Submit your post

Follow Us

कांग्रेस प्रवक्ता की दिन-दहाड़े सड़क किनारे गोली मारकर हत्या

5
शेयर्स

हरियाणा कांग्रेस के प्रवक्ता विकास चौधरी की फरीदाबाद में गोली मारकर हत्या कर दी गई. 27 जून की सुबह वो जिम से बाहर आए और अपनी कार में बैठे. वो कार में थे, जब उनपर ये हमला हुआ. हरियाणा कांग्रेस ने एक ट्वीट में CCTV का एक फुटेज शेयर किया है. इसमें एक जगह कई सारी कारें पार्क दिखती हैं. पास में चलती हुई सड़क है. गाड़ियां भी आ-जा रही हैं. एक सफेद रंग की कार किनारे को रुकती है. दो-तीन लोगों को नीचे उतारकर ये कार आगे बढ़ जाती है. उतरे हुए लोग किनारे खड़ी एक कार की तरफ बढ़ते हैं. इनमें से एक आदमी पिस्तौल निकालता है और सामने की तरफ पिस्तौल तानकर गोलियां चलाता है. फिर ये सब भाग जाते हैं. ये विकास चौधरी की हत्या का ही फुटेज बताया जा रहा है. फुटेज में सुबह के 9 बजे का वक़्त दिख रहा है.

ये वारदात फरीदाबाद के सेक्टर 9 की है. पुलिस के मुताबिक, हमलावर एक कार में आए थे. उन्होंने विकास चौधरी पर 10 से ज्यादा गोलियां चलाईं. विकास को बेहद जख़्मी हालत में नजदीकी अस्पताल ले जाया गया. मगर वो बचाए नहीं जा सके.

विकास पहले राष्ट्रीय लोकदल में थे. कुछ ही समय पहले वो कांग्रेस में शामिल हुए थे. उनकी हत्या करने वालों की पहचान नहीं हो पाई है. पुलिस ने कहा है कि वो जांच कर रही है.

कांग्रेस ने विकास की हत्या पर ट्वीट किया है. इसमें लिखा है-

कांग्रेस के एक सदस्य के साथ हुए इस जघन्य अपराध से हम बेहद नाराज़ और दुखी हैं. हम हरियाणा सरकार से अपील करते हैं कि वो दोषियों को जल्द से जल्द पकड़े और इस मामले में इंसाफ़ करे. इस दुख की घड़ी में विकास चौधरी के परिवार के प्रति हमारी संवेदनाएं हैं.

हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर का भी बयान आया है. उन्होंने कहा है-

ये जंगल राज है. कानून का कोई डर ही नहीं बचा हरियाणा में. कल भी ऐसी ही एक वारदात हुई थी. एक महिला शारीरिक शोषण का विरोध कर रही थी. अपराधियों ने उसे चाकू मार दिया. इस मामले की सही से जांच होनी चाहिए.


बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय ने IMC कर्मचारियों से मारपीट क्यों की?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

JNU : जिस समय आइशी घोष को पीटा जा रहा था, उसी वक़्त उन पर FIR हो रही थी

और नक़ाबपोश गुंडों का न कोई नाम, न कोई सुराग

बवाल हुआ तो JNU प्रशासन ने मंत्रालय से कैम्पस को बंद करने की मांग उठा दी

मंत्रालय ने भी ये जवाब दिया.

5 जनवरी की रात तीन बजे तक JNU कैम्पस में क्या-क्या हुआ?

जेएनयू कैम्पस में 5 जनवरी को नकाबपोशों ने स्टूडेंट्स और टीचर्स पर हमला किया.

2015 और इस बार के दिल्ली विधानसभा चुनाव में क्या अंतर है?

चुनाव के नतीजे 11 फरवरी को आएंगे.

JNU छात्रों पर हमले के बाद VC एम जगदीश कुमार क्या बोले?

नकाबपोश गुंडों ने कैंपस में मारपीट की थी.

जानिए, 5 जनवरी की दोपहर और शाम JNU कैंपस में क्या हुआ?

दो-तीन दिनों से कैंपस में तनाव था. अगले सेमेस्टर के रजिस्ट्रेशन पर स्टूडेंट्स में झड़पों की भी ख़बरें आईं थीं.

कोर्ट के आदेश के बाद वो 3 मौके, जब योगी सरकार ने 'दंगाइयों' से जुर्माना नहीं वसूला

और सवाल उठ रहे कि इस बार ही क्यों?

मोदी के जिस ड्रीम प्रोजेक्ट पर सरकार ने करोड़ों खर्च किये वो फ्लॉप हो गया

इसके प्रचार के लिए सरकार ने जगह-जगह बड़े-बड़े होर्डिंग्स लगवाए थे.

नए साल की पहली खुशखबरी आ गई, रेलवे का किराया बढ़ गया

सेकंड क्लास, स्लीपर, फ़र्स्ट क्लास, एसी सबका किराया बढ़ा है रे फैज़ल...

CAA Protest : यूपी पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाने वालों को पुलिस ने क्यों ब्लॉक किया?

यूपी पुलिस की इस कार्रवाई का क्या मतलब है?