर स्लैम) जीतने वाले दुनिया के तीसरे और ओपन ऐरा के पहले टेनिस खिलाड़ी बन जाएंगे. कहीं अगर जोकोविच इस साल होने वाले ओलंपिक्स में अगर गोल्ड मेडल जीत गए तो गोल्डन स्लैम जीतकर निश्चित तौर पर इतिहास में अमर हो जाएंगे.

फाइनल में जोको का मुक़ाबला इटली के माटेओ बेरेटिनी से होगा. बताते चलें कि बेरेटिनी ने सेमीफइनल में उस खिलाड़ी को हराया है जिसने विम्बलडन के लीजेंड रोजर फेडरर को टूर्नामेंट से बाहर किया था.


ये स्टोरी हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहे प्रवीण नेहरा ने लिखी है.


सौरभ गांगुली के जन्मदिन पर जॉय भट्टाचार्य ने उस राज से पर्दा उठाया जिसकी जानकारी कम लोगों को थी!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कांवड़ यात्रा को उत्तराखंड की 'ना' लेकिन यूपी की 'हां', आखिर होगा क्या?

कोरोना संकट के चलते पिछले साल कांवड़ यात्रा पर ब्रेक लग गया था.

मोदी कैबिनेट फेरबदल: शपथ लेने वाले 43 मंत्रियों के बारे में जानिए

15 कैबिनेट मंत्रियों ने ली शपथ.

कैबिनेट विस्तार से पहले टीम मोदी के 2 कद्दावर मंत्रियों ने भी इस्तीफा दे दिया है

राष्ट्रपति ने 12 मंत्रियों के इस्तीफे मंजूर कर लिए हैं.

दलितों के घर ढहाने और महिलाओं से छेड़खानी के आरोपों पर क्या बोली आजमगढ़ पुलिस?

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने इसे 'पुलिस की गुंडागर्दी' करार दिया है.

मुस्लिम औरतों की बोली लगाने वाली वेबसाइट की लिंक शेयर कर घिरा राइट विंग 'पत्रकार'

बवाल हुआ तो शिकायत करने वाली औरतों को ही कोसने लगे.

नेमावर हत्याकांड: आरोपी सुरेंद्र चौहान की प्रॉपर्टी पर चली जेसीबी, CBI जांच की मांग उठी

कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा नेता होने के चलते सुरेंद्र चौहान को इस मामले में संरक्षण मिला.

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है.

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

चंडीगढ़ और पंचकुला में बवाल.

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

ट्विटर ने क्या वजह बताई?

एक्ट्रेस पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

मामला एक वायरल वीडियो से जुड़ा है.