Submit your post

Follow Us

मोहम्मद सिराज की वजह से क्यों माथा फोड़ने पर उतारू हुए कप्तान कोहली?

DRS. डिसीजन रिव्यू सिस्टम. किसी भी टीम के लिए संजीवनी बूटी है. कोई भी टीम यूं ही बेकार नहीं करना चाहती. ऑस्ट्रेलिया ने एशेज में एक रिव्यू बेवजह लेकर बर्बाद किया था. खामियाजा इतना बड़ा भुगतना पड़ा कि अब टिम पेन फूंक-फूंक कर डीआरएस लेने की सोचेंगे. लेकिन टीम इंडिया और कप्तान कोहली को कौन समझाए. डीआरएस फ्री का मिला है तो आंख बंद करके कभी भी इस्तेमाल कर लो. और अंधेरे में तीर चलाने से भैया निशाना थोड़े ही सटीक लगता है.

भारत और इंग्लैंड के बीच लॉर्ड्स में दूसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा है. भारत की पहली पारी 364 रनों पर सिमटी. इसके बाद भारत के गेंदबाजों ने भी कमाल का काम किया. खासकर मोहम्मद सिराज ने. बेहतरीन गेंदबाजी की. शुरूआती समय में ही लगातार दो गेंदों पर दो विकेट लेकर इंग्लैंड की कमर तोड़ दी. पहले सिब्ली को आउट किया. और अगली गेंद पर हसीब हमीद को क्लीन बोल्ड. कप्तान कोहली अपने गेंदबाज से खूब खुश.

हीरो से बने ‘विलेन’ सिराज

लेकिन कोहली सिराज से ज्यादा देर तक खुश नहीं रह पाए. अब काम ही उन्होंने ऐसा करवाया. जी हां, करवाया. कोहली को हमेशा तेज गेंदबाजों का कप्तान माना गया है. बीते कुछ सालों में उन्होंने अपने तेज गेंदबाजों की बदौलत ही टेस्ट क्रिकेट में कामयाबी हासिल की है. और इस बात की दाद भी देनी पड़ेगी. कोहली हमेशा अपने गेंदबाजों की कहा मानते हैं. और इस मुकाबले में भी कुछ ऐसा ही किया. मगर दांव उल्टा पड़ गया.

टेस्ट के दूसरे दिन लगातार दो गेंदों पर दो विकेट लेने वाले सिराज ने भारत के दो रिव्यू बेकार कर दिये. और उन्होंने रिव्यू लेने पर कोहली को मजबूर किया. इतना मजबूर कि ऋषभ पंत हाथ जोड़कर मना करते रहे. लेकिन कप्तान साब ने उनकी एक न सुनी. मैदान पर ये नजारा फैंस के लिए दिलचस्प था. मगर मैच और भारत के दृष्टिकोण से बेहद ही खराब फैसला.

दो रिव्यू और दोनों बेकार

इंग्लैंड की पारी के 21वें ओवर की बात है. ओवर की आखिरी गेंद. स्ट्राइक पर थे इंग्लिश कप्तान जो रूट. एकदम खूंटा गाड़े हुए थे. इनका विकेट लेना जरूरी था. सिराज की लेंथ गेंद सीधे रूट के पैड पर जाकर लगी. सिराज ने जोरदार अपील की. पंत भी अगर-मगर वाली परिस्थिति में थे. लेकिन कोहली को विकेट की तलाश थी. और उन्होंने ‘लक’ आजमाना चाहा. रिव्यू लेने के बाद पता चला कि गेंद लेग स्टंप को मिस कर रही थी. भारत ने पहला रिव्यू गंवाया. अगला ओवर शमी ने फेंका और फिर सिराज गेंदबाजी के लिए आए.

इस बार ओवर की चौथी गेंद. एक बार फिर सामने जो रूट. गुड लेंथ और रूट आगे खेलने के लिए आए. पैड पर गेंद लगी. इस बार सिराज ने बहुत जोरदार अपील की. मतलब कि कोहली के सामने गिड़गिड़ाने लगे कि रिव्यू ले लीजिये इस बार कप्तान साब. कसम से विकेट मिल ही जाएगा. उधर ऋषभ पंत दौड़े-दौड़े आए. उन्होंने कोहली को मना किया.

कोहली का हाथ पकड़कर रोकना चाहा कि मेरी बात मानिये. रिव्यू मत लीजिये. जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया था. कोहली ठहरे गेंदबाजों के कप्तान. रिव्यू लिया और इस बार भी लेग स्टंप मिसिंग. दो रिव्यू सिराज की वजह से बर्बाद हो गए. यहां कोहली ने कुल्हाड़ी से अपना ही पैर काटने वाला काम किया था. रिव्यू बेकार होने के बाद साफ तौर कोहली के चेहरे पर निराशा झलक रही थी.

DRS के मामले में फ्लॉप हैं कोहली

वैसे, जहां तक रिव्यू की बात है. एक आंकड़ा भी आपको बता ही देते हैं. जिससे आपको भी पता चलेगा कि कोहली सिर्फ टॉस जीतने के मामले में ही नहीं, बल्कि रिव्यू के मामले में भी बदकिस्मत हैं. और डीआरएस के मामले में भी उनका दांव ठीक नहीं बैठता. साल 2021 में भारत ने टेस्ट में फील्डिंग करते हुए कुल 27 बार रिव्यू लिया है. जिसमें से चार मर्तबा ही टीम इंडिया के पक्ष में फैसला गया है. तीन बार अंपायर्स कॉल और 20 बार भारत ने रिव्यू गंवाया है. इस आंकड़ें से DRS के साथ विराट एंड कंपनी का हाल समझ में आता है.


रविंद्र जडेजा ने बल्लेबाजी के मामले में कोहली, रहाणे और पुजारा को पीछे छोड़ दिया! 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.