Submit your post

Follow Us

चुनावों की गहमागहमी में बीजेपी नेता के परिवार की पांच हत्याओं से पूरा महाराष्ट्र दहल उठा

महाराष्ट्र में चुनाव हैं. अब जब पूरा राज्य इलेक्शन मोड पर चला गया है एक वारदात ने खलबली मचा दी है. लोग पुलिस प्रशासन की कार्यकुशलता पर सवाल उठा रहे हैं.

# हुआ क्या

महाराष्ट्र के जलगांव जिले के भुसावल शहर में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नगर सेवक रविंद्र खरात के परिवार पर अज्ञात व्यक्तियों ने गोलीबारी की और चाकू से हमला किया. इस हमले में खरात, उनके दोनों बेटों, उनके भाई और उनके दोस्त की जान चली गई. जबकि खरात की पत्नी घायल हैं. इस घटना के बाद पूरे भुसावल शहर में हड़कंप मचा हुआ है.

घटना रविवार रात करीब 9 बजे की बताई जा रही है. रविंद्र खरात भुसावल शहर स्थित समता नगर परिसर में अपने घर के बाहर बैठे थे तभी दो लोगों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी. इस हमले के चलते उनकी मौत हो गई.

गोलीबारी की आवाज सुनकर उनके भाई सुनील बाबू राव खरात बाहर आए. हमलावरों ने उन पर भी गोली चला दी. सुनील खरात जान बचाने के लिए बगल वाले घर में घुस गए, वहां पर भी हमलावर उनका पीछा करते हुए पहुंच गए. वहां उनपर भी हमला हुआ. उनकी भी वहीं पर मौत हो गई. हमलावरों ने बाद में रविंद्र खरात के दोनों बेटों रोहित और प्रेम सागर के साथ उनके एक दोस्त पर भी चाकू से हमला किया. हमला करने के बाद बदमाश फरार हो गए. हमले में दो लोगों की तो तत्काल घटनास्थल पर ही मौत हो गई.

बाद में तीनों घायलों को जलगांव सिविल अस्पताल में एडमिट कराने ले जाया गया, लेकिन उनकी रास्ते में ही मौत हो चुकी थी.

इस घटना में रविंद्र की पत्नी भी घायल हुई हैं. फ़िलहाल उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है. बताया जा रहा है कि इस घटना के आधे घंटे के बाद जलगांव के पुलिस विभाग ने 3 लोगों को हिरासत में लिया है.

# पुलिस क्या कह रही है

पुलिस सूत्र बता रहे हैं कि आपसी रंजिश का मामला है. पुलिस अधीक्षक पंजाबराव उगले ने कहा कि इस घटना के बाद भुसावल शहर में माहौल तनावपूर्ण है. पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है.


ये भी देखें:

पहली कॉरपोरेट ट्रेन IRCTC तेजस एक्सप्रेस के किराए की ये खासियत भी है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

20 अप्रैल से कौन-कौन से लोग अपना काम-धंधा शुरू कर सकते हैं?

और खाने-पीने के सामान को लेकर सरकार ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच ज़रूरी सामान भेजना है? बस एक कॉल पर हो जाएगा काम

रेलवे अधिकारियों ने शुरू की है 'सेतु' सर्विस.

सड़क पर मजदूरों संग खाना खाने वाले अर्थशास्त्री ने सरकार को कमाल का फॉर्मूला सुझाया है

कोरोना और लॉकडाउन ने मजदूर को कहीं का नहीं छोड़ा.

सरकार की नई गाइडलाइंस, जानिए किन इलाकों में, किन लोगों को लॉकडाउन से छूट

कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन पहले ही बढ़ाया जा चुका है.

टेस्टिंग किट की बात पर राहुल गांधी ने भारत की तुलना किन देशों से की?

कहा, 'हम पूरे खेल में कहीं नहीं हैं.'

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

और अभी तक भारत में नहीं शुरू हो पाई मास टेस्टिंग.

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा पीएम ने क्या-क्या कहा?

15 अप्रैल को लॉकडाउन-2 की जो गाइडलाइंस आनी हैं, उनमें क्या-क्या हो सकता है

पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ चुका है.

सुप्रीम कोर्ट ने बता दिया है कि किन लोगों का कोरोना वायरस टेस्ट फ्री में होगा

प्राइवेट लैब भी नहीं ले सकेंगे इनसे पैसा.

PM CARES Fund पर लगातार उठ रहे सवाल, अब हिसाब-किताब की होगी जांच

वकील ने PM Cares फंड को रद्द करने की मांग की है.