Submit your post

Follow Us

'पवित्र रिश्ता' की आई उषा नाडकर्णी ने बताया सुशांत कहां घर खरीदना चाहते थे

सुशांत सिंह राजपूत. अब नहीं रहे. 34 बरस के थे. 14 जून को उन्होंने अपने फ्लैट पर सुसाइड कर लिया. उनके जाने से हर कोई दुखी है. साथ में काम करने वाले एक्टर/एक्ट्रेस सुशांत के साथ के अपने एक्सपीरियंस शेयर कर रहे हैं. ‘पवित्र रिश्ता’ सीरियल में सुशांत के किरदार ‘मानव’ की मां का रोल करने वाली उषा नाडकर्णी भी दुखी हैं. उन्हें सुशांत के जाने पर विश्वास ही नहीं हो रहा.

‘इंडिया टुडे’ से जुड़ी श्रुति बड़जात्या ने उषा से बात की. उन्होंने बातचीत में बताया कि 14 जून (रविवार) की दोपहर उनके हेयर ड्रेसर ने कॉल करके सुशांत के बारे में जानकारी दी. उषा कहती हैं,

“मुझे पहले विश्वास ही नहीं हुआ. सुशांत मुझसे कहते थे कि वो BKC (बांद्रा कुर्ला कांप्लेक्स) में घर खरीदना चाहते हैं. उन्होंने एक बार मुझसे कहा था, ‘मैंने घर देखा है BKC में. मुझे लेना है. ये गाड़ी लेना है’. उनके सपने बड़े थे”.

उषा कहती हैं कि सुशात ने कम समय में और कम संघर्ष में वो सब पा लिया था, जो वो चाहते थे, लेकिन फिर भी उन्होंने ये कदम उठाया. ऐसा क्यों किया समझ नहीं आता.

पहले डायरेक्टर बनना चाहते थे

उषा ने बताया कि ‘पवित्र रिश्ता’ के सेट पर सुशांत अक्सर उनसे बातें करते थे. वो बताती हैं,

‘सुशांत बहुत विनम्र इंसान थे. प्यार से बात करते थे. ऊंची आवाज़ में नहीं बोलते थे. हमेशा बड़ा करने की बात कहते थे. पहले डायरेक्टर बनना चाहते थे. सेट पर डायरेक्शन से जुड़ी किताब लेकर आते थे, उसे पढ़ते रहते थे. उन्होंने जब बताया कि डायरेक्टर बनना चाहते हैं, तो मैंने मज़ाक में कहा था कि जब वो डायरेक्टर बनेंगे, तो मुझे अपनी फिल्म में मां के रोल में कास्ट करना. बाद में बॉलीवुड के एक्टर बने. बहुत बुरा लग रहा है कि वो चला गया. दुख हो रहा है.’

मां-बेटे जैसा रिश्ता था

उषा बताती हैं कि सुशांत उन्हें ‘आई’ कहकर बुलाते थे. दोनों का रिश्ता मां-बेटे जैसा था. वो कहती हैं,

‘अंकिता थोड़ी मूडी थीं, लेकिन सुशांत हमेशा मेरे पास बैठते थे. घर की बातें शेयर करते थे. वो हमेशा कहते थे कि घर पर कुछ बनाओ न और सबके लिए लेकर आओ. लेकिन ऐसा कभी नहीं हुआ. क्योंकि मेरे पास वक्त ही नहीं था.’

सुशांत के पिता के बारे में बात करते हुए उषा इमोशनल हो गईं. उन्होंने कहा,

‘बेटे को अपने बाप का करना चाहिए. (यहां अंतिम संस्कार की बात हो रही है). बाप को अपने बेटे का करना पड़ रहा है, इसका बुरा लग रहा है.’

इसके अलावा वो कहती हैं कि अगर कोई बड़ा समझदार व्यक्ति सुशांत के पास होता, और ये बताता कि क्या सही है क्या गलत है, तो अच्छा होता.

‘पवित्र रिश्ता’ को सुशांत ने कई साल पहले ही छोड़ दिया था. उसके बाद उषा के साथ उनका ज्यादा संपर्क नहीं रहा. ये सीरियल 1 जून 2009 को ऑन एयर हुआ था. अभी कुछ दिन पहले ही इसके 11 साल पूरे हुए थे. उषा ने बताया कि 11 बरस होने पर अंकिता लोखंडे ने एक वॉट्सऐप ग्रुप बनाया था, ‘पवित्र रिश्ता 11 ईयर्स’ नाम से. इसमें सुशांत को छोड़कर हर किसी को शामिल किया था. ग्रुप पर हर किसी ने सुशांत को जोड़ने का सुझाव दिया था, लेकिन उन्हें ऐड नहीं किया गया.


वीडियो देखें: सोनू सूद और शाहरुख खान ने सुशांत सिंह को याद करते हुए क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सुशांत के साथ काम कर चुके मनोज बाजपेयी, राजकुमार राव और अनुष्का शर्मा ने क्या कहा?

सुशांत ने 11 फिल्मों में काम किया था.

सुशांत के सुसाइड से जुड़ी शुरुआती डिटेल्स आ गई हैं, सुबह 10 बजे तक सब ठीक था

किसे कॉल किया था? घर में कितने लोग थे? वगैरह.

कभी फिल्मी सितारों के पीछे नाचते थे सुशांत, फिर एकता कपूर ने कहा- मैं तुझे स्टार बनाऊंगी

सुशांत सिंह राजपूत ने फिल्मों से पहले छोटे पर्दे पर काम किया था.

मुम्बई से लेकर सुशांत के पटना वाले घर तक हर तरफ भयानक सदमा है

सुशांत के पिता पटना में रहते हैं. सदमे में चले गए हैं.

13 जून की रात सुशांत के दोस्त उनके साथ उनके घर पर रुके थे

14 जून की सुबह जब कई बार बुलाने पर भी दरवाज़ा नहीं खुला, तो शक हुआ.

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या पर पीएम मोदी समेत राजनीति से जुड़े लोग क्या बोले?

कम उम्र में सुसाइड को लेकर तमाम लोग चौंक रहे हैं.

सुशांत सिंह राजपूत ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या की

हाल ही में उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान ने भी सुसाइड किया था.

कोरोना टेस्टिंग पर यूपी सरकार को घेरने वाले पूर्व IAS की पूरी कहानी जानिए!

सूर्यप्रताप सिंह, जिन पर FIR दर्ज हुई.

ज्योतिरादित्य सिंधिया की दूसरी कोरोना जांच रिपोर्ट में क्या निकला?

पिछले दिनों सिंधिया और उनकी मां को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था.

WHO ने कोरोना पर राहत देने वाली बात की तो दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने कहा, “अरी मोरी मईया!”

पलटकर WHO से ही सबूत मांग रहे हैं लोग.