Submit your post

Follow Us

2 इंडियंस की लाश PAK में कर रही हैं अपनों का इंतजार

4
शेयर्स

सरबजीत याद हैं आपको? पाकिस्तानी जेल में कैद थे. साथ के कैदियों ने हमला किया. अस्पताल में एडमिट हुए. दोनों मुल्कों में खूब खबरें चलीं. दुआएं हुईं. लेकिन सरबजीत मर गए. इंडियन कैदी थे, तो कई दिन चर्चों में रहें. सरबजीत की लाश इंडिया को सौंप दी गई. ये बात हुई सरबजीत की. लेकिन दो ऐसे भी इंडियंस हैं, जिनकी पाकिस्तान की कैद में मौत हो गई. और आज तक दोनों मुल्कों में से किसी को फिक्र नहीं है कि उनकी खबर ले लें.

अब इससे बड़ी दुखद बात ये है कि दोनों इंडियंस की मौत को दो महीने हो चुके हैं. लेकिन अब तक लाश वहीं है. पाकिस्तान की नेक ऑर्गेनाइजेशन एधी फाउंडेशन के मुर्दाघर में दोनों इंडियंस की लाश रखी हुई है. ताकि कभी कोई उनका अपना हो तो लाश ले जा सके. अंतिम संस्कार कर सके. पर यहां जिंदा में लोगों की खबर नहीं रहती, मरने की बात तो छोड़ो. वो भी तब जब ये बात इंडिया और पाकिस्तान की हो रही हो.

दोनों कैदियों के नाम हैं अबू बकर और वागा चौहान. अबु बकर ने 17 नवंबर 2015 और वागा चौहान ने 22 दिसंबर 2015 को आखिरी सांस ली. वागा चौहान गुजरात के रहने वाले थे. मछुआरे थे तो समंदर में मछली की तलाश में निकले थे. पर पाकिस्तानी फौज ने पकड़ लिया. अरेस्ट किया. जेल में डाला. फिर वतन बदलने के साथ सेहत भी बदली. बीमार हुए तो कराची के अस्पताल में एडमिट कराए गए. पर नहीं बचे.

एधी फाउंडेशन का क्या है कहना?
एधी फाउंडेशन के अनवर काजमी के मुताबिक, दोनों इंडियंस की लाश एधी फाउंडेशन के मुर्दाघर में है. इस बारे में पाकिस्तानी प्रांत सिंध के होम डिपार्टमेंट और मालिर जेल के सुप्रीटेंडेंट को भी खत लिखा, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला.

पहले भी हुए हैं सितम?
द इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, भीखा एल शिवाल, रामजीभाई वाला, दादूभाई माकवाना और किशोर भगवान जैसे कई मछुआरे थे. जिनकी मौत के महीनों बाद उनकी लाश वतन लौट पाई.

पाकिस्तान में नेकी का सबसे बड़ा मसीहा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

जानिए श्रीलंका के नए राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे और LTTE में क्या कनेक्शन है?

माना जाता है कि राजपक्षे का झुकाव चीन की तरफ है.

अर्धशतक पूरा करने के बाद कोहली बनने की कोशिश कर रहे थे पृथ्वी शॉ, ट्रोल हो गए

आठ महीने बाद मैदान पर वापसी की थी.

अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला मंजूर नहीं, रिव्यू पिटिशन दायर करेगा AIMPLB

मस्जिद के बदले दूसरी जगह पर दी जाने वाली 5 एकड़ जमीन भी लेने से इंकार.

ज़मीन पर पड़े घायल किसान और सबस्टेशन में लगी आग के बीच उन्नाव ज़मीन का पूरा मामला समझिए

16 नवंबर को शुरू हुए इस प्रदर्शन की चिंगारी शांत नहीं हो पाई है.

क्या अगले साल मार्च तक देश की दूसरी सबसे बड़ी तेल और गैस कंपनी को बेच देगी सरकार?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण तो यही कह रही हैं.

जाली फांदकर दौड़ते हुए क्रीज तक पहुंचा कोहली का फैन, फिर विराट ने जो किया वो जानने लायक है

फैन के शरीर पर जगह-जगह V.K. लिखा हुआ था.

महिला के साथ घर में आपत्तिजनक हालत में दिखा दरोगा, गांववालों ने पकड़ कर कूट दिया

रात भर बंधक बनाए रखा, छुड़वाने आए डीएसपी के पसीने छूटे.

दलित को खंभे से बांधकर पीटा, पानी मांगा तो पेशाब पिलाया, जान बचाने के लिए पैर काटना पड़ा लेकिन जान नहीं बची

दरिदों ने बदला लेने के लिए पिलास से जांघ का मांस और नाखून तक नोंच डाले.

DDCA अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने वाले रजत शर्मा सौरव गांगुली से क्या चाहते हैं?

साल 2018 में जुलाई के महीने में रजत शर्मा को डीडीसीए का अध्यक्ष चुना गया था.

रायबरेली से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह किस कांग्रेसी से शादी करने जा रही हैं?

राहुल गांधी के साथ शादी की अफवाह उड़ी थी. जिसे उन्होंने खारिज कर दिया था.